नक्षत्र Shravana

banner

श्रवण नक्षत्र

पुरुषों का व्यक्तित्व

श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाले पुरुष जातकों पर चंद्रमा का प्रबल प्रभाव होता है। इसलिए ये लोग स्वभाव से काफी मृदुभाषी के होते हैं। इन्हाेंने अपने जीवन में जो मूल्य स्थापित किए हैं, उन पर अडिग रहते हैं। किसी के भी कहने के बावजूद अपने मूल्यों को नहीं बदलते हैं और न ही उनकी अनदेखी करते हैं। श्रवण नक्षत्र में पैदा हुए पुरुष जातक कई मायनों में अन्य पुरुषों से अलग होते हैं। ये लोग अपने आस-पास साफ-सफाई रखना पसंद करते हैं। यह विशेषता इन्हें बेहतर सोचने और अपने लिए बेहतर निर्णय लेने में मदद करती है। कई अन्य लोगों के विपरीत, श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाला पुरुष भी दूसरों के लिए बहुत मददगार होता है और जब यह किसी की मदद कर रहे होते हैं तो यह वास्तव में उनसे किी भी तरह की उम्मीद नहीं करते हैं। जातक ईश्वर और उसकी इच्छा पर भी बहुत विश्वास करते हैं।

पुरुषों का करियर

श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाला जातक 30 वर्ष की आयु तक कई जीवन परिवर्तनों से गुजरता है। इसलिए, नियमित रूप से नई चीजों को आजमाने की इनकी इच्छा के कारण, इस उम्र तक इनके पास एक स्थिर पेशा नहीं होता है। व्यवसाय के अनुसार, श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाले जातकों के लिए सर्वोत्तम समय अवधि 30 के बाद शुरू होती है और 45 वर्ष की आयु तक चलती है। यह जातक के लिए एक स्थिर अवधि होगी जिसमें यह तकनीकी या किसी भी प्रकार के निर्यात और आयात व्यवसाय से संबंधित व्यवसायों को आजमा सकते हैं। जब काम की बात आती है, तो ये लोग इसमें इतने व्यस्त हो जाते हैं कि ये अक्सर भूल जाते हैं कि इनका एक परिवार है जिसके साथ उन्हें रहने की आवश्यकता है।

पुरुषों की अनुकूलता

अगर इस नक्षत्र के पुरुष अपने कामकाजी और निजी जीवन को अच्छी तरह संतुलित कर सकें, तो इनका वैवाहिक जीवन खुशहाल हौर सुखी बीतेगा। अपनी पत्नी को आमतौर पर यह अपना दयालु स्वभाव नहीं दिखाते है, जिस वजह से अकसर इनकी पत्नी इनसे नाराज या नाखुश रहती है। हालांकि, श्रवण नक्षत्र में पैदा हुए लोगों को सावधान चापलूस किस्म के लाेगों से दूर रहने की जरूरत है। एक समयावधि के बाद ये जातक स्वयं महिलाओं को अपनी ओर आकर्षित करने लगेंगे।

स्वास्थ्य पुरुष

स्वास्थ्य की बात करें तो श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाले व्यक्ति को कान में तकलीफ की शिकायत हो सकती है। आपको अपनी त्वचा की विशेष देखभाल करने की आवश्यकता है क्योंकि आप त्वचा रोग से ग्रस्त हैं और आपके पाचन तंत्र में समस्याएं हैं।

महिलाओं का व्यक्तित्व

श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाली महिलाएं परोपकारी स्वभाव की होती हैं और हर तरह से समाज के लोगों की मदद करने के लिए अग्रसर रहती हैं। इन महिलाओं के मन में जरूरतमंदों के लिए दया है और वह दूसरों को दर्द में नहीं देख सकती हैं। हालांकि, इन महिलाओं को दिखावे की आदत भी हो सकती है और वह यह सुनिश्चित करती हैं कि वह जो कुछ भी अच्छा करती हैं, उस पर जनता का ध्यान जाए। एक तरह से यह गुण बुरा नहीं है क्योंकि यह दूसरों को अच्छा करने के लिए प्रेरित करती है। श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाली महिलाएं हालांकि बहुत बातूनी होती हैं, लेकिन सीक्रेट बातों को किसी के साथ भी शेयर नहीं करती हैं। इन पर आप आंख मूंदकर अपनी मन की बात शेयर कर सकते हैं। ये महिलाएं कुछ भी छुपा सकती हैं, खासकर अपने पति से। हालांकि इनकी ये आदत बुरी है, जिससे इनके पति इनसे नाराज रहते हैं और यहां तक कि कई बार पति-पत्नी के बीच मनमुटाव भी हो जाता है।

महिलाओं का करियर

श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाली महिला को जीवन में अन्य काम करने में रुचि होने के कारण शिक्षा प्राप्त करने में मुश्किलें आती हैं। जब पेशे की बात आती है, इन महिलाओं को वही करना अच्छा लगता है, जिसे वे स्वयं पसंद करती हैं। अपने द्वारा चुने गए कार्य क्षेत्रों में ये महिलाएं सफल भी होती हैं और बहुत अच्छा प्रदर्शन भी करती हैं। श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाली महिलाओं का 26 साल की उम्र के बाद अच्छा करियर होता है। वह ललित कलाओं की बहुत अच्छी प्रतिपादक हो सकती हैं और विशेष रूप से एक बहुत अच्छी नर्तकी बन सकती हैं।

महिलाओं की अनुकूलता

पारिवारिक जीवन की बात करें तो श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाली महिला सभी को खुश और संतुष्ट रखने में सक्षम होती है। चूंकि ये महिलाएं पर्फेक्शनिस्ट की तरह काम करती हैं, इसलिए वे किसी को ताना मारने का कारण देना पसंद नहीं करती हैं। साथ ही ये महिलाओं दूसरों से भी पर्फेक्ट होने की उम्मीद करती है, जो कि उन्हें निराश करती है। हालांकि ये महिलाएं अपने पति से ऐसा होने की कामना नहीं करतीं। वह अपने पति से बहुत प्यार करती हैं, उसकी बहुत देखभाल करती हैं। इस प्रकार वह बेहद संतुष्ट वैवाहिक जीवन व्यतीत करती हैं।

महिलाओं का स्वास्थ्य

स्वास्थ्य की दृष्टि से श्रवण नक्षत्र में जन्म लेने वाले पुरुष जातकों की तरह ही स्त्री जातकों को भी अपने जीवन के प्रारंभिक चरण में किसी स्किन प्रॉब्लम का सामना करना पड़ सकता है। महिला तपेदिक की चपेट में भी आ सकती है।

श्रवण नक्षत्र के विभिन्न चरण
प्रथम चरण

इस चरण में जन्म लेने वाले जातक तार्किक बुद्धि के होते हैं और स्वभाव से बहुत महत्वाकांक्षी भी होते हैं। वास्तव में, ये जातक करियर के प्रति भी बहुत जागरूक होते हैं और जब चीजें उनकी योजना के अनुसार नहीं होती हैं तो वे जल्दी निराश हो जाते हैं।

द्वितीय चरण

श्रवण नक्षत्र के दूसरे चरण में जन्म लेने वाले लोग बुद्धिमान, मृदुभाषी और बहुत कूटनीतिक होते हैं। वे बहुत काम से प्रेरित हैं और बीच में कोई काम नहीं छोड़ते हैं।

तृतीय चरण

श्रवण नक्षत्र के तीसरे चरण में जन्म लेने वाले जातक थोड़े चालाक होते हैं। उनमें मीडिया और संचार क्षेत्रों से संबंधित नौकरियों में सीखने और अच्छा प्रदर्शन करने की इच्छा भी होती है।

चतुर्थ चरण

श्रवण नक्षत्र के चौथे चरण में जन्म लेने वाले जातक बहुत ही सहानुभूतिपूर्ण और समझदार इंसान होते हैं। साथ ही ये लोगों से मिलना-जुलना पसंद करते हैं और बहुत खुले विचारों वाले होते हैं। हालांकि, ये बदलाव को लेकर ये सहज नहीं होते हैं।

कॉपीराइट 2022 कोडयति सॉफ्टवेयर सॉल्यूशंस प्राइवेट. लिमिटेड. सर्वाधिकार सुरक्षित