स्वप्न ज्योतिष: ये 10 सपने आएं तो समझिए हो सकता है पैसों का नुकसान

स्वप्न ज्योतिष: ये 10 सपने आएं तो समझिए हो सकता है पैसों का नुकसान

स्वप्न ज्योतिष ये 10 सपने आएं तो समझिए हो सकता है पैसों का नुकसान

सपने हर इंसान को आते हैं। बहुत से लोग इसे भविष्य में होने वाली घटनाओं से जोड़कर भी देखते हैं। हिंदू धर्म में भी सपनों से जुड़ी कईं भ्रांतियां प्रचलित हैं। ज्योतिष में भी सपनों का विशेष महत्व बताया गया है। स्वप्न ज्योतिष में अनेक सपनों तथा उनसे जुड़े फलों का वर्णन मिलता है। आज हम आपको कुछ ऐसे सपनों के बारे में बता रहे हैं, जो हमें धन हानि के बारे में बताते हैं-

स्वप्न ज्योतिष- सपने जिनसे होता है पैसों का नुकसान

  • स्वप्न ज्योतिष के अनुसार सपने में यदि किसी को खाली बैलगाड़ी दिखाई दे तो उसे आर्थिक नुकसान हो सकता है।
  • यदि कोई स्वप्न में स्वयं को घर का फर्नीचर या खिड़की तोड़ते हुए देखे तो शीघ्र ही उसकी स्थिति भिखारी जैसी हो सकती है।
  • अगर आपको कोई ऐसा सपना दिखाई दे जिसमें आप स्वयं को दिवालिया घोषित कर दें तो उस व्यक्ति का व्यवसाय पूरी तरह से चौपट हो सकता है।
  • जब कोई व्यक्ति सपने में किसी नगर पर विमानों को बम बरसाता हुआ देखता है, तो उसकी अचल संपत्ति नष्ट होने के योग बनते हैं।
  • यदि कोई व्यक्ति सपने में स्वयं को कहीं जाता हुआ देखता है तथा अंधेरा हो जाए तो उस व्यक्ति को गंभीर आर्थिक संकट का सामना करना पड़ सकता है।
  • यदि किसी को सपने में उल्लू दिखाई देता है तो उसे धन हानि होती है तथा अन्य कष्ट भी उठाने पड़ सकते हैं।
  • कोई यदि व्यापारी स्वयं को गड्ढे में गिरता देखता है तो व्यापार में बड़ी हानि होने के योग बन सकते हैं।
  • जो व्यक्ति सपने में सोना मिलता हुआ देखता है, उसे धन-संपत्ति की हानि हो सकती है।
  • सपने में यदि कोई समाचार पत्र में अपने संबंधियों का समाचार पढ़ता है तो उसे भी धन हानि हो सकती है।
  • यदि कोई धनवान व्यक्ति सपने में चिडिय़ा को रोते हुए देखता है तो शीघ्र ही वह सड़क पर आ सकता है यानी उसका धन, वैभव व ऐश्वर्य आदि सभी कुछ नष्ट हो सकता है।

आगे आप पढ़ना पसंद कर सकते हैं मंगल का गोचर- मेष राशि में प्रवेश करेंगे मंगल 

ऐसी ही रोचक ज्योतिष सम्बंधित जानकारियों के लिए हमें इंस्टाग्राम पर फॉलो करें।

 255 total views


Tags: , ,

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *