घरेलू उपकरणों के लिए वास्तु उपाय: सकारात्मकता लाने के लिए सही दिशा में रखें घरेलू उपकरण

विषयसूची

  • वास्तु अनुसार रसोई में उपकरणों की व्यवस्था
  • वास्तु अनुसार बाथरूम में उपकरणों की व्यवस्था
  • घरेलू उपकरणों को सामान्य रूप से व्यवस्थित करने के लिए वास्तु शास्त्र युक्तियां
  • वास्तु अनुरूप घरेलू उपकरणों को व्यवस्थित करने के लिए क्या करें-क्या न करें
  • वास्तु अनुपालन के लिए तालिका
  • वास्तु अनुकूल हो घरेलू उपकरणों की व्यवस्था
  • अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

हम अक्सर घर के अंदर वस्तुओं से संबंधित कई सारी मान्यताएं-किंवदंतियां सुनते हैं। यह सब वास्तु शास्त्र में समझाया गया है जो हमें कुछ उपायों का पालन करके घर की अखंडता को बनाए रखने में मदद करता है। जैसा कि वास्तु शास्त्र में उल्लिखित दोषों को दूर रखने के लिए किया जाता है, जो हमारी जीवनशैली और हमारे करीबी लोगों के साथ हमारे संबंधों में बाधा उत्पन्न कर सकते हैं। जब हम इससे बचने के तरीके खोज सकते हैं।

घर में शांति और सकारात्मकता बनाए रखने के लिए उपकरणों को विशेष तरीके से व्यवस्थित करने के लिए अनेक टिप्स हैं। लोग अक्सर वास्तु शास्त्र में बताए गए इन तथ्यों को नजरअंदाज कर देते हैं, लेकिन आश्चर्यजनक रूप से, वे काफी मायने रखते हैं। इन तथ्यों के साथ, हम आपके परिवार के लिए एक शांतिपूर्ण जीवन की गारंटी नहीं दे सकते, लेकिन हम विश्वास कर सकते हैं और अपने परिवार के लाभ के लिए चीजों को सुचारू रूप से चला सकते हैं।

एस्ट्रोलॉजर से बात करने के लिए: यहां क्लिक करें

घरेलू उपकरणों की व्यवस्था के लिए वास्तु शास्त्र

Household

घर बनाकर अपने जीवन के एक नए सफर में कदम रखते समय किसी भी तरह का अशुभ होने का रिस्क नहीं लिया जा सकता। हम में से बहुत से लोग इन मान्यताओं पर विश्वास नहीं करते हैं, जो अक्सर अनजाने में आपके परिवार की शांति और खुशी को प्रभावित करती हैं। जैसा कि कहा जाता है, एक घर सिर्फ सदस्यों द्वारा घर नहीं बनता है, इसके लिए लोगों को एक स्वस्थ जीवन और आपस में एक मजबूत बंधन की भी आवश्यकता होती है जो इसे संभव बनाता है। इसलिए, प्राथमिक ध्यान हमारे परिवार के उस प्यार और समृद्धि को बनाए रखना है।

जब कुछ उपाय आपके घर की खुशियों को बरकरार रखने में मदद कर सकते हैं। ऐसे में इन्हें जरूर अपनाएं। आइए बेहतरी के लिए घरेलू उपकरणों की व्यवस्था करने के लिए छोटे लेकिन महत्वपूर्ण तथ्यों का पता लगाएं।

वास्तु अनुसार रसोई में उपकरणों की व्यवस्था

Household

वास्तु अनुपालन के लिए, परिवार की वृद्धि और विकास को समृद्ध करने के लिए रसोई के अंदर दक्षिण-पूर्व दिशा में उपकरणों को रखने की सलाह दी जाती है।

फ्रिज
Household

रेफ्रिजरेटर को आमतौर पर दक्षिण-पूर्व में या उत्तर, दक्षिण और पश्चिम में रखने का सुझाव दिया जाता है। अगर कहीं और रखा जाता है, तो वे परिवार के सदस्यों की भलाई के आड़े आ सकता है।

एस्ट्रोलॉजर से चैट करने के लिए: यहां क्लिक करें

माइक्रोवेव ओवन
Household

कहा जाता है कि माइक्रोवेव ओवन को दक्षिण-पूर्व या दक्षिण दिशा में रखा जाता है। इससे घर के अंदर एक सकारात्मक हवा आती है जो सभी नकारात्मकता को दूर रखती है।

मिक्सर ग्राइंडर
Household

माइक्रोवेव ओवन की तरह, मिक्सर ग्राइंडर को भी वास्तु अनुपालन के अनुसार दक्षिण या दक्षिण-पूर्व दिशा मे रखने की सलाह दी जाती है।

एक्जॉस्ट या चिमनी
Household

चिमनी की एक निश्चित स्थिति होती है लेकिन रसोई के दक्षिण-पूर्व कोने में पूर्व की दीवार पर गैस फैंन को लगाना चाहिए।

Household
इलेक्ट्रॉनिक केतली
Household

वास्तु के अनुसार इसे दक्षिण या दक्षिण-पूर्व दिशा में रखने की सलाह दी जाती है। सही स्थिति में नहीं होने पर कोई समस्या नहीं होती है लेकिन दक्षिण या दक्षिण-पूर्व को सबसे सुरक्षित विकल्प माना जाता है।

टोस्टर
Household

ये भी, अन्य विद्युत उपकरणों की तरह, दक्षिण या दक्षिण-पूर्व दिशा में रखे जाने पर सबसे सुरक्षित माने जाते हैं।

वास्तु अनुसार बाथरूम में उपकरणों की व्यवस्था

बाथरूम में भी, वास्तु अनुपालन एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और इसे प्राप्त करने के लिए, हमारे पास वास्तु शास्त्र में कुछ सुझाव हैं।

गीजर
Household

बाथरूम में गीजर दक्षिण-पूर्व कोने में रखने की सलाह दी जाती है। इसकी व्यवस्था के लिए एक विशिष्ट दिशा इसे एक छोटी सी चीज बनाती है, जिसे नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

एस्ट्रोलॉजर से बात करने के लिए: यहां क्लिक करें

वाशिंग मशीन
Household

वास्तु शास्त्र के अनुसार, सदस्यों की भलाई और लंबे समय तक सुख के लिए वॉशिंग मशीन को उत्तर-पश्चिम या दक्षिण-पूर्व दिशा में रखा जाना चाहिए।

घरेलू उपकरणों को सामान्य रूप से व्यवस्थित करने के लिए वास्तु शास्त्र युक्तियां

  • वास्तु के अनुसार टेलीविजन को कमरे की दक्षिण-पूर्व दिशा में लगाना चाहिए।
  • टीवी बेडरूम के अंदर, बिस्तर के सामने मौजूद नहीं होना चाहिए, क्योंकि इससे झगड़े होते हैं और वैवाहिक जीवन में बाधा आती है।
  • लैपटॉप और डेस्कटॉप को बिस्तर के सामने नहीं रखना चाहिए| क्योंकि इससे नकारात्मक स्पंदन निकलते हैं जिससे दंपति का जीवन नष्ट हो जाता है। इसे दक्षिण-पूर्व दिशा में रखना चाहिए।
  • एयर कंडीशनर और अन्य कूलिंग उपकरण केवल उत्तर या पश्चिम दिशा की ओर ही होने चाहिए। कोई अन्य दिशा स्थान की शांति और सकारात्मकता में बाधक हो सकती है।
  • दो बिजली के उपकरणों को साथ-साथ नहीं रखना चाहिए क्योंकि इससे तार उलझ जाते हैं जो कि वास्तु शास्त्र को प्रोत्साहित नहीं करता है।
  • बाथरूम में शीशा या तो उत्तरी दीवार पर या पूर्वी दीवार पर लगाना चाहिए।
  • हेयर ड्रायर या गीजर का मुख दक्षिण-पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए।
  • बाथरूम में एग्जॉस्ट फैन का मुख पूर्व या उत्तर-पूर्व दिशा में होना चाहिए।

वास्तु अनुरूप घरेलू उपकरणों को व्यवस्थित करने के लिए क्या करें-क्या न करें

  • टूटे हुए उपकरणों जैसे टूटे चार्जर, बैटरी आदि से छुटकारा पाएं। वे घर में सकारात्मक ऊर्जा के प्रवाह के रास्ते में आते हैं।
  • किसी भी कीमत पर दो या दो से अधिक उपकरणों के उलझे तारों से बचना चाहिए। वे उपकरणों की तरह ही घर और उनके सदस्यों की अस्तव्यस्त स्थिति को चित्रित करते हैं।
  • अपने घर में अनुपयोगी उपकरणों से छुटकारा पाकर नए उपकरणों की खरीदारी करनी चाहिए। उन्हें किसी जरूरतमंद को दे दिया जाना चाहिए या भविष्य में उपयोग में लाया जाना चाहिए।
  • टेलीविजन को दक्षिण-पश्चिम दिशा में रखने से बचें क्योंकि इससे खुद को दूर रखना आपके लिए मुश्किल हो जाएगा।
  • एयर कंडीशनर और कूलर को साफ रखें और ध्यान रखें कि वे शोर करते हैं या नहीं। शोर करना एक अच्छा संकेत नहीं है और इसके लिए तत्काल मरम्मत की आवश्यकता है।
  • जब बिजली के उपकरण जैसे मिक्सर ग्राइंडर, टोस्टर आदि रखने की बात आती है, तो उत्तर-पूर्व दिशा से बचें क्योंकि यह घर और उसकी शांति के लिए एक गंभीर खतरा है।
  • वॉशबेसिन और गैस स्टोव, टोस्टर आदि जैसे उपकरणों को एक ही स्तर पर या एक दूसरे के समानांतर रखने से बचें क्योंकि कहा जाता है कि पानी और आग एक दूसरे का विरोध करते हैं जिससे नकारात्मक ऊर्जा व्यक्ति के व्यवहार के आसपास घूमती है।
  • आग से संबंधित खाना पकाने के उपकरण जैसे कि स्टोव, माइक्रोवेव ओवन को दक्षिण-पूर्व दिशा में इस तरह रखें कि जब आप खाना बनाते हैं, तो आपका मुख पूर्व दिशा की ओर हो। यह एक स्वस्थ जीवन शैली सुनिश्चित करता है।
  • वास्तु के अनुसार दर्पण को जमीन से कम से कम चार फीट ऊपर रखना चाहिए ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि यह टॉयलेट सीट का प्रतिबिंब नहीं दिखाता है।
  • शौचालय को दक्षिण-पूर्व दिशा में रखने से बचें क्योंकि इससे बिजली दुर्घटनाएं होती हैं और बिजली के उपकरण प्रभावित होते हैं।

वास्तु अनुपालन के लिए तालिका

उपकरण वास्तु अनुपालन के अनुसार दिशा
टेलीविजन दक्षिण पूर्व
फ्रिज उत्तर, दक्षिण, पश्चिम या दक्षिण-पूर्व
माइक्रोवेव ओवन दक्षिण या दक्षिण-पूर्व
मिक्सर ग्राइंडर दक्षिण या दक्षिण-पूर्व
वाशिंग मशीन उत्तर-पश्चिम या दक्षिण-पूर्व
गीजर दक्षिण पूर्व
एयर कंडीशनर या कूलर उत्तर या पश्चिम
लैपटॉप और कंप्यूटर दक्षिण पूर्व
निकास पंखे या चिमनियाँ दक्षिण-पूर्व कोने की पूर्वी दीवार
इलेक्ट्रॉनिक केतली दक्षिण या दक्षिण-पूर्व
टोस्टर दक्षिण या दक्षिण-पूर्व

एस्ट्रोलॉजर से चैट करने के लिए: यहां क्लिक करें

वास्तु अनुकूल हो घरेलू उपकरणों की व्यवस्था

अब जब हम लेख के अंत में आ गए हैं, तो हम स्पष्ट रूप से यह समझ सकते हैं कि कुछ छोटी-छोटी चालें और सावधानियां जीवन को सरल बना सकती हैं! इन टिप्स को अपनाकर आप अपने घर की शांति और समृद्धि को पहले से कुछ ज्यादा ही बनाए रख सकते हैं।

एक बात तो हम निश्चित रूप से समझ गए हैं कि उपकरणों की भी अपनी ऊर्जा उनसे जुड़ी होती है। जो घर और उनके सदस्यों को समान रूप से प्रभावित करती है। इसलिए, यह सुनिश्चित करते हुए कि यह हमेशा की तरह शांति से बना रहे, हम हमेशा तरीकों पर गौर कर सकते हैं और घरेलू उपकरणों के लिए वास्तु शास्त्र एक तरीका है।

अधिक व्यक्तिगत विस्तृत भविष्यवाणियों के लिए कॉल या चैट पर ज्योतिषी से जुड़ें।

कॉपीराइट 2022 कोडयति सॉफ्टवेयर सॉल्यूशंस प्राइवेट. लिमिटेड. सर्वाधिकार सुरक्षित