शेयर मार्केट में सफलता का ज्योतिष

शेयर मार्केट में सफलता का ज्योतिष
WhatsApp

आज के इस आर्टिकल में हम शेयर मार्केट में ज्योतिष का क्या प्रभाव है? इस विषय पर चर्चा करेंगे। जब भी कोई निवेशक या जातक शेयर मार्केट में निवेश करता है, उसे यह डर रहता है की उसे लाभ होगा या हानि?

ज्योतिष शास्त्र की मदद से निवेशक का मार्गदर्शन किया जा सकता है या नहीं?

हाँ। ज्योतिष शास्त्र, शेयर मार्केट में निवेश करने की सलाह के साथ-साथ, हमें यह भी बता सकता है की निवेशक को किन शेयर में निवेश करना चाहिए और किस क्षेत्र में निवेश लाभप्रद होगा इसकी भी सलाह दे सकता है। ऑटोमोबाइल, सूचना प्रौद्योगिकी, रसायन, कमोडिटी इन सभी में से कौन सा क्षेत्र ज्यादा लाभ दिला सकता है?

ज्योतिष

कुंडली में किन भावो पर देना चाहिए ध्यान?

सर्वप्रथम कुंडली में पंचम भाव को देखा जाना चाहिए। अगर पंचम भाव पर अशुभ ग्रहो का प्रभाव नहीं है तो शेयर में निवेश आपको लाभ दे सकता है। साथ में एकादश भाव (11th हाउस ) को भी देखा जाना चाहिए। साथ में हमारे धनभाव भी शुभ प्रभाव में होने चाहिए।

किन्हे हो सकता है अत्यधिक लाभ?

  1. सबसे महत्त्वपूर्ण बात की पंचम भाव का स्वामी यानि पंचमेश, एकादश भाव का स्वामी यानि नमेष और द्वितीय भाव का स्वामी यानि की धनेश, शुभ और मजबूत स्तिथि में होने चाहिए।
  2. साथ ही साथ पंचम भाव, एकादश भाव और धन भाव के बीच में कोई अन्तर्सम्बध बनता हो|
  3. या फिर पंचम भाव और एकादश भाव के स्वामी अथवा द्वादश भाव के स्वामियों की युति बन जाए तो जातक को मार्केट से लाभ हो सकता है।
किन्हे हो सकता है अत्यधिक लाभ?

बुद्ध भाव का प्रभाव:

बुद्ध ग्रह व्यापार और कमीशन का कारक होता है। शेयर मार्केट की ज्योतिष के लिए बुद्ध भाव को भी देखना जरूरी है। अगर आपका बुद्ध ग्रह अच्छा है तो आप शेयर बाजार में अच्छे सलाहकार भी बन सकते है|

राहु का प्रभाव:

अगर राहु पंचम भाव को देख रहा हो, लाभ भाव को देख रहा हो या लाभ स्थान पर आ जाये, तो भी आपको लाभ की संभावना है।

इस प्रकार किसी भी जातक को शेयर मार्केट में निवेश से पहले, किसी अच्छे ज्योतिषाचार्य से कुंडली का विश्लेषण जरूर कराना चाहिए।

अगर कुंडली में ग्रहो की दशा अच्छी न हो तो, मंत्र शास्त्र या रत्न शास्त्र की मदद से ग्रहो की ऊर्जा को सही दिशा में एकत्रित कर सकते है।

ग्रहो की कौन सी स्थिति आपको हानि पंहुचा सकती है?

अगर राहु दुसरे स्थान में है तो निवेश से बचे। साथ में सूर्य-राहु, राहु-चन्द्रमा, राहु-बृहस्पति की युति भी हानि पहुंचा सकती है। राहु के केंद्र में होने की अवस्था में भी शेयर बाज़ार में सफलता मिलती है, लेकिन शुरुआती निवेश ख़राब होने के बाद।

क्या हो सकते है सफल होने के लिए ज्योतिषीय उपाय?

  1. राहु मंत्र : ‘ॐ रां राहवे नम:’ का जाप सुबह शाम करे।
  2. गले में चांदी का सितारा पहने।
  3. बुधवार और शुक्रवार को मछलियों को आटे का टुकड़ा खिलाये।

शेयर मार्किट में निवेश के विषय में ज्योतिष सलाह प्राप्त करने के लिए आप हमारे ज्योतिषियों से संपर्क कर सकते है : बात करने के लिए लिंक पर क्लिक करें

व्यवसाय में गिरावट : ज्योतिष उपाय ज़रूर होगी पैसों की बरसात – पढ़ने के लिए क्लिक करे

 5,922 

WhatsApp

Posted On - November 12, 2019 | Posted By - Navneet Suryavanshi | Read By -

 5,922 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

Our Astrologers

1500+ Best Astrologers from India for Online Consultation