सूर्य गोचर 2023

banner

सूर्य गोचर 2023 तिथि, समय और भविष्यवाणियां

वैदिक ज्योतिष में सूर्य को मनुष्य की आत्मा के रूप में वर्णित किया गया है। सूर्य की किरणें सब कुछ प्रभावित करती हैं। सूर्य एक वर्ष में पूरी राशि चक्र का चक्कर लगाता है। यह हर महीने में एक बार हर राशि में प्रवेश करता है। सूर्य जिस राशि में गोचर करता है, उसका अन्य सभी राशियों पर प्रभाव उसी दिन के लिए महसूस होता है। माना जाता है कि इस गोचर के दिन सूर्य सब कुछ रोशन करता है।

सूर्य अग्नि तत्व, क्षत्रिय वर्ण है। यह लाल रंग का प्रतीक माना जाता है और यह पूर्व दिशा का स्वामी है। सूर्य, चंद्रमा, मंगल और गुरु के निकट है, जबकि शुक्र, शनि और राहु-केतु से सूर्य का बैर है। लेकिन बुध के साथ सूर्य सामान्य भाव में रहता है। हिंदू धर्म में सूर्य का बहुत महत्व है। सूर्य को जगत का पिता तूल्य माना जाता है। सूर्य देव में अपार शक्ति है। ज्योतिष की मानें, तो सूर्य देव सफलता देने और विभिन्न स्थानों पर उच्च पद तथा प्रतिष्ठा प्रदान करने में मदद करते हैं। जब सूर्य देव एक राशि से दूसरी राशि में परिवर्तन करते हैं, तो इसका असर सभी राशियों पर पड़ता है।

सूर्य महादशा में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है? समाधान के लिए ज्योतिषी से बात करें

सूर्य गोचर का क्या अर्थ है?

जब सूर्य एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करता है, तो वह अवधि सूर्य का गोचर कहलाती है। ज्योतिषीय महत्व में सूर्य का अर्थ है, 'स्व'। सूर्य का ज्योतिषीय रंग नारंगी है। सूर्य एक राशि में लगभग 30 दिन व्यतीत करता है और सभी 12 राशियों को पूरा करने में 1 वर्ष का समय लेता है। इसलिए अनुकूल परिणामों की भविष्यवाणी करने के लिए सभी भावों में सूर्य का गोचर एक महत्वपूर्ण कारक है। इस लेख में हम सूर्य गोचर के विभिन्न राशियों में प्रभाव के बारे में जानेंगे।

सूर्य गोचर 2023 (Surya Gochar 2023)

तिथि सूर्य गोचर समय
14 जनवरी 2023, शनिवार सूर्य गोचर धनु से मकर 20:58
13 फरवरी 2023, सोमवार सूर्य गोचर मकर से कुंभ 09:57
15 मार्च 2023, बुधवार सूर्य गोचर कुंभ से मीन 06:47
14 अप्रैल 2023, शुक्रवार सूर्य गोचर मीन से मेष 15:12
15 मई 2023, सोमवार सूर्य गोचर मेष से वृषभ 11:58
15 जून 2023, गुरुवार सूर्य गोचर वृषभ से मिथुन 18:29
17 जुलाई 2023, सोमवार सूर्य गोचर मिथुन से कर्क 05:19
17 अगस्त 2023, गुरु सूर्य गोचर कर्क से सिंह 13:44
17 सितम्बर 2023, रविवार सूर्य गोचर सिंह से कन्या 13:43
18 अक्टूबर 2023, बुधवार सूर्य गोचर कन्या से तुला 01:42
17 नवंबर 2023, शुक्रवार सूर्य गोचर तुला से वृश्चिक 01:31
16 दिसंबर 2023, शनि सूर्य गोचर वृश्चिक से धनु 16:10

सूर्य ग्रह का मेष राशि में गोचर

सूर्य गोचर मेष राशि को कई तरह से प्रभावित करेगा। जब सूर्य गोचर इस राशि में होगा, तो यह जातक खुद को ऊर्जावान महसूस करेंगे। वह खुद में किसी बच्चे जैसी ऊर्जा का आभास करेंगे। हालांकि यह अच्छे संकेत हैं। जातक चाहे तो अपनी ऊर्जा को अच्छे पक्ष में इस्तेमाल कर सकता है। लेकिन जैसा हम सभी जानते हैं कि बच्चे बहुत ही चंचल होते हैं। जब वे ऊर्जावान और उत्साही होते हैं, तो उन्हें समझ नहीं आता है कि उन्हें किस तरह से अपनी ऊर्जा का उपयोग करना है। मेष राशि के जातकों को यह सलाह दी जाती है कि आप अपनी ऊर्जा को सही दिशा में उपयोग करें, न कि उसका दुरुपयोग करें।

यह भी पढ़ें राशिफल 2023

अगर आप इसका दुरुपयोग करते हैं, तो यह आपको परेशानी का अनुभव करना होगा। निश्चित रूप से यह सही नहीं होगा। गोचर समय अवधि में आपके अंदर अहंकार बढ़ सकता है। जाहिर है, आपका अहंकार आपको कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है। सूर्य गोचर के कारण आपके अपने परिचितों के साथ रिश्ते खराब हो सकते हैं, कामकाजी जीवन पर भी इसका बुरा प्रभाव हो सकता है। हालांकि, इस समय अवधि में कुछ अच्छे परिणाम भी देखने को मिल सकते हैं जैसे कि मेष राशि के जातक किसी नए काम में अपनी ऊर्जा लगा सकते हैं और उस काम में उन्हें सफलता मिलने की उम्मीद है। आपको अपनी मेहनत के अनुरुप फल प्राप्त होगा।

उपाय:
  • आप रोजाना सुबह राम रक्षा स्तोत्र का जाप करें।

सूर्य ग्रह का वृषभ राशि में गोचर

सूर्य का गोचर आपके जिद्दी स्वभाव को उजागर करेगा। कुछ मायनों में आपके लिए यह अच्छा साबित हो सकता है। जबकि कुछ मायनों में आपके लिए यह बुरा भी हो सकता है। आपका जिद्दी स्वभाव आपको अपने लक्ष्य की ओर अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित करेंगा। इस तरह आप अपने लक्ष्य की ओर बढ़ते जाएंगे। लेकिन इन सबके साथ ही आपका रुझान विलासिता पूर्ण चीजों की ओर अधिक हो सकता हैं। नतीजतन, आप जाने-अंजाने में अधिक खर्च कर सकते हैं। अतिरिक्त खर्च किसी के पक्ष में नहीं होता। इसलिए आपको सुझाव दिया जाता है कि उतना ही खर्च करें, जितना आपके लिए जरूरी हो।

इस समयावधि में यह योग भी बन रहा है कि आप किसी अच्छे रेस्त्रां में जाएंगे और वहां डिनर या लंच करेंगे। लेकिन फिर से हम आपको यही सलाह देंगे कि अतिरिक्त खर्च करने से बचें। दूसरों के सामने दिखावा करना कोई समझदारी नहीं है। आप फिजूल खर्च करने के बजाय आसपास सैर करने जाएं। प्रकृति का आनंद लें और पेंड़ो की छांव में टहलें। ऐसा करने से आपको न सिर्फ अच्छा लगेगा बल्कि मानसिक रूप से भी आप रिलैक्स फील करेंगे। इस समय अवधि में आप किसी न किसी रूप में प्रकृति से जरूर जुड़ें, क्योंकि यह आपके लिए लाभकारी होगा।

उपाय:
  • आप रोजाना सुबह राम रक्षा स्तोत्र का जाप करें।

सूर्य ग्रह का मिथुन राशि में गोचर

सूर्य गोचर आपके जीवन में कई तरह के बदलाव लाएग। आप इस समय अवधि में अधिक सोश्ल होंगे। ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ आपका उठना बैठना होगा। यहां तक कि अपने यार-दोस्तों के साथ आपको कहीं बाहर जाने का मौका मिलेगा। एड्वेंचर ट्रिप का योग बन रहा है। इसके अलावा कई और जगहों पर जाने का योग भी बन रहा है। आप किसी टूरिस्ट एरिया में अपने दोस्तों के साथ जा सकते हैं। वहां की खूबसूरती का आनंद उठा सकते हैं। यह समय आपके लिए काफी रिफ्रेशिंग रहेगा।

यह भी पढ़ें त्योहार कैलेंडर 2023

आप अपने करीबियों के साथ, खासकर दोस्तों के साथ घूमने का प्लान बनाएं। जहां तक सूर्य गोचर का आप पर जो नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा, वह है कि अगर आप अपनी दिनचर्या में परिवर्त नहीं करेंगे, तो आप अपने कामकाज से ऊब सकते हैं। यह उबाऊपन आपको बेहतर करने से रोकेगा, जो कि कामाकजी ही नहीं, निजी जिंदगी के लिए भी सही नहीं है।

उपाय:
  • सूर्य यंत्र के सामने नियमित रूप से ध्यान करें।

सूर्य का कर्क राशि में गोचर

सूर्य का कर्क राशि में प्रवेश करेगा, ग्रीष्म संक्रांति की शुरुआत का प्रतीक माना जाता है। पारिवारिक मेल-मिलाप के लिए ये दिन बहुत अच्छे हैं। यह समयवधि आपकी भावनाओं पर प्रभाव डालेगी। कर्क राशि के लोग आमतौर पर अपनी भावनाओं को छिपाते हैं। हालांकि, सूर्य का गोचर आपकी छिपी भावनाओं को दूसरों के सामने उजागर करेगा। ये स्थिति आपको दोनों तरह से प्रभावित कर सकती है। अगर भावनाएं, सकारात्मक रहीं, तो आपके प्रेम संबंध और पारिवारिक संबंधों के लिए अच्छा रहेगा।

यदि ऐसा न होगा, आपके नकारात्मक भावनाएं उजागर हुईं, तो स्थिति उलट सकती है। भविष्य में आपको इसके परिणामों के लिए तैयार रहना होगा। लेकिन सूर्य गोचर आपके लिए अच्छी खबर यह लाया है कि इस समयावधि में आप अपने दोस्तों, परिवार के साथ मिलकर अच्छा समय बिताएंगे। साथ में पार्टी करने या घूमने जाने की संभावना बन रही है। अगर आप शादीशुदा हैं और आपके बच्चे हैं, तो समयावधि में आप अपने बच्चों का अतिरिक्त ध्यान अवश्य रखें।

उपाय:
  • आपको अपने पिता या पितातुल्य लोगों का सम्मान करना चाहिए, खासकर गोचर काल में।

सूर्य ग्रह का सिंह राशि में गोचर

सूर्य गोचर का सबसे ज्यादा प्रभाव आपके स्वभाव पर ही पड़ेगा। हालांकि, इसका आपको आभास नहीं होगा। आप दूसरों पर अपना हुक्म जताते हुए दिखेंगे। आप ऐसा जानबूझकर नहीं करेंगे। लेकिन ऐसा स्वत: होता चला जाएगा। यही नहीं, इन दिनों आपको दूसरों के बारे में बातें करने में काफी मजा आएगा। लोगों के साथ बेवजह की खूब गपशप करेंगे। अगर आपको खुद अपने व्यवहार पर आश्चर्य हो, तो परेशान न हों।

यह सब कुछ ही समय बाद अपने आप ठीक भी हो जाएगा। सूर्य गोचर होने तक यह स्थितियां बनी रहेंगी। आपके लिए एक अच्छी खबर भी है। इन दिनों आपका फैशन सेंस काफी ज्यादा बदलेगा। आप आसानी से ग्लैमर की ओर आकर्षित होंगे। आपके ड्रेसिंग सेंस से दूसरे भी काफी प्रभावित होंगे। इस समय के लिए आपको यह सुझाव दिया जा रहा है कि दूसरों के प्रति असभ्य न बनें और जितना संभव हो, लोगों के साथ बातचीत के दौरान अच्छे शब्दों का उपयोग करें।

उपाय:
  • रोजाना सुबह सूर्य नमस्कार करें।

सूर्य ग्रह का कन्या राशि में गोचर

कन्या राशि के जातक अमूमन काफी सतर्क और सावधानी के साथ अपनी जिंदगी जीते हैं। इन लोगों के लिए माना जाता है कि ये लोग स्वभाव से काफी स्थिर होते हैं। हमेशा जमीन से जुड़े रहना पसंद करते हैं। इसलिए ये लोग अपनी जिंदगी में हर फैसले बहुत सोच-समझकर लेते हैं। लेकिन सूर्यगोचर के कारण ये लोग काफी लापरवाही बरतते हुए नजर आएंगे। ये लोग अपने जीवन को पहले से ही बहुत संतुलित रखते हैं, तो इन्हें इसका कोई ठोस नुकसान नहीं होगा। इसके विपरीत आप खुद को पहले से ज्यादा संतुलित महसूस करेंगे।

इन दिनों आपका ध्यान उन छोटी-छोटी बातों पर भी जाएगा, जिस पर आपने पहले कभी ध्यान नहीं दिया है। यहां तक कि आप पहले की तुलना में ज्यादा सोशल होंगे और अच्छे यानी परोपकार से जुड़े काम करेंगे। लोगों की भलाई के लिए कुछ न कुछ जरूर करेंगे। इन सबके बावजूद आपको सलाह दी जाती है कि चीजों को लेकर अधिक सोचने से बचें और दूसरों की अलोचना बिल्कुल न करें। ये दोनों ही बातें आपके व्यक्तित्व पर नकारात्मक असर डाल सकती हैं।

उपाय:
  • रविवार के दिन जरूरतमंदों को गुड़ और गेहूं का दान करें।

सूर्य ग्रह का तुला राशि में गोचर

सूर्य का तुला राशि में प्रवेश शरद विषुव की शुरुआत का प्रतीक होता है। सूर्य के तुला राशि में प्रवेश करने से आप बहुत पारंपरिक और सांस्कृतिक महसूस करेंगे। यह सब आपके लिए काफी अच्छा रहेगा। कुछ लोगों के नए संबंध में बंधने के याेग बन रहे हैं। अगर पहले से ही किसी संबंध में हैं, तो आपका प्यार उनके लिए और गहरा हो जाएगा। आप खुद को उनके प्रति ज्यादा जिम्मेदार महसूस करेंगे। आपके स्वभाव में बहुत छोटी-छोटी, मगर महत्वपूर्ण बाते शामिल होंगे। जैसे अगर आप अपने साथी या भावी पार्टनर के साथ बाहर जाएंगे, तो उनकी पसंद की जगह, रेस्त्रां को ज्यादा महत्व देंगे। इसी तरह उनके लिए कार का दरवाजा खोलना, चेयर पर बैठते हुए पार्टनर के लिए चेयर खींचना आदि काम तुला राशि के पुरुष जातक करते हुए नजर आएंगे।

ये सब बातें उन्हें अंदर से अच्छा महसूस कराएगी। आपके पार्टनर को भी आपका यह बर्ताव अच्छा लगेगा। जैसा कि पहले ही बताया गया है कि आप खुद को अधिक पारंपरिक महसूस करेंगे, इसका असर आपके पहनावे पर भी नजर आएगा। आप ट्रेडिशनल ड्रेस अप कैरी करेंगे। इसका आपके व्यक्तित्व पर अच्छा प्रभाव पड़ेगा। इन दिनों आप रिफ्रेशमेंट के लिए संग्रहालय या ऐतिहासिक कलाकृतियां देखने जा सकते हैं। इसके अलावा, बौद्धिक चर्चा करें और दिन का आनंद उठाएं। आपका रोमांस इन दिनों चरम पर रहेगा। आपके साथी भी आपसे काफी खुश रहेंगे। इसका असर आपके अन्य संबंधों पर भी दिखेगा।

उपाय:
  • अपने खाने में अतिरिक्त नमक शामिल करने से बचें।

सूर्य ग्रह का वृश्चिक राशि में गोचर

सूर्य गोचर की अवधि में आपको काफी सतर्क रहने की जरूरत है। अपने करीबियाें पर भी इन दिनों ज्यादा भरोसा न करें। दरअसल, इन दिनों कई ऐसे मामलें, वाकया सामने आएंगे, जिनके बारे में आपको जरा भी जानकारी नहीं थी। इनमें से कुछ मामले अच्छे, तो कुछ बुरे हो सकते हैं। यह आपके लिए कितना हितकर या हानिकारक होगा, यह बात मामले के प्रकाश में आने के बाद ही पता चलेगी। ऐसे में आपको व्यक्तिगत और पेशेवर, दोनों तरह से सतर्क रहने की जरूरत है।

कई आपके हिमायतियों का असली चेहरा सामने आएगा। उनकी वजह से आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। दरअसल, आपकी सफलता या आपका अच्छा स्वभाव लोगों के लिए ईर्ष्या का विषय बन जाएगा। इसलिए आपके परिचित ही, आपको नुकसान पहुंचाने की सोचेंगे। अगर आप इनसे बचना चाहते हैं, तो पहले से ही सावधानी बरतें। आपके कई जानने वाले आपसे बदला लेने की भी सोच सकते हैं। लेकिन आप इन सबसे विचलित न हों और अपने स्वभाव को नियंत्रण में रखें।

उपाय:

सूर्य ग्रह का धनु राशि राशि में गोचर

सूर्य गोचर आपको आशावादी और बहुत व्यावहारिक महसूस कराएगा। ये दोनों ही बातें आपके लिए सकारात्मक हैं। लेकिन किसी भी तरह का निर्णय लेने से पहले सतर्क जरूर रहें। निर्णय लेने से पहले उसके पक्ष-विपक्ष को अच्छी तरह से जान लें। उसके दीर्घकालिक परिणामों को भी नजरंदाज न करें। इसके बाद किसी विषय विशेष को लेकर नतीजे पर पहुंचे। वैसे तो सूर्य गोचर आपको मल्टीटास्क करने की ऊर्जा देगा।

यह अच्छी बात है। इस वजह से आप एक ही समय में कई काम कर सकेंगे और हर काम को करते हुए आप अधिक उत्साही महसूस करेंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि सूर्य गोचर की वजह से मिली ऊर्जा आपको अधिक लाभ दिलाएगी। ऐसा होने के बावजूद आपका मन अस्थिर रहेगा। छोटी-छोटी बात पर बेचैन हो उठेंगे। अगर आपने अपने इस स्वभाव को नियंत्रित नहीं किया, तो नुकसान हो सकता है। कहने की बात यह है कि समय भले आपके लिए अच्छा रहे, आपके लिए गए फैसले ही आपको सही परिणाम दिलाएंगे।

उपाय:
  • नियमित रूप से प्रातः काल सूर्य देव को जल अर्पित करें।

सूर्य ग्रह का मकर राशि में गोचर

मकर राशि के जातक काफी भरोसेमंद होते हैं। सूर्य के इस गोचर के प्रभाव से लोग आप पर निर्भर रहेंगे। आप अपनी चीजों को पहले की तुलना में ज्यादा व्यवस्थित रखेंगे। ऐसा सिर्फ कामकाजी जीवन में ही नहीं होगा, बल्कि निजी जीवन में भी आप ऐसा ही व्यवहार करेंगे। इससे आप अपने आसपास मौजूद गैर जरूरी चीजों को दूर कर देंगे। ये बातें आपके सकारात्मक पक्ष को उजागर कर रही हैं। पुरानी और बेकार की चीजों से छुटकारा पाना, आपको आगे की ओर ले जाता है।

यह बेहतर नतीजों की ओर भी इशारा कर रहा है। यह समयवधि आपके कई लंबित पड़े कार्यों को निपटाने के लिए अच्छा है। हालांकि, कभी-कभी आप खुद को बहुत बोझिल महसूस करेंगे। इस वजह से आपको लगेगा कि आप जो कर रहे हैं, वह सही नहीं है या उसका परिणाम सही नहीं आएगा। आपके लिए सुझाव है कि आप ऐसी सोच से बाहर निकलें। हर चीज का सकारात्मक पक्ष देखें। वैसे भी जब सब कुछ अच्छा हो रहा हो, तो मन में नकारात्मक बातों को जगह नहीं देनी चाहिए।

उपाय:
  • फुटवियर पहनने के बाद अपने हाथों को अच्छे से धोएं।

विस्तृत कुंडली विश्लेषण के लिए अभी ज्योतिषी से चैट करें

सूर्य ग्रह का कुंभ राशि में गोचर

कुंभ राशि के जातकों पर सूर्य गोचर का मिश्रित प्रभाव रहेगा। सबसे पहले आपके नकारात्मक पक्ष की बात करते हैं। इस समय अवधि में आपका मिजाज अक्सर गर्म रहेगा यानी गुस्सैल स्वभाव के रहेंगे। बेवजह दूसरों पर नाराज होंगे और बातचीत के दौरान आप उनका अपमान भी कर सकते हैं। यही नहीं, कार्यालय में कोई काम दिए जाने पर आप उसे पूर्वाग्रह के साथ ही पूरा करेंगे। इस वजह से आप अपने काम को अपना सौ फीसदी नहीं देंगे और न ही दूसरों के साथ किसी तरह का समझौता करेंगे। यह सही नहीं है। लोगों के प्रति आपका असभ्य व्यवहार सही नहीं होगा। आपको न सिर्फ अपने सहकर्मियों के साथ अच्छी तरह पेश आना चाहिए, बल्कि अपने प्रियजनों के साथ भी अच्छी तरह व्यवहार करना चाहिए।

ऐसा न करने की वजह से आप अपने इर्द-गिर्द मौजूद सभी लोगों को आहत कर बैठेंगे। न चाहते हुए वे आपसे दूर हो जाएंगे। भले स्थिति या अपना स्वभाव आपके नियंत्रण में न हो, फिर भी आपको सलाह दी जाती है कि संयमित भाषा का उपयोग करें। किसी के साथ बातचीत करते हुए शब्दों पर नियंत्रण रखें। अब कुछ बात आपके सकारात्मक पक्ष की करते हैं। इस समयवधि में आप दूसरों के बेहद काम आएंगे, खासकर जो गरीब और जरूरतमंद हैं। यह अच्छी बात है। इसके साथ ही अगर आप रचनात्मक कार्य से जुड़े हैं, तो यह भी अच्छा रहेगा; क्योंकि इस समय आपकी रचनात्मकता चरम पर होगी। यानी इस क्षेत्र से जुड़े जो भी काम आप करेंगे, आपके लिए फायदेमंद होगा।

उपाय:
  • अपने परिवार में पितातुल्य लोगों के साथ सम्मानजनक संबंध बनाए रखें।

सूर्य ग्रह का वृषभ राशि में गोचर

सूर्य का मीन राशि में गोचर इस राशि के जातक के लिए काफी अच्छा रहेगा। इस दौरान उनके अंदर की जिज्ञासा बढ़ेगी। खासकर ऐसी जादुई दुनिया के लिए, जिसके बारे में कोई नहीं जानता। उनका जिज्ञासु स्वभाव उन्हें बेहतरी की ओर ले जाएगी। इससे उन्हें काफी ज्ञान प्राप्त होगा। साथ ही उनके कई अन्य किस्म के कौशल में भी वृद्धि होगी। अगर इस राशि के जातक अपने करियर को लेकर निर्णय नहीं ले पा रहे हैं, तो आप कला, राजनीति, साहित्य, संगीत, कविता और लेखन जैसे क्षेत्र का विकल्प अपने लिए चुन सकते हैं।

इन क्षेत्रों में आप अच्छा प्रदर्शन करेंगे। वैसे भी आप इस समय अवधि में स्वत: इन क्षेत्रों की ओर आकर्षित होंगे। लेकिन आपको खास सलाह दी जाती है कि किसी चीज को लेकर अतिरिक्त सोच विचार न करें। आप अति भावुक स्वभाव आपके सोचने-समझने की क्षमता को प्रभावित कर सकता है। यह सही नहीं है। इससे आप खुद को इमोशनल तरीके से कमजोर समझेंगे। नतीजतन आपको लगेगा कि समय आपके साथ मजाक कर रहा है। जबकि ऐसा नहीं है। अपनी सोच को नियंत्रण में रखें। अच्छा कम करें। परिणाम अवश्य अच्छे मिलेंगे।

उपाय:
  • किसी भी सरकारी अधिकारियों से उलझने से बचें।

अधिक व्यक्तिगत विस्तृत भविष्यवाणियों के लिए कॉल या चैट पर ज्योतिषी से जुड़ें।

Surya Gochar 2023: अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

सूर्य एक राशि में कितने समय तक रहता है?

सूर्य एक राशि में कितने समय तक रहेगा, इसका कोई सटीक जवाब नहीं है। कभी-कभी सूर्य एक राशि में एक 29 दिन में ही पार कर जाता है। जबकि कभी यह 32 दिनों का समय लेता है। 

सूर्य का संबंध किससे है?

सूर्य जीवन, ऊर्जा, सकारात्मकता, स्पष्टता, आत्मविश्वास का प्रतिनिधत्व करता है। इसका सभी राशियों पर गहरा असर पड़ता है। यह प्रत्येक मनुष्य के जीवन को प्रभावित करता है। सदियों से सूर्य को महत्व को स्वीकारा गया है। यह सबसे अधिक सम्मानित प्रतीकों में से एक है।

क्या होता है जब सूर्य पंचम भाव में गोचर करता है?

जब सूर्य पंचम भाव में गोचर करता है, तो इसके प्रभाव से मानसिक भ्रम होता है। इसका असर परिवार के सभी सदस्यों पर पड़ता है। साथ ही घर के बच्चों को स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा कार्यस्थल पर उच्च अधिकारियों या सरकारी अधिकारियों से जातक का विवाद हो सकता है।

क्या होता है जब सूर्य मिथुन राशि में प्रवेश करता है?

मिथुन राशि में सूर्य गोचर उनके बातचीत के कौशल को बेहतर बनाता है। इस राशि के जातक काफी उदारवादी होते हैं और दूसरों के हित का ख्याल रखते हैं। यही कारण है कि लोग अक्सर इनके द्वारा लिए गए निर्णयों पर आंख मूंदकर भरोसा करते हैं। इनकी अच्छी बात यह है कि इस राशि के लोग दूसरों का भरोसा नहीं तोड़ते। दूसरों की उम्मीदों पर खरे उतरने की पूरी कोशिश करते हैं। ये लोग स्वभाव से विनम्र, ईमानदार होते हैं।

क्या होता है जब सूर्य तुला राशि में प्रवेश करता है?

जैसा कि सभी को ज्ञात है कि तुला राशि संतुलन का प्रतीक है। तुला राशि में सूर्य के साथ शांति और सद्भाव कायम करता है। यह सब दूसरों के साथ जुड़ने, सुंदरता प्रदान करने और आत्मा को शांत करने में अहम भूमिका निभाता है।

कॉपीराइट 2022 कोडयति सॉफ्टवेयर सॉल्यूशंस प्राइवेट. लिमिटेड. सर्वाधिकार सुरक्षित