बुरे सपने से कैसे बचें, इसके लिए करें कुछ आसान उपाय

बुरे सपने से कैसे बचें
WhatsApp

नींद में सपने देखना एक आम घटना है, जिसे नवजात शिशु से लेकर वृद्ध व्यक्ति तक अनुभव करते हैं। हमारे जीवन में सपने भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वह इसलिए क्यूंकि जिस प्रकार के सपने हम आम तौर पर निद्रावस्था में देखते हैं, उसका प्रभाव हमारे जीवन पर भी पड़ता है। हम अच्छे या लुभावने सपने भी देखते हैं और बुरे या भयानक सपने भी देखते हैं। बुरे सपने हमारे जीवन पर अधिकांश समय नकारात्मक प्रभाव भी डालते हैं, जिसका असर यह होता है कि हमारे साथ अप्रिय घटना घटित हो जाती है और हम दुःखी हो जाते हैं। अब प्रश्न यह है कि बुरे सपने से कैसे बचें?

बुरे सपने से कैसे बचें? इस प्रश्न का उत्तर न जाने कितने लोग ढूंढ रहे होंगे। किन्तु आपकी यह खोज, इस आलेख पर समाप्त होने जा रही है वह इसलिए क्योंकि हम आपको आज कुछ ऐसे आसान उपाय बताएंगे जिससे आपको ‘बुरे सपने से कैसे बचें?‘ इस प्रश्न का उत्तर प्राप्त हो जाएगा। यह सभी उपाय भारत की प्राचीन एवं प्रमाणित विद्या ज्योतिष विद्या द्वारा बताई गई है, जिसे सिद्ध ऋषियों ने शास्त्रों में संगठित किया है। आप अपने जीवन में इन आसान उपायों को अपनाकर अशुभ सपनों के दुष्प्रभाव से स्वयं को एवं अपने परिवार के सदस्यों को बचा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: जानिए वर्ष 2022 में किन-किन भाग्यशाली राशियों के लिए बन रहे हैं शुभ विवाह योग

बुरे सपने से बचने के आसान उपाय

ध्यान एवं आध्यात्मिक शांति अपनाएं

योग हमारे जीवन में बहुत अहम भूमिका निभाते हैं, जिसे वैज्ञानिकों ने भी सिद्ध किया है। इसलिए मन एवं मस्तिष्क से बुरे विचारों को निकाल फेंकने के लिए आपको ध्यान एवं योग का सहारा अवश्य लेना चाहिए। प्रतिदिन कम से कम आधा घंटा समय योग को समर्पित करें। साथ ही ध्यान लगाते समय अपने आराध्य का भी स्मरण करें। यदि आप ऐसा रोज करते हैं, तो आप कई प्रकार के बिमारियों से भी बच सकते हैं और बुरे सपने से भी।

किन्तु यदि आपके पास बिलकुल भी समय नहीं है, तब जिस दिन आपको बुरा सपना सबसे अधिक परेशान करता है, उस दिन अपने आराध्य का चरण स्पर्श कर आशीर्वाद प्राप्त करें और उनके चरणों में सामर्थ्य अनुसार चढ़ावा चढ़ाएं। और वह चढ़ावा किसी जरूरतमंद को दे दें, इससे आप पर प्रभाव कम पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: कुछ ऐसी भारतीय परंपराएं जिनके पीछे छिपे हैं वैज्ञानिक तर्क

गणपति जी आराधना करें

भगवान गणेश को विघ्नहर्ता भी वर्णित किया गया है, इसलिए किसी भी शुभ कार्य से पहले इनकी आराधना हिन्दू प्रथा के अनुसार आवश्यक है। साथ ही यदि आपको बुधवार की रात को कोई बुरा सपना परेशान करता है, तो उसके अगले दिन भगवान गणपति की आराधना करें और उन्हें नारियल चढ़ाएं। ऐसा करने से आप आने वाले संकट को टाल सकते हैं।

तुलसी आराधना से संकट टाल सकते हैं

यदि आपने सोते समय बुरा सपना देखा है तो, आप घर में रखे तुलसी के पौधे के पास जाएं और शुद्ध मन से उनकी आराधना करें। साथ ही भगवान विष्णु की आराधना पूरी श्रद्धा से करें और उन्हें अपनी परेशानी से अवगत कराएं। इससे आपके ऊपर मंडरा रहे संकट से आपको छुटकारा मिलेगा।

यह भी पढ़ें: जानिए आपकी हथेली पर धन रेखा आपके विषय में क्या कहती है

प्रभु हनुमान जी का ध्यान करें

शास्त्रों में संकटमोचक हनुमान जी को ‘सभी दुःखों को हरने वाला’ वर्णित किया गया है। इसलिए हमारे घर के बड़े बुजुर्ग हर दिन यह सलाह देते हैं कि सोने से पहले हमेशा हनुमान चालीसा का पाठ करिए। ऐसा करने से सोते समय हमारे मन की सभी हीन भावनाएं नष्ट हो जाती हैं। और यदि आपको रात को सोते समय किसी प्रकार का बुरा सपना दर्शित होता है, तो घबराएं ना और बजरंगबली का ध्यान करें। इससे आपका मन एवं मस्तिष्क शांत मुद्रा में लौट आएगा। साथ ही आप स्वयं को संकट से बचाने में सफल होंगे।

दान करें

शास्त्रों में कहा गया है कि दान करने से कई संकट एवं नकारात्मक प्रभाव दूर हो जाते हैं। इसलिए मनुष्य को अपने जीवन में समय-समय पर दान करना चाहिए। आपको बता दें की ‘बुरे सपने से बचने‘ के लिए आपको दान करते रहना चाहिए। कुछ ऐसे आसान चीजें हैं जिन्हे दान करने से आप बुरे सपने से होने वाली परेशानियों से छुटकारा पा सकते हैं।

१. रात को कोई बुरा सपना देखते हैं तो अगले दिन भगवान शिव को सफेद रंग के फूल चढ़ाएं। इसके अलावा आप सफेद चीजों का दान करें। साथ ही किसी जरूरतमंद को चावल या चीनी दान करें। 

२. यदि आप गुरुवार की रात को सोते समय परेशान करने वाला सपना देखते हैं तो अगले दिन पीले कपड़े के साथ हल्दी और चने की दाल का दान करें। इससे दुष्प्रभाव का असर कम होगा।

३. यदि आप शुक्रवार की रात को बुरा सपना देखते हैं, तो अगले दिन चावल, मिश्री, सफेद मिठाई और बताशे का दान अवश्य करें।

४. अगर रविवार को अगर आप कोई बुरा सपना देखते हैं, तो उसके अगले दिन सुबह मंदिर में या किसी जरूरतमंद को गुड़ या लाल कपड़े का दान करें।

यह भी पढ़ें: जानिए किन-किन कारणों से आपके विवाह में हो रही है देरी!

महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें

शास्त्रों में वर्णित है कि महामृत्युंजय मंत्र भगवान शिव का सबसे प्रभावशाली मंत्र है। नितदिन इस मंत्र के जाप करने से आप कई प्रकार के कष्टों से मुक्त हो जाएंगे। साथ यह मंत्र आपको बुरे सपनों के दुष्प्रभाव से भी आपको सुरक्षित रखेगा। महामृत्युंजय मंत्र है:

ॐ हौं जूं सः ॐ भूर्भुवः स्वः ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्

उर्वारुकमिव बन्धनान्मृ त्योर्मुक्षीय मामृतात् ॐ स्वः भुवः भूः ॐ सः जूं हौं ॐ।

अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए AstroTalk के अनुभवी ज्योतिषियों से बात करें

अधिक के लिए, हमसे Instagram पर जुड़ें। साथ ही अपना साप्ताहिक राशिफल पढ़ें।

 997 

WhatsApp

Posted On - December 9, 2021 | Posted By - Shantanoo Mishra | Read By -

 997 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

Our Astrologers

1500+ Best Astrologers from India for Online Consultation