गुरु गोचर 2020- प्रत्येक राशि पर प्रभाव एवं राशिफल

गुरु गोचर 2020- प्रत्येक राशि पर प्रभाव एवं राशिफल

गुरु गोचर 2020- प्रत्येक राशि पर प्रभाव

ब्रहस्पति या गुरु ज्ञान और आध्यात्मिकता का ग्रह हैं। सौर मंडल में अपने विशाल महत्व के समान, ज्योतिषीय रूप से, हमारे जीवन में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, यह एक व्यक्ति के मस्तिष्क पर शासन करता है। यह व्यक्ति को उदार बनाता है और विनम्र, व्यावहारिक, बुद्धिमान और समृद्ध बनाने में योगदान देता है। 30 मार्च, 2020, सोमवार को शाम 06:00 बजे गुरु का मकर राशि में गोचर होगा। इस लेख में आगे आप सभी 12 राशियों पर इसके प्रभाव को पढ़ सकते हैं।

गुरु मन से संबंधित पहलू पर शासन करता है। जब गुरु प्रबल और लाभकारी स्थिति में होता है, तो यह आपको एक शिक्षक, प्रोफेसर, प्रबंधक, डॉक्टर और वकील जैसे पद प्राप्त करने में मदद करता है। साथ ही, इस ग्रह को देवताओं का शिक्षक भी माना जाता है। दो राशियों अर्थात् धनु और मीन के साथ इसके शासन में, गुरु कर्क राशि में उच्च और मकर राशि में नीच का माना जाता है।

गुरु 30 जून, 2020, मंगलवार को 03:07 बजे तक मकर राशि में रहने वाला है। इसके अतिरिक्त, 30 मार्च, 2020 से 14 मई, 2020 तक शीघ्र गति के कारण, गुरु मकर राशि में पश्चगामी अथवा प्रतिकूल गति में होगा। 13 सितंबर, 2020 को यह प्रत्यक्ष गति में वापस मिल जाएगा। इसके अलावा, यह 30 जून, 2020 को धनु राशि में गोचर करेगा और 20 नवंबर, 2020, शुक्रवार तक रहेगा।

यह आने वाला गुरु गोचर 12 राशियों के जीवन में क्या बदलाव लाएगा यह जानने के लिए आगे पढ़ें-

गुरु गोचर 2020 का मेष राशि पर प्रभाव

गुरु गोचर के दौरान, राजसी ग्रह गुरु आपके 9 वें भाव और १२ वे भाव के स्वामी होंगे। इसके अलावा, यह आपके 9 वें भाव में होगा। 9 वां भाव जीवन में गुरु या शिक्षक, यात्रा, धर्म, ज्ञान और तीर्थ यात्रा को दर्शाता है।

इस गोचर के दौरान आपके जीवन में सामंजस्य बना रहेगा। आप शैक्षिक पहलू में बहुत अच्छा करेंगे। साथ ही, आप अच्छे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य की उम्मीद कर सकते हैं। गुरु गृह की कृपा से आप स्वास्थ्य संबंधी लाभ में रहेंगे। वर्ष की शुरुवात में आपके 9 वें भाव में बृहस्पति आपको सीखने के मामले में अभूतपूर्व परिणाम देगा।

यह समय आपके जीवन में स्थिरता लाएगा। विशेषकर आपके करियर में, आपको बहुत से बदलाव प्राप्त होंगे। यह आपको हाल के दिनों की तुलना में सुख का अनुभव देगा। इसके अलावा, आपके वरिष्ठ आपके काम और प्रयास से बेहद खुश लग रहे हैं। यह आपके जीवन में अच्छा अनुभव लाएगा। यदि आप अपनी नौकरी बदलने के बारे में सोच रहे हैं, तो अब एक शानदार प्रस्ताव प्राप्त करने का सबसे अच्छा समय है। हालांकि, यदि आप अपनी वर्तमान नौकरी में रुचि रखते हैं, तो यह आपको फलदायी परिणाम भी देगा।

गुरु गोचर 2020 का वृषभ राशि पर प्रभाव

बृहस्पति गोचर 2020 के दौरान, गुरु ग्रह आपके 8 वें भाव और 11 वें भाव पर शासन करेगा। इसके अतिरिक्त, यह आपके 8 वें भाव में होगा। यह अचानक हानि और लाभ, मृत्यु और दीर्घायु पर शासन करता है।

वर्ष के पहले चरण में, बृहस्पति आपको अपनी कड़ी मेहनत के लिए पुरस्कृत फल देगा। यह परिणाम आपके लिए अच्छा माना जाएगा, खासकर यदि आप अनुसंधान और विज्ञान के क्षेत्र में हैं। इसके अतिरिक्त, यदि आप किसी विदेशी यात्रा करने की योजना बना रहे हैं, तो आप बेहतरीन अवसरों की उम्मीद कर सकते हैं। साथ ही, आप अपने रास्ते की सभी बाधाओं को दूर करेंगे।

इसके अलावा, यदि आप अपने पुराने सहकर्मीयों के साथ संपर्क बहाल करने की सोच रहे हैं, तो आप इसे अभी कर सकते हैं। यह इसके लिए अनुकूल समय है। इस गोचर के दौरान, आप बुद्धिमान लोगों से मिलेंगे। आप उनके लक्षणों की सराहना करेंगे। इसके अलावा, ये अत्यधिक अनुभवी बुद्धिजीवी आपको कई नई चीजें सीखने के मौके देंगे।

इस प्रकार, बहुत सारी सकारात्मकता आपके रास्ते में आ रही है।

गुरु गोचर 2020 का मिथुन राशि पर प्रभाव

मिथुन राशि के लिए, गुरु आपके 7 वें भाव और 10 वें भाव के स्वामी होंगे। इसके अतिरिक्त, यह आपके 7 वें भाव में होगा। 7 वां भाव आपके साथी या जीवनसाथी का प्रतिनिधित्व करता है। यह पूर्व जीवन की घटनाओं, संभावित अवसरों, परिजनों, सरलता, आध्यात्मिक प्रथाओं, आदि का घर है।

गोचर के दौरान गुरु की स्थिति आपके लिए काफी लाभदायक होगी। यह आपके स्वास्थ्य को प्रभावित करेगा और आपको अपने बारे में बेहतर महसूस कराएगा। इसके अलावा, आप लंबित कार्यों को पूरा करेंगे। यदि आप स्वयं का व्यवसाय करते हैं, तो यह फलदायी होगा। आपको achha मौद्रिक लाभ होंगे।

इसके अतिरिक्त, आप आर्थिक रूप से स्थिर महसूस करेंगे। महिला मित्र की मदद से आप अपने कठिन समय से बाहर निकलेंगे।

गुरु गोचर 2020 का कर्क राशि पर प्रभाव

गुरु गोचर आपको मिश्रित परिणाम प्रदान करेगा। इसलिए, चुनौतियों के लिए तैयार रहें।

कर्क राशि वालों के लिए, बृहस्पति ग्रह आपके 6 ठें और 9 वें भाव के स्वामी होंगे। इसके अतिरिक्त, यह आपके 6 वें भाव में होगा। यह ऋण, स्वास्थ्य और बीमारी को दर्शाता है।

इसलिए, गुरु गोचर 2020 आपके स्वास्थ्य पर ध्यान केंद्रित करेगा। आप अपनी वर्तमान स्वास्थ्य समस्याओं से छुटकारा पाने में सक्षम हो सकते हैं। इसे उसी तरह बनाए रखने के लिए, तलना, तैलीय और भारी भोजन के सेवन से बचें। पौष्टिक भोजन खाएं। अधिक पानी और फल लें। यह आपके पाचन तंत्र को पीड़ा से बचाएगा।

अगर आप शादीशुदा हैं या किसी रिश्ते में हैं, तो बातों का ख्याल रखें। विशेषकर, झगड़ा शुरू न करें। हालाँकि, समस्याओं की अनदेखी नहीं करते हैं। यह आपके रिश्ते को खट्टा कर सकता है।

गुरु गोचर 2020 का सिंह राशि पर प्रभाव

सिंह के लिए, बृहस्पति आपके ५ वें भाव और ८ वें भाव के स्वामी होंगे। इसके अतिरिक्त, यह आपके 6 वें भाव में होगा। यह बीमारी और दैनिक दिनचर्या का प्रतिनिधित्व करता है।

गोचर के दौरान आप स्वास्थ्य के मुद्दों पर संपर्क में रह सकते हैं। इसके अलावा, आपके प्रतिद्वंद्वी और दुश्मन आपको नीचे लाने की कोशिश करेंगे। हालाँकि, आप इससे जल्द ही उभर जाएंगे। यदि आप नौकरी बदलने की सोच रहे हैं, तो थोड़ी देर रुकें। यह जॉब स्विच करने का सही समय नहीं है।

निजी जीवन में, आपके साथी या जीवनसाथी के साथ आपके संबंध बेहतर होंगे। यह कई पहलुओं में लाभ प्राप्त करेगा। आप अपने निजी जीवन में खुश रहेंगे। इसके अलावा, तर्कों और संघर्षों से अच्छी दूरी बनाए रखें। जल्द ही, आपकी सभी समस्याएं समाप्त हो जाएंगी।

गुरु गोचर 2020 का कन्या राशि पर प्रभाव

गोचर के दौरान, शक्तिशाली बृहस्पति आपके चौथे भाव और 7 वें भाव के स्वामी होंगे। इसके अलावा, यह आपके 4th हाउस में होगा। यह आपकी जड़ों, माँ, खुशी, संपत्ति और भावनाओं को दर्शाता है।

यह गोचर आपको अपनी सीमाओं का विस्तार करने में मदद करेगा। विशेषकर व्यावसायिक क्षेत्र में, आपके प्रयास आपको बढ़ने में मदद करेंगे। आपके लिए अवसरों का एक बड़ा बक्सा होगा। आप अपने वर्तमान वेतन का आनंद लेंगे और आपके प्रयासों को आपके आस-पास के सभी लोगों द्वारा सराहा जाएगा। आर्थिक लाभ होने की संभावना है। इस प्रकार, आप जल्द ही एक पदोन्नति या एक बोनस प्राप्त कर सकते हैं।

इसके अलावा, यह समय आपको प्यार के लिए उत्सुक बना देगा। आपके पिछले वर्षों के बावजूद, यह परिवर्तन एक लौकिक हनीमून अवधि उत्पन्न करेगा।

गुरु गोचर 2020 का तुला राशि पर प्रभाव

तुला राशि के लिए, गुरु आपके तीसरे भाव और छठे भाव के स्वामी होंगे। इसके अतिरिक्त, यह आपके तीसरे भाव में होगा।

वर्ष की शुरुआत में, आप अपने जीवन का आनंद लेंगे। विशेषकर आपके दांपत्य जीवन में उत्साह और आनंद बढ़ेगा। आप अपने जीवनसाथी के प्रति वफादार और प्रतिबद्ध रहेंगे। यह आपके आसपास के अन्य लोगों के लिए एक उदाहरण स्थापित करेगा। वे आपकी आदतों का पालन करेंगे।

इस समय के दौरान, आपकी आत्मा के साथी के जीवन में कुछ महान सफलता की भविष्यवाणी की जाती है। गुरु गोचर के दौरान, आप संभवतः अपनी मां के करीब हो जाएंगे। उनका प्रोत्साहन और शिक्षाएँ आपके विकास के लिए महत्वपूर्ण हैं। साथ ही, आपके घर पर, शांति और सद्भाव होगा।

गुरु गोचर 2020 का वृश्चिक राशि पर प्रभाव

गोचर के दौरान, गुरु आपके दूसरे भाव और 5 वें भाव के स्वामी होंगे। इसके अलावा, यह आपके दूसरे घर में होगा। यह भाव लाभ, आय और मौद्रिक लाभों का प्रतिनिधित्व करता है।

इस अवधि के दौरान, आप समृद्धि प्राप्त करेंगे। यह आपके लिए एक सुनहरा दौर है। अपने कार्यस्थल पर, आपको अपने सहयोगियों से बहुत सलाह मिल सकती है। इसके अलावा, व्यापार में, यह पैसा निवेश करने और लाभ प्राप्त करने के लिए एक उज्ज्वल अवधि है। हालांकि, यदि आप एक नए व्यवसाय में शामिल होने के लिए सोच रहे हैं, तो थोड़ी देर के लिए रुकें।

बृहस्पति की कृपा से आपको अपनी गोद में कई नए प्रोजेक्ट मिलेंगे।

गुरु गोचर 2020 का धनु राशि पर प्रभाव

धनु राशि वालों के लिए बृहस्पति आपके पहले भाव और 4 वें भाव के स्वामी होंगे। इसके अतिरिक्त, यह आपके दूसरे भाव में होगा। यह भाव लाभ, धन और लाभ को दर्शाता है।

गोचर के दौरान, आप पढ़ाई और आध्यात्मिकता में अपनी रुचि को बढ़ाएँगे। इसके अलावा, ज्ञान का ग्रह, बृहस्पति ज्ञान प्राप्त करने में आपकी रुचि को आकर्षित करेगा। आप शिक्षा, विश्वास, आध्यात्मिकता और ज्ञान के क्षेत्र में रुचि रखेंगे।

गुरु आमतौर पर धनु राशि वालों के लिए उदार होता है। इस प्रकार, गोचर के दौरान, आपकी आय में वृद्धि प्राप्त होगी। यह आपकी स्वर्णिम अवधि होने वाली है।

गुरु गोचर 2020 का मकर राशि पर प्रभाव

बृहस्पति पारगमन के दौरान, यह आपके तीसरे भाव और 12 वें भाव के स्वामी होंगे। इसके अतिरिक्त, यह आपके 12 वें भाव में होगा। यह गुप्त भावनाओं, आराम, आध्यात्मिक शिक्षा, मनोगत शिक्षाओं, विदेश यात्राओं और यात्रा का प्रतिनिधित्व करता है।

यह स्थिति आपको विदेश यात्रा करने के लिए उचित अवसर लाएगी। आप आनंद के लिए की यात्रा कर सकते हैं। यह आपकी भावनाओं को बढ़ावा देगा। आप अपने साथी के साथ जुड़ेंगे और एक नए स्तर की समझ पैदा करेंगे।

जल्द ही, 30 मार्च, 2020 को बृहस्पति आपके ही राशि में गोचर करेगा। नतीजतन, आप सीखने और शिक्षा प्राप्त करने के लिए उत्सुक होंगे। आप अपने मूल स्वभाव के अनुसार कड़ी मेहनत करेंगे। इस प्रकार, यह आपको नाम और प्रसिद्धि दोनों प्राप्त करने के लिए प्रेरित करेगा। हालाँकि, गुरु गोचर आपके जीवन में थोड़ी परेशानी का कारण होगा। खासकर, अगर आपका कोई साथी है या आप शादीशुदा हैं, तो आपको उन पर ध्यान देने की जरूरत है।

इसके अलावा, इस समय आपको निवेश में पैसे लगाने का इरादा नहीं रखना चाहिए है। यह निश्चित रूप से अभी के लिए सबसे अच्छा विचार नहीं है। वित्तीय मामलों में, आपको अतिरिक्त सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

गुरु गोचर 2020 का कुम्भ राशि पर प्रभाव

कुंभ राशि के लिए, बृहस्पति आपके दूसरे भाव और 11 वें भाव के स्वामी होंगे। इसके अतिरिक्त, गोचर के दौरान आपके 11 वें भाव में रहेगा। यह प्रसिद्धि, पैसा, धन और लाभ का प्रतिनिधित्व करता है।

इस समय के दौरान आपको भारी मुनाफ़ा प्राप्त होगा। आपको एक से अधिक स्रोतों से आय प्राप्त होगी। आप अपने अधूरे कार्यों को पूरा करने में सक्षम होंगे। जैसे-जैसे आप कई लोगों से दोस्ती करेंगे आपके सामाजिक दायरे का विस्तार होगा।

इसके अलावा, आपके पास अपने दोस्तों के साथ एक अच्छा समय होगा। वे आपको घूमने-फिरने ले जाएंगे। गुरु आपके लिए विदेश यात्रा के बेहतरीन अवसर लाएगा। साथ ही, यदि आपके पास कोई कानूनी मामला लंबित है, तो आप उसे भी जीत लेंगे। आपके लिए जल्द ही बीमार होने की अधिक संभावना है। इस प्रकार, अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें।

गुरु गोचर 2020 का मीन राशि पर प्रभाव

गोचर के दौरान, बृहस्पति आपके 10 वें भाव के स्वामी होंगे। इसके अतिरिक्त, यह आपके 10 वें भाव में स्थित होगा। यह कैरियर, प्रतिष्ठा और प्रतिष्ठा का नियंत्रण करता है।

व्यवसाय में, आप एक महत्वपूर्ण दृष्टिकोण विकसित करेंगे। यह गोचर आपके कार्यस्थल पर आपके सभी प्रयासों का अच्छा फल देगा। आपके काम को सभी द्वारा देखा और सराहा जाएगा। यदि आप व्यवसाय शुरू करने की योजना बना रहे हैं, तो यह ठीक समय है। वर्तमान में, आपके पास अपने कार्यस्थल में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए बहुत ऊर्जा है। मकर राशि में बृहस्पति का गोचर आपके वेतन में आपको एक आश्चर्यजनक फल प्रदान करेगा।

आप शांत और हर्षित मनोदशा में होंगे। जब भी आवश्यक हो, दुनिया भर के लोग अधिक मित्रवत और सहायक हो सकते हैं।

साथ ही आप पढ़ना पसंद कर सकते हैं मंगल का मकर राशि में गोचर 2020- प्रत्येक राशि पर प्रभाव

गुरु गोचर से सम्बंधित जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें और भारत के बेहतरीन ज्योतिषी से परामर्श करें

 719 total views


Tags: , ,

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *