कौआ को कांव-कांव से नहीं, आपके जीवन के शुभ संकेतों से पहचानिए

कौआ को कांव-कांव से नहीं, आपके जीवन के शुभ संकेतों से पहचानिए

कौआ को कांव-कांव से नहीं, आपके जीवन के शुभ संकेतों से पहचानिए

याद है जब आपने उस कौवे की आवाज सुनके, अपने चेहरे पर एक चिड़ा हुआ सा भाव बनाया था? यही कौआ आपके शुभ समय का माध्यम बन सकता है। शकुन शास्त्र की मानें, तो कौआ हर होने वाले घटनाक्रम का पूर्वाभास कर, आपको शुभ संकेत देता है। आप ही इन्हें पहचानने में असमर्थ होते हैं। आइए, आपको बताते हैं ऐसे कुछ संकेत जो एक कौआ आपके शुभ समय के बारे में बताना चाह रहा है-

आपको हो सकता है धन का लाभ

  • यदि आप किसी यात्रा पर अग्रसर है और कौआ दिख जाए, तो आपकी यात्रा सफल होगी। केवल उस कौवे को एक बर्तन में मुंह डालकर पानी पीते हुए देखना होगा। इससे पैसे कमाने के भी आसार बढ़ते हैं।
  • जिसकी आवाज़ आपको कटु लगती है, अगर वही कौआ सुबह अपने पांव से आपको छूकर निकल जाए, तो आपको जल्द तरक्की व धन की प्राप्ति हो सकती है।
  • भोर के समय जिस आवाज़ को आप सुनना पसंद नहीं करते, अगर वही कौवे आपके घर के सामने बैठकर, वो ध्वनि आपको सुनाए, तो पैसे और इज्ज़त दोनों ही बढ़ने वाले हैं।
  • अगर आप अपने घर के सामने, कौवे को मुंह में अनाज या कोई धूल, मिट्टी, रेत, फल या फूल के साथ देखें, तो अकस्मात ही दौलत में वृद्धि हो सकती है।

कौआ बता रहा है, आपके इच्छा की हो सकती है पूर्ति

  • आपने कौवे को अकसर रोटी अथवा मांस खाते हुए देखा होगा, तब आप नहीं जानते होंगे कि ये संकेत आपके लिए कितना लाभदायक है। इसका अर्थ है कि आप जो चाहते हैं, वो पूर्ण होने वाला है।
  • आपकी राह में कोई कौआ, तोरण पर बैठा दिखाई दे, तब भी आप जो चाहते हैं, वो पूर्ण होगा।

आप अपने शुभ घड़ी में प्रवेश करने वाले हैं

  • आपकी किस्मत के अशुभ समय को खोदकर, शुभ समय का संकेत कौआ लाता है। यदि आप किसी भी कौवे को ज़मीन खोदता हुआ देखें, तो इसका अर्थ है आपका शुभ समय आने वाला है।
  • कभी उड़ते हुए कौवे को मुंह में कपड़े का टुकड़ा लटकाए देखें, तो समझ जाइएगा कि आपका शुभ समय निकट है।
  • यात्रा करते समय, एक और शुभ संकेत है जो कौआ आपके जीवन में ला सकता है। यदि सफ़र पर जाते वक़्त, कौआ आपके दाएं तरफ हो और अपनी ध्वनि सुनाते हुए उसी दिशा में उड़ जाए, तो सफर पर निकलने के उद्देश्य सार्थक ही होंगे।
  • आपके जीवन में स्त्री सुख दस्तक देने वाली है, इसका आंकलन आप इससे कर सकते हैं कि दोपहर शुरू होने के पहले उत्तर या पूर्वी दिशा में कौआ एक वृक्ष पर बोलता हुआ आपको सुनाई पड़ेगा।
  • कोई भी महिला अगर सर पर मटका रखे जा रही हो, और उस मटके के पानी को कौआ पी ले या उस मटके पर बैठ जाए, तो वो महिला जल्द ही अपने जीवन के सुखद समय में प्रवेश करने वाली होती है।
  • यदि कहीं जाते समय, आप दो कौवों को एक दूसरे को खाना खिलाते देखें, तो समझ जाना चाहिए कि अच्छा वक्त आ रहा है।
  • प्रातः काल कांव-कांव का स्वर अगर घर के सामने से आए, तो यह किसी अतिथि के घर आने का सूचक होता है।

इसे भी पढ़ें- बरमूडा ट्रायंगल का रहस्य- क्या वेदों में लिखित सूत्र

 417 total views


Tags: , , , , ,

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *