नक्षत्र उत्तरभाद्रपद

banner

उत्तर भाद्रपद नक्षत्र

पुरुषों का व्यक्तित्व

इस नक्षत्र के पुरुष किसी भी निर्णय या पूर्वाग्रह से मुक्त होते हैं। इनके संबंध उच्च वर्ग या निम्न वर्ग, तरह के लोगों के साथ होते हैं। इन्हें अपनी समस्या से दूसरों को परेशान करना पसंद नहीं है बल्कि ये लोग अपनी समस्याओं का खुद समाधान निकालते हैं। ये लोग बहुत साफ दिल के होते हैं और जिन्हें प्यार करते हैं, उनके लिए कुछ भी कर गुजरने के लिए तैयार रहते हैं। हालांकि इनक एंगर मैनेजमेंट बहुत खराब है। इन्हें बहुत जल्दी गुस्सा आ जाता है। ऐसा माना जाता है कि जरा सी बात पर ही ये लोग भड़क जाते हैं। हालांकि इनकी अच्छी बात ये है कि ये लोग जल्दी अपना आपा खो देते हैं और किसी के प्रति अपने मन में गिले शिकवे नहीं रखते हैं। उत्तर भाद्रपद नक्षत्र में जन्मे पुरुष बुद्धिमान होते हैं। ये लोग अपनी बुद्धिमानी के चलते अच्छे वक्ता साबित हो सकते हैं। अपने लक्ष्य तक पहुंचने के लिए ये लोग हर तरह की बाधा को दूर करने में सक्षम होते हैं। इसके अलावा, ये लोग ज्यादातर कामुक होते हैं और हमेशा अपने साथ विपरीत लिंग के साथी को रखना चाहेंगे।

पुरुषों का करियर

यहां तक कि अगर इस नक्षत्र के पुरुषों को उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं होती है तो ये लोग कई पाठ्येतर गतिविधियों में शामिल होंगे, जिसके माध्यम से वे कई व्यावहारिक कौशल सीखेंगे। शैक्षणिक योग्यता की दृष्टि से इनकी रुचि ललित कलाओं की ओर अधिक होगी। वे बहुत महत्वाकांक्षी लोग हैं और किसी भी प्रतिस्पर्धी परिदृश्य में शीर्ष स्थान प्राप्त करेंगे क्योंकि वे स्व-शिक्षा को शिक्षा का सबसे अच्छा रूप मानते हैं। इन पुरुषों को 42 साल की उम्र के बाद घर बसाने से पहले अपने करियर के मामले में थोड़ा संघर्ष करना होगा।

पुरुषों की अनुकूलता

इस नक्षत्र के पुरुषों को अपने बचपन के दौरान कई कठिनाइयों से गुजरना पड़ सकता है, क्योंकि हो सकता है कि उन्हें एक बच्चे के रूप में उपेक्षित किया गया हो और उन्हें अपने शुरुआती वर्षों का अधिकांश समय घर से दूर बिताना पड़ा हो। हालांकि इन्हें अपने पैरेंट्स से बहुत प्यार है, इसके बावजूद इन्हें अपने पैरेंट्स से उतना प्यार या सहयोग नहीं मिलेगा, जितने की वे अपेक्षा करेंगे। लेकिन उनकी शादी के बाद, उनकी पूरी जिंदगी बदल जाएगी। उन्हें एक ऐसा जीवनसाथी मिलेगा, जो सुंदर, प्रतिभाशाली, विनम्र और अपने पति के प्रति बहुत प्यार करने वाली होगी। उनके बहुत प्यारे और प्रतिभाशाली बच्चे और शुरू में प्यार करने वाले पोते भी होंगे। शादी के बाद इनकी जिंदगी खुशहाल हो जाएगी।

पुरुषों का स्वास्थ्य

भले ही वे अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान न रखें, इस नक्षत्र के पुरुष स्वस्थ जीवन जीते हैं। ये अनुशासित और सक्रिय जिंदगी जीना पसंद करते हैं। इस वजह से उन्हें अपने स्वास्थ्य के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं है। जिंदगी का ज्यादातर हिस्सा ये लेाग रोगमुक्त जीवन जिंएगे। हालांकि कुछ बीमारियां इन्हें भी अपनी चपेट में ले सकती हैं जैसे हर्निया, बवासीर, पैरालिसिस अटैक और पेट की समस्या।

महिलाओं का व्यक्तित्व

इस नक्षत्र की महिलाओं को घर की लक्ष्मी के रूप में देखा जाता है, क्योंकि ये जहां भी जाती हैं, ये भाग्य और धन लाती हैं। इनका व्यक्तित्व भी देवी के समान विनम्र और दयालु होता है। ये महिलाएं अपने माता-पिता और बड़ों का सम्मान करती हैं। ये महिलाएं अपने घर की बड़े से बड़ी समस्या से समाधान खोज लेती हैं। ये परिवार के सामंजस्य को बनाए रखने में उत्कृष्ट होती हैं। इसलिए इस नक्षत्र की महिलाएं बहुत अच्छी गृहिणी होती हैं। ये महिलाएं हर स्थिति को संभाले में सक्षम होती हैं, इसलिए जो भी व्यक्ति इनके साथ जुड़ेगा, उन्हें खुशहाल जीवन जीने का मौका मिलेगा। इनसे कभी भी लोगों को शिकायत का मौका नहीं मिलेगा। यही नहीं, ये महिलाएं बहादुर और साहसी भी होती हैं। इनकी नजर में जो सही और उचित हो, उसके लिए डटकर खड़ी रहती हैं।

महिलाओं का करियर

जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है, इस नक्षत्र की महिलाएं जहां भी जाती हैं, वहां भाग्य लाती हैं। साथ ही धन कमाने के मामले में इनका भाग्य चरम पर होता है। ये जो भी काम करने का फैसला करेंगी, इनका करियर फल-फूलेगा और इससे ये अमीर बनेंगी। इनके बारे में ध्यान देने वाली एक और बात यह है कि ये सभी के साथ बहुत आसानी से घुलमिल जाती हैं। इसलिए अपने वरिष्ठों से उनकी कड़ी मेहनत के लिए प्रशंसा प्राप्त करने के साथ-साथ ये अपने सहयोगियों के बीच भी काफी लोकप्रिय होंगी। हालांकि इन्हें अपने पेशे के कारण बहुत यात्रा करनी पड़ सकती है, जो इन्हें बहुत पसंद नहीं है।

महिलाओं की अनुकूलता

उत्तर भाद्रपद नक्षत्र की महिलाएं महत्वाकांक्षी होती हैं और जो कुछ भी करती हैं उसमें उत्कृष्टता हासिल करती हैं। इससे ये अपने माता-पिता और रिश्तेदारों को बेहद गौरवान्वित करेंगी। मेहनती स्वभाव के कारण ये अपने परिवार का नाम रोशन करेंगी। इन्हें शादी के बाद कभी भी आर्थिक समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा, इनके अच्छे भाग्य के कारण इनका परिवार हमेशा समृद्ध रहेगा।

महिलाओं का स्वास्थ्य

इस नक्षत्र की महिलाओं को किसी बड़ी स्वास्थ्य समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। शरीर के कुछ हिस्सो में कुछ समस्याएं हो सकती हैं जैसे जोड़ों में दर्द या हड्डियों में दर्द, मासिक धर्म में ऐंठन या पाचन संबंधी समस्याएं।

प्रथम चरण

सूर्य का प्रभुत्व और सिंह नवांश में पड़ना, यहां मुख्य चिंता अनुभव से प्राप्त ज्ञान को साझा करना है। इन लोगों में नेतृत्व की ऊर्जा होती है और ये जातक बहुत ही जानकार और लक्ष्य-उन्मुख होते हैं।

द्वितीय चरण

इस नक्षत्र के दूसरे चरण में बुध का प्रभुत्व है और ये कन्या नवांश में स्थित हैं. इस श्रेणी की चिंता परदे के पीछे का काम कर रही है। योजना बनाने और उसके अनुसार व्यवस्थित करने पर ध्यान दिया जाएगा।

तृतीय चरण

इस नक्षत्र के तीसरे चरण में शुक्र का प्रभुत्व है और यह तुला नवांश में स्थित है। मुख्य चिंता सब कुछ नियंत्रण में और संतुलन में रखना होगा। इस श्रेणी के लोग उद्देश्य की ओर अधिक आकर्षित होंगे।

चतुर्थ चरण

मंगल के प्रभुत्व और वृश्चिक नवांश में पड़ने के कारण, इस चरण का ध्यान अज्ञात में उद्यम करना होगा। वे गूढ़ विद्या का अध्ययन करना चाहेंगे, जिससे वे ज्ञान प्राप्त करेंगे।

कॉपीराइट 2022 कोडयति सॉफ्टवेयर सॉल्यूशंस प्राइवेट. लिमिटेड. सर्वाधिकार सुरक्षित