खाने मे बाल निकलना: ज्योतिष के अनुसार जानें क्यों निकलता है बार बार खाने में बाल?

खाने मे बाल
WhatsApp

कई बार हम अपने आस-पास कुछ ऐसी बातों को देखते हैं जिसका हमारे जीवन में कुछ न कुछ महत्व जरूर होता है। वहीं कभी-कभी किसी बात का संकेत आने वाले समय में होने वाली किसी अनहोनी को दर्शाता है, तो कभी कोई घटना जातक के जीवन में शुभ संकेत लेकर आती है।आपको बता दें ऐसी बहुत सी घटनाएं हैं जिनका जिक्र हमारे शास्त्रों में भी किया गया है। साथ ही कई घटनाओं के लिए हमारे शास्त्रों में अलग-अलग बातें कही गयी हैं जैसे- खाने के पहले हाथ और पैर धोकर बैठना चाहिए, खाना शुरू करने से पहले भोजन मंत्र का उच्चारण जरुर करें और अगर आपके खाने में बाल निकलता है, तो आपको क्या करना चाहिए?

यह भी पढ़े –Jyotish yog – यहां जानें ज्योतिष योग से जुडी सारी जानकारी

कई बार ऐसा होता है कि हम खाना खाने बैठते है। लेकिन पहले कोर में ही खाने में बाल निकल जाता है। जहां कुछ लोग इस बात को काफी गंभीरता से लेते है। वही कुछ लोगों को इस बात की सही जानकारी ना होने के कारण वह इस संकेत को समझ नही पाते। आपको बता दें कि खाने मे बाल निकलना ज्योतिष शास्त्र में काफी महत्वपूर्ण संकेत माना जाता है।

आपको बता दें कि ऐसे बहुत से संकेत होते है जो हमारे जीवन में होने वाली घटनाओं की जानकारी देते है। लेकिन उस बात क्या ज्ञान ना होने के कारण कुछ लोग उस संकेत समझ नही पाते है। चलिए जानते है कि खाने मे बाल निकलने का सही अर्थ क्या है। साथ ही इस सकेंत से जातक के जीवन में क्या परिवर्तन होता है-

खाने में बाल निकलने पर क्या कहता है ज्योतिष शास्त्र

वैसे कभी न कभी तो आपके खाने में बाल जरूर निकला होगा? आपको बता दें यह एक आम बात हो सकती है। क्योंकि घर में कभी बालों को धोते समय या कंघी करते समय बाल उड़कर आपके खाने में जा सकता है। हालांकि, एक या दो बार खाना खाते समय खाने में बाल निकलना एक आम प्रक्रिया हो सकती है। लेकिन अगर ये  बार-बार आपके साथ होता है, तो ये किसी अशुभ घटना का संकेत हो सकता है। हालांकि, जिस खाने में से बाल निकलता है उसे खाने का मन नही करता है और शास्त्रों की मानें तो ऐसा खाना बिल्कुल भी खाना नहीं चाहिए। यह आपकी हेल्थ के लिए ठीक नही होता है।

खाने मे बाल निकलना सेहत के लिए हो सकता है नुकसानदायक

अगर आप किसी ऐसे खाने को खाते हैं जिसमें बाल निकला हो, तो वह खाना आपके स्वास्थ्य को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है। आपको इस तरह के भोजन को खाने से बचना चाहिए। आपको बता दें कि इस तरह का भोजन आपकी सेहत को काफी नुकसान पहुंचा सकता है। साथ ही खाने में बाल कई रोगों को भी जन्म देने जैसा हो सकता है। वैसे बाल आपके मुंह में ही रह जाता है। लेकिन यदि ये आपके शरीर के अंदर चला जाता है, तो इससे कारण आपको थ्रोट इंफेक्शन जैसी परेशानियां तक हो सकती हैं। दरअसल बालों में एक तरह का बैक्टीरिया होता है और अगर ये बैक्टीरिया खाने में पहुंच जाता है, तो शरीर को काफी ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है।

पितृदोष के कारण निकलता है खाने में बाल

आपको बता दें कि खाना खाते समय कभी-कभी खाने में बाल का निकलना आम माना जाता है। लेकिन अगर किसी एक ही जातक के खाने में बाल बार-बार निकलता है, तो यह पितृ दोष का संकेत भी हो सकता है। वहीं अगर यह पितृ पक्ष के दौरान होता है, तो यह इस बात का संकेत देता है कि आपके पूर्वज आपसे नाराज़ हैं। ऐसे में जातक को अपने जीवन में बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही आपको पितृ दोष से निवारण के लिए काम करना चाहिए और पितरों की शांति के लिए पूजन भी करना चाहिए।

पितृदोष के लक्षण

  • आपको बता दें कि पितृ दोष होने पर जातक के जीवन में संतान का सुख नहीं मिल पाता है। 
  • वहीं अगर किसी जातक को संतान सुख मिलता भी है, तो कई बार संतान विकलांग होती है, मंदबुद्धि होती है या फिर चरित्रहीन होती है या कई बार बच्‍चे के जन्म के तुरंत बाद ही मृत्‍यु हो जाती है।
  • साथ ही नौकरी और व्‍यवसाय में मेहनत करने के बावजूद भी जातक को काफी हानि होती है।
  • पितृ दोष के कारण परिवार में अक्‍सर कलह बने रहना या फिर परिवार में एकता न होना। और परिवार में शांति का अभाव होना पितृ दोष के लक्षण है।
  • साथ ही परिवार में किसी न किसी व्‍यक्ति का सदैव अस्‍वस्‍थ बने रहना। और इलाज करवाने के बाद भी जातक को ठीक न हो पाना।
  • वहीं परिवार में विवाह योग्‍य लोगों का विवाह न हो पाना या फिर विवाह होने के बाद तलाक हो जाना या फिर पारिवारिक संबंध में अलगाव रहना।
  • आपको बता दें कि पितृदोष होने के कारण जातक को अपनों से ही धोखा मिलता है।
  • साथ ही पितृदोष होने पर व्‍यक्ति बार-बार दुर्घटना का शिकार भी होता है। वहीं जातक के जीवन में होने वाले मांगलिक कार्यों में कई बाधाएं आती हैं।
  • इतना ही नही पितृ दोष के कारण परिवार के सदस्‍यों पर अक्‍सर किसी प्रेत बाधा का प्रभाव बना रहता है। साथ ही घर में अक्‍सर तनाव और क्‍लेश रहता है।

किन कारणों से उत्पन्न होता है पितृदोष

  • पितृ दोष पितरों का विधिवत अंतिम संस्कार और श्राद्ध न करने के कारण होता है।
  • साथ ही पितरों की विस्‍मृति या अपमान करने के कारण भी जातक को पितृ दोष का सामना करना होता है।
  • वहीं धर्म के विरुद्ध आचरण करना भी पितृ दोष का बड़ा कराण है।
  • साथ ही पीपल, नीम और बरगद के पेड़ को कटवाना जातक के लिए पितृ दोष उत्पन्न करता है।
  • वहीं नाग की हत्‍या करना या फिर किसी से करवाना भी पितृ दोष का कारण होता है।

यह भी पढ़े – परीक्षा में सफलता पाने के लिए करें ये अचूक ज्योतिषीय उपाय

इन उपायों से दूर होगा पितृ दोष 

  • आपको बता दें कि कुंडली में पितृ दोष होने पर व्‍यक्ति को दक्षिण दिशा में पितरों की फोटो लगाकर उनको रोजाना माला चढ़ाकर उनका स्‍मरण करना चाहिए। 
  • साथ ही पूर्वजों का आशीर्वाद मिलने के साथ ही पितृदोष के प्रभाव समाप्‍त होने लगते है और जातक के जीवन से परेशानी भी दूर हो जाती है।
  • इसी के साथ पूर्वजों के निधन की तिथि पर ब्राह्मणों को श्रृद्धापूर्वक भोजन करवाएं और यथाशक्ति दान भी करना चाहिए।
  • पितृ दोष के लिए जातक को घर के पास में लगे पीपल के पेड़ पर दोपहर में जल चढ़ाना चाहिए। 
  • साथ ही पुष्‍प, अक्षत, दूध, गंगाजल और काले तिल भी पीपल पर चढ़ाएं। वही आपको अपने पितरजनों को याद करना चाहिए।
  • पितृ दोष को दूर करने के लिए शाम के वक्‍त रोजाना दक्षिण दिशा में एक दीपक जरूर जलाएं। अगर आप रोजाना नहीं जला सकते हैं, तो आपको पितर पक्ष में दीपक जरूर जलाएं।
  • अपनी कुंडली में पितृदोष दूर करने के लिए किसी गरीब कन्‍या का विवाह करने या फिर विवाह में मदद करने से भी आपको बहुत लाभ होता है।
  • आपको बता दें कि इन उपायों की सहायता से आप पितृदोष से छुटकारा पा सकते है।
  • इसी के साथ आपको पितृदोष के निवारण के लिए किसी अनुभवी ज्योतिष से सलाह जरुर लें।
  • वहीं पितृदोष से छुटकारा पाने के लिए आपको शिव जी की मूर्ति के सामने ॐ तत्पुरुषाय विद्महे महादेवाय च धीमहि तन्नो रुद्र: प्रचोदयात मंत्र का जाप करना चाहिए।
  •  साथ ही आपकोअपने पितरों की मुक्ति के लिए श्रद्धापूर्ण ढंग से प्रार्थना करनी चाहिए।  

यह भी पढ़े – विवाह में देरी – यहाँ जाने ज्योतिषीय कारण और उपाय

अधिक जानकारी के लिए आप AstroTalk के अनुभवी ज्योतिषियों से बात करें।

अधिक के लिए, हमसे Instagram पर जुड़ें। अपना साप्ताहिक राशिफल पढ़ें।

 1,222 

WhatsApp

Posted On - February 28, 2022 | Posted By - Jyoti | Read By -

 1,222 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

Our Astrologers

1500+ Best Astrologers from India for Online Consultation