बुरी नजर के लक्षण और इससे बचाव के तरीके

बुरी नजर
WhatsApp

संसार में प्रत्येक व्यक्ति यही चाहता है कि वह एक खुशहाल और सफल जिंदगी जिए और यही ख़ुशी उसके परिवार में भी बनी रहे। जीवन का एक सत्य यह भी है कि सुख और दुःख निरंतर एक दूसरे का स्थान भी लेते रहते हैं। लेकिन कई बार परिस्तिथियाँ ऐंसी भी बनती है कि आपका बना बनाया काम बिगड़ने लगता है, अचानक जो सफलता आपको मिल रही थी वह रुक जाती है। आप कितनी भी मेहनत कर रहे हो लेकिन आपका काम नहीं बन पा रहा है।

अथवा ये हो सकता है कि परिवार में बेवजह झगडे शुरू होने लगे हो। घर में अशांति की अधिकता हो रही हो। अथवा रुपयों की तंगी, बीमारी या कोई और अपशकुन होने लगे हो। वजह कुछ भी सकती है लेकिन एक मुख्य वजह जो हो सकती है वो है बुरी नजर।

क्या है बुरी नजर लगना

बुरी नजर जिसे कुदृष्टि या नजर दोष भी कहा जाता है। मनुष्य के जीवन में ग्रहों का खेल काफी अहम् होता है। इन ग्रहों की सकारात्मक ऊर्जा जहाँ व्यक्ति को सफलता के चरम पर पंहुचा देती है, वही इनका नकारात्मक प्रभाव भी इंसान के जीवन में उथल पुथल मचा सकता है। यही नकरात्मक शक्ति जब इंसान की शक्तिशाली इन्द्रिय यानी की आँख से हो कर गुजरती है तो उसी से उत्पन्न होने वाली हानि को बुरी नजर लगना कहा जाता है।

लक्षण

इसके कारण इंसान को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस समस्या से सिर्फ व्यक्ति विशेष ही नहीं आपके परिवार का कोई ही सदस्य प्रभावित हो सकता है। यह दोष एक नन्हे से शिशु से लेकर घर के सबसे बुजुर्ग व्यक्ति को भी अपने चपेट में ले सकती है। व्यक्ति, सम्पति, घर, नौकरी किसी भी क्षेत्र में रुकावट पैदा करके आपको नुकसान पहुंचा सकती है। इनके अलावा भी अन्य तरीको से आप प्रभावित हो सकते है जैसे कि

  • अचानक से आपके फलते फूलते हुए व्यापार में घाटा होने लगता है। अथवा आपकी नौकरी में व्यधान उत्पन्न होने लगेंगे। जैसे कि आपकी होने वाली तरक्की रुक जाती है या बॉस कि नज़रों में आप गलत दिखने लगते हो या साथ में काम करने वालों कि नजर में खटकने लगते हो।
  • बने हुए काम बिगड़ने लगते है और आपकी जी-तोड़ भरी मेहनत भी आपके किसी काम को बना नहीं पा रही हो।
  • बेवजह के गृह कलेश होने लगते है। घर में छोटी- छोटी बातों पर बड़े झगडे होने शुरू हो जाते हैं।
  • कुछ भी काम नहीं बनने पर आप हताशा के कारण मानसिक तनाव के शिकार हो सकते हो।
  • शारीरिक बीमारी आपको या किसी प्रियजन को घेर सकती है। पल में हँसता खेलता बच्चा रोग से ग्रस्त हो सकता है।
  • आपकी अपने घनिष्ठ मित्र आपसे दूरियां बना सकते हैं या किसी बात पर आपकी आपस में एक-दूसरे के साथ अनबन भी हो सकती है।

कारण

ज्योतिष के विद्वान बताते है की यदि किसी व्यक्ति की जन्म कुंडली में राहु और चन्द्रमा अति पीड़ित अवस्था में विराजमान है तो इस तरह की कुदृष्टि उस व्यक्ति के जीवन को प्रभावित करती रहती है। इसके अलावा अगर किसी की राशि में पाप और कुरुर ग्रहों का साम्राज्य स्थापित है तो भी उस व्यक्ति को यह नकारात्मक शक्ति घेर लेती है।

उपाय

बुरी नजर से बचने अथवा उसका प्रभाव ख़तम करने के लिए कुछ उपाय किये जा सकते हैं।

  • नींबू के चार टुकड़ों को किसी चैराहे पर ले जाके चारों दिशाओं में फेंक दें
  • मंगलवार या शनिवार को हनुमान जी के दर्शन करके, उनके सिन्दूर से तिलक लगा सकते हैं
  • शनिवार या रविवार को मिटटी के बर्तन में नजर लगे व्यक्ति के ऊपर से सात बार कच्चा दूध को उतार कर कुत्ते को दे दें
  • घी लगी हुयी रोटी को भी पीड़ित व्यक्ति के ऊपर सात बार उतार कर कुत्ते को दें खिला सकते हैं
  • किसी काले कपडे में नारियल लपेट कर घर के मुख्य द्वार पर लटका दें

यह भी पढ़ें- योग का शरीर और मन से होता है यह संबंध

 1,781 

WhatsApp

Posted On - June 8, 2020 | Posted By - Ajaybisht | Read By -

 1,781 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

Our Astrologers

1500+ Best Astrologers from India for Online Consultation