सूर्य देव को प्रसन्न कर जीवन में लाएं सुखद परिवर्तन

सूर्य देव को प्रसन्न कर जीवन में लाएं सुखद परिवर्तन

सूर्य देव को प्रसन्न कर जीवन में लाएं सुखद परिवर्तन

सूर्य देव को हमारी भारतीय संस्कृति में हमेशा से ही पूजनीय माना जाता है। ये आध्यात्मिक शक्ति का केंद्र के साथ वैज्ञानिक शक्ति का भी केंद्र हैं। पूरे समाज का अंधकार दूर करके रोशनी और ऊर्जा का संचार करते हैं सूर्य देव, इसीलिए हम सूर्य को समाज की आत्मा कह सकते हैं। सूर्य देव सारी परेशानियों को दूर करने वाले हैं और इनको प्रसन्न करना कठिन नहीं है। वैसे तो आपको सातों दिन सूर्य भगवान की पूजा करनी चाहिए लेकिन यदि समय का अभाव हो तो आप रविवार के दिन ज़रूर पूजा करें क्योंकि यह दिन सूर्य देव को बहुत प्रसन्न है।

क्यों करें सूर्य देव को प्रसन्न

भगवान सूर्य तेज, ऊर्जा और समृद्धि प्रदान करने वाले हैं। इनकी पूजा और उपासना करने से जहां मान – सम्मान, यश और धन – संपदा की प्राप्ति होती है तो वहीं दूसरी ओर ये भक्तों की मनोकामनाओं को पूर्ण भी करते हैं। अगर आप निरोगी काया चाहते हैं तो भी आपको सूर्य देव की पूजा अवश्य करनी चाहिए, इससे कुष्ठ रोग जैसे भयानक रोगों से भी मुक्ति मिलती है। एक स्वस्थ और सुखद जीवन जीने के लिए हर व्यक्ति को सूर्य देव की म करनी चाहिए।

कैसे करें सूर्य देव को प्रसन्न

सूर्य देव को प्रसन्न करने के लिए आप कुछ सरल उपाय अपना सकते हैं। जैसे :-

  • प्रतिदिन सुबह जल्दी उठकर नित्य कर्मों से निवृत्त हो, स्नान करने के बाद सूर्य देव को जल चढ़ाएँ।
  • सूर्य देव को अर्घ्य देते समय यानि कि जल अर्पित करते हुए आपको “ॐ घुणि: सूर्य आदित्य: मंत्र” का जाप करना चाहिए। जल चढ़ने के अलावा आप जब भी भगवान सूर्य का पूजन या स्मरण करें तब भी इस मंत्र का जाप करना शुभ फलदायी हो सकता है।
  • आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ भी सूर्य भगवान को बहुत प्रिय है जिससे आपा उन्हें प्रसन्न कर सकते हैं।
  • साफ कपड़े पहनकर घर के मंदिर में या किसी पवित्र स्थान पर उनकी कोई मूर्ति या चित्र लगाएँ। फिर उनको प्रणाम करें और मिष्ठान्न आदि चढ़ाकर उनकी कथा कहें और आरती करें।
  • सूर्य भगवान को आक के फूल बहुत पसंद हैं, इसीलिए ये अर्पित करके भी आप उन्हें प्रसन्न कर सकते हैं।
  • रविवार के दिन उपवास रखें। अगर उपवास करना संभव न हो तो कम से कम एक बार का भोजन न करें।

सूर्य देव को प्रसन्न करने के यह उपाय भी हैं कारगर

  • रविवार को तेल और नमक न खाना भी शुभ फल दे सकता है।
  • जब भी भोजन करें तो उससे पहले भगवान आदित्य का स्मरण कर उन्हें धन्यवाद दें।
  • सूर्य देव के अनिष्ट प्रभाव से बचने के लिए आप सूर्य संक्रांति या सूर्य ग्रहण पर तांबा, गेंहू या गुड़ जैसी वस्तुओं का सामर्थ्य अनुसार दान भी कर सकते हैं। आप इस दान को किसी भी हफ्ते में रविवार के दिन भी कर सकते हैं।
  • कुंडली में सूर्य को मजबूत करने के लिए आपको रविवार के दिन हवन भी करना चाहिए। इस हवन के लिए आवश्यक सामग्री और मुहूर्त के लिए आप किसी विद्वान पंडित से सलाह ले सकते हैं।
  • दान कर्म से भगवान सूर्य बहुत जल्दी प्रसन्न होते हैं। इसीलिए रविवार के दिन आप कुछ मीठा बनाकर भगवान का भोग लगाएँ और फिर उसे स्वयं आप और आपका परिवार प्रसाद रूप में ग्रहण कर सकते हैं। फिर इस मीठे व्यंजन को गरीबों में बाँट दें।

इन सरल से उपायों को अपनाकर आप अपने जीवन में महत्वपूर्ण परिवर्तन ला सकते हैं। भगवान सूर्य को प्रसन्न करके आप बहुत सी परेशानियों से मुक्ति पा सकते हैं और जीवन को सुखद बना सकते हैं। आरोग्य शक्ति से संबन्धित लाभ हों या पिता के लाभ की बात हो तो सूर्य को प्रसन्न रखना और उनकी आराधना करना ज़रूरी है। इसीलिए अपने जीवन में हर किसी को ये कर्म ज़रूर करने चाहिए।

यह भी पढ़ें- जानिए सूर्य आराधना स्वास्थ्य और धार्मिक दृष्टि से क्यों है महत्वपूर्ण?

 159 total views


Tags: ,

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *