ज्योतिष शास्त्र से जानें गौरी शंकर रुद्राक्ष का महत्व और फायदे

गौरी शंकर रुद्राक्ष
WhatsApp

अगर किसी जातक को विवाह से जुड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है, तो भगवान शिव और गौरी की पूजा जातक के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद होती है। ऐसा कहा जाता है कि जो भी जातक भगवान शिव और गौरी माता की पूजा करता है, तो उसके जीवन की सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं। इसी के साथ विवाह से जुड़ी सारी समस्याओं का समाधान हो जाता है। लेकिन क्या आप गौरी शंकर रुद्राक्ष के बारे में जानते हैं? आपको बता दें कि यह रुद्राक्ष वैवाहिक जातकों के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होता है। जो भी व्यक्ति इस रुद्राक्ष का उपयोग करता है उसके जीवन की सभी परेशानियां दूर हो जाती है। साथ ही साथ उसका दांपत्य जीवन भी परेशानियों से मुक्त हो जाता है।

आपको बता दें कि रुद्राक्ष भगवान शिव का प्रतिनिधित्व करता है और जो भी जातक इसे धारण करता है, तो उस जातक को भगवान शिव का आशीर्वाद प्राप्त होता है। साथ ही साथ उसकी सारी समस्या भी दूर हो जाती हैं, इसीलिए गौरी शंकर रुद्राक्ष जातक के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। हिंदू धर्म में रुद्राक्ष को अत्यधिक महत्वपूर्ण माना जाता है। साथ ही रुद्राक्ष को काफी शक्तिशाली माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि रुद्राक्ष नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करता है और सकारात्मक ऊर्जा का आगमन करता है। इसी के साथ जो व्यक्ति रुद्राक्ष पहनता है यह उसकी रक्षा करता है। चलिए जानते हैं कि रुद्राक्ष का क्या महत्व होता है और इसे धारण करने से जातक को क्या लाभ होता हैं-

यह भी पढ़ें-महावीर जयंती 2022: कब है 2022 में महावीर जंयती और इसका महत्व

ज्योतिष शास्त्र में रुद्राक्ष का महत्व

आपको बता दें कि रुद्राक्ष को ज्योतिष शास्त्र में काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। क्योंकि रुद्राक्ष पर भगवान शिव की कृपा होती है और जो भी जातक रुद्राक्ष को धारण करता है, उसकी सभी परेशानियां नष्ट हो जाती हैं। इसीलिए गौरी शंकर रुद्राक्ष जातकों के लिए लाभदायक होता है। ऐसा कहा जाता है कि जो भी जातक रुद्राक्ष को धारण करता है उस पर भगवान शिव की विशेष कृपा होती है और रुद्राक्ष उस व्यक्ति की मुश्किलों से रक्षा करता है। साथ ही साथ रुद्राक्ष नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करता है और सकारात्मक ऊर्जा का आगमन करता है। इसी के साथ गौरी शंकर रुद्राक्ष का स्वामी ग्रह शुक्र होता है।

छह मुखी रुद्राक्ष को धारण करने पर जातक को अनेक प्रकार के लाभ और वैभव प्राप्त होता है। जो व्यक्ति रुद्राक्ष को धारण करता है उस व्यक्ति का व्यक्तित्व काफी आकर्षित हो जाता है। साथ ही विवाह में सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं और उसके जीवन में सकारात्मकता और सफलता का रास्ता खुल जाता है। इसीलिए रुद्राक्ष जातक के लिए लाभदायक होता है।

यह भी पढ़ें-Chaitra Navratri 2022: इस चैत्र नवरात्रि बन रही है ग्रहों की ऐसी दशा, होगा इन राशि के जातकों को विशेष लाभ

गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करने की विधि

  • गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करने के लिए सावन और महा शिवरात्रि का दिन काफी ज्यादा शुभ माना जाता है।
  • इसके अलावा आप रुद्राक्ष को शुक्ल पक्ष में किसी भी सोमवार मासिक शिवरात्रि, स्वार्थ सिद्धि योग में अभिमंत्रित करके धारण कर सकते हैं।
  • इसी के साथ रुद्राक्ष धारण करते समय आपको स्वच्छ वस्त्र पहनकर पूर्व दिशा की ओर मुख करके बैठना चाहिए।
  • साथ ही रुद्राक्ष को चांदी की कटोरी में रख कर उसे गंगाजल और कच्चे दूध से धोकर और साफ कपड़े से साफ करना चाहिए।
  • उसके बाद चांदी की कटोरी को सुखा कर उसमें दोबारा गौरी शंकर रुद्राक्ष रखें और चंदन, अक्षत आदि अर्पित करके एक माला ओम नमः शिवाय बोलकर अर्पित करें।
  • इसके बाद ओम अर्धनारीश्वराय नमः मंत्र का जाप करना चाहिए।
  • उसके बाद आपको चांदी की चेन या लाल धागे में रुद्राक्ष डालकर गले में धारण कर लेना चाहिए। 

यह भी पढ़ें-महावीर जयंती 2022: कब है 2022 में महावीर जंयती और इसका महत्व

गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करने के नियम

  • रुद्राक्ष धारण करने के लिए आपको यह खुद के पैसों से ही खरीदना चाहिए, क्योंकि दूसरों के पैसे से खरीदा गया रुद्राक्ष आपको फायदा नहीं देगा।
  • इसी के साथ रुद्राक्ष धारण करने के लिए सावन या शिवरात्रि का दिन शुभ माना जाता है।
  • आपको बता दें कि सोमवार का दिन भगवान शिव को समर्पित होता है, इसीलिए आप सोमवार को रुद्राक्ष धारण कर सकते हैं।
  • गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करने के लिए आपको ज्योतिष की सलाह के अनुसार अपनी कुंडली की जांच करवाने के पश्चात रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।
  • रुद्राक्ष काफी पवित्र माना जाता है, इसीलिए और स्वच्छ हाथों से ही इसे छूना चाहिए।
  • जो भी जातक रुद्राक्ष धारण करता है उस व्यक्ति को मांस और मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • इसी के साथ रुद्राक्ष को पूजा करने के बाद मंत्रों से अभिमंत्रित करने के बाद ही धारण करना चाहिए।
  • अगर आपने कहीं से ताजा रुद्राक्ष यानी फल से निकाला गया रुद्राक्ष लिया है, तो सबसे पहले उसे तेल में डुबो देना चाहिए।
  • इसी के साथ गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करने वाले व्यक्ति को रोजाना भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए।
  • रुद्राक्ष पहनने वाले व्यक्ति को अपना आचरण ठीक रखना चाहिए।

गौरी शंकर रुद्राक्ष पहनने के स्वास्थ्य लाभ

  • जो व्यक्ति रुद्राक्ष धारण करता है उसे शारीरिक और मानसिक लाभ होता है।
  • इसी के साथ रुद्राक्ष को हृदय पर धारण करने से जातक की हृदय सेहत काफी लाभदायक रहती है।
  • साथ ही हाई ब्लड प्रेशर और तनाव को कम करने में रुद्राक्ष काफी लाभदायक होता है।
  • जो भी जातक गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करता है उसे सकारात्मक ऊर्जा और शक्ति का अनुभव होता है।

रुद्राक्ष को धारण करने के लाभ

  • जो जातक रुद्राक्ष धारण करता है उसे अपने जीवन में काफी लाभ होता है।
  • रुद्राक्ष धारण करने से जातक की सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं।
  • इसी के साथ रुद्राक्ष धारण करने से महालक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहती है इससे आपको धन लाभ होता है।
  • साथ ही जातक को अपने जीवन में सभी प्रकार की सुख-सुविधाएं भी प्राप्त होती हैं।
  • वही रुद्राक्ष धारण करने से व्यक्ति के पापकर्म नष्ट हो जाते हैं।
  • ग्रहों के कमजोर स्थिति में होने के कारण व्यक्ति को कभी-कभी अपनी जिंदगी में अधिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है।
  • जिन लोगों की ग्रह दशा ठीक नही होती है उन्हें रुद्राक्ष पहनने से काफी लाभ प्राप्त होता है। 

वैवाहिक जीवन पर रुद्राक्ष का प्रभाव

  • गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करने से माता पार्वती और शिव दोनों की कृपा जातक को प्राप्त होती है।
  • इसी के साथ शिव और पार्वती की पूजा करने से जातक की वैवाहिक समस्या दूर हो जाती है।
  • गौरी शंकर रुद्राक्ष धारण करने से पति-पत्नी के रिश्ते मजबूत होते हैं।
  • इसी के साथ जिन लोगों को संतान सुख नहीं मिल पा रहा होता है, गौरी शंकर रुद्राक्ष पहनने से उनकी सारी मनोकामना शीघ्र पूर्ण हो जाती है।
  • साथ ही रुद्राक्ष नकारात्मकता को दूर करके सकारात्मक ऊर्जा देता है। इससे घर-परिवार में सुख-शांति बनी रहती है।

रुद्राक्ष धारण करने के लिए मंत्र

  • आपको ओम अर्धनारीश्वराय नमः मंत्र का जाप करके रुद्राक्ष धारण करना चाहिए।
  • इसी के साथ ओम नमः दुर्गाए मंत्र का जाप रुद्राक्ष धारण करने के लिए करना चाहिए।

अधिक जानकारी के लिए आप Astrotalk के अनुभवी ज्योतिषियों से बात करें।

अधिक के लिए, हमसे Instagram पर जुड़ें। अपना साप्ताहिक राशिफल पढ़ें।

 572 

WhatsApp

Posted On - April 8, 2022 | Posted By - Jyoti | Read By -

 572 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

Our Astrologers

1500+ Best Astrologers from India for Online Consultation