जाने कैसे लाफिंग बुद्धा ला सकते हैं आपके जीवन में फायदे ?

जाने कैसे लाफिंग बुद्धा ला सकते हैं आपके जीवन में फायदे ?

जाने कैसे लाफिंग बुद्धा ला सकते हैं आपके जीवन में फायदे

वास्तु शास्त्र घर में हमें किन चीजों को रखना चाहिए, किस दिशा में रखना चाहिए और इन बातों का क्या महत्व है, इसका ज्ञान देते हैं। वह घर में सकारात्मकता बनाए रखने ज्ञान देते हैं। ऐसे ही दूसरे संस्कृति के वास्तु शास्त्र, फेंगशुई के अनुसार लाफिंग बुद्धा को घर में रखने से काफी सकारात्मकता आती है। लाफिंग बुद्धा को अच्छे लक का सूचक माना जाता है।

लाफिंग बुद्धा कौन थे?

लाफिंग बुद्धा जापान से थे। वे महात्मा बुद्धा के अनुगामी थे। उन्होंने ज्ञान अर्जित किया। इसके बाद, लोग उनसे उनकी हंसने की आदत के वजह से आकर्षित होने लगे। दरअसल, उन्होंने अपने पूरे जीवन सिर्फ हंसना फिर शुरू कर दिया जिससे कि वे काफी लोगों में प्रख्यात हो गए। इसलिए, ऐसा माना जाने लगा कि घर में लाफिंग बुद्धा के भिन्न आकार-विकार की मूर्तियों को रखने से हर जगह सकारात्मक ऊर्जा फैलती है। इन मूर्तियों को रखने से संबंधित ऐसे कई तरीके व फायदे हैं, जिनके बारे में फेंगशुई में बताया गया है। जानिए, इनमें से कुछ फायदे-

आर्थिक समस्या से जूझने में करेगा मदद

यदि आप किसी भी तरह के आर्थिक दिक्कत का सामना कर रहे हैं, चाहे वह कर्ज चुकाना हो, पैसों की कमी हो या और कोई दिक्कत हो, तो ऐसे वक्त आपको घर में ऐसी मूर्ति को रखना चाहिए, जिसमें लाफिंग बुद्धा ने हाथ में गठरी ली हो या फिर स्वर्ण लिया हो। इसका यह अर्थ होता है कि उन्होंने अपनी गठरी में आपके सारे समस्याओं को भर लिया है और आपके पास जल्दी कोई शुभ समाचार आने को है। हाथों में स्वर्ण लेने वाली मूर्ति का अर्थ यह होता है कि आपके घर धन बरसने वाला है।

बार-बार यात्रा करने वाले लोगों की यात्रा होगी मंगलमय

यदि अब काम से संबंधित या किसी और कारण से बारंबार यात्रा करते हैं, तो घर में लाफिंग बुद्धा के ऐसे प्रतिमा को लाएं जिसके दाएं कंधे पर झूला हो और दूसरे हाथ में पंखा हो। ऐसा करने से यह सुनिश्चित होता है, कि यात्री की यात्रा सुरक्षा और सुख दोनों से भरपूर होगी।

मन हो बेचैन तो ले आएं, लाफिंग बुद्धा की ये मूर्ति

अगर आपके मन का चैन कहीं खो गया है, और आप अमन व शांति के तलाश में हैं, तो हाथों में माला और ध्यान में लीन हुए लाफिंग बुद्धा की मूर्ति को घर ले आएं। इससे आपके मन को खोई हुई शांति वापस मिल पाएगी। यह ज्ञान अर्जित करने का प्रतीक है।

रोग को पहचानने और दूर भगाने में करेगा मदद

यदि आप, आपका कोई परिवार जन या कोई जान पहचान का व्यक्ति, खराब स्वास्थ्य होने की वजह से परेशान हैं और बीमारी का पता भी नहीं चल पा रहा है, तो हाथ में पीला फल पकड़े हुए लाफिंग बुद्धा की मूर्ति को उनके समीप रख दें। देखिएगा, जल्द ही स्वास्थ्य में सुधार आएगा और बीमारी का कारण भी पता चल पाएगा।

जीवन में प्रसन्नता का वातावरण बनाए रखने के लिए

हर इंसान जीवन को हर्ष के साथ बिताना चाहता है। कम दिक्कतें और ज़्यादा खुशी के वातावरण को लाने के लिए आपको घर में लाफिंग बुद्धा की मूर्ति रखनी चाहिए। उस मूर्ति में उन्होंगे कमंडल को पकड़े हुए, हाथ फैलाए हैं। यह हाथ फैलाना आपके हाथ फैलाते हुए, खुशी का स्वागत करने का प्रतीक है। माना जाता है कि इससे घर में तनाव कम और खुशी का माहौल ज़्यादा समय तक रहता है।

बच्चों में एकाग्रता लाने के लिए लाएं लाफिंग बुद्धा की ये मूर्ति

लाफिंग बुद्धा की पांच बच्चों के साथ वाली मूर्ति को घर में रखने से, बच्चे अपने पढ़ाई और जीवन में ध्यान लगते हैं और उनकी एकाग्रता भंग न होने में भी मदद मिलती है। इससे एक खुश जीवन का संकेत मिलता है।

व्यापार में मुनाफा चाहिए तो लाएं ये मूर्ति

अगर आपको अपने व्यापार का फायदा देखना है, तो नौके में बैठे लाफिंग बुद्धा को रिसेप्शन टेबल पर रख दें।

लोगों की लगती नज़र से बचने के लिए

अगर आपको लगता है कि किसी की कुदृष्टि आप पर या घर पर है या किसी भी तरह से घर में कोई नकारात्मक ऊर्जा महसूस होती है, तो ड्रैगन के साथ बैठी हुई मुद्रा में लाफिंग बुद्धा की मूर्ति को घर ले आएं।

ऐसी मूर्ति लाएं, और असमंजस की स्थितियों से निजात पाएं

धातु से बनी लाफिंग बुद्धा की काली मूर्ति को घर लाना, आपको किसी भी फैसले को लेने में सहायक है। याद रहें, यह मूर्ति हंसती हुई होनी चाहिए। इस मूर्ति से किसी भी धर्म संकट या फैसले लेते समय आ रही दिक्कतों से जूझने की शक्ति मिलती है।

लाफिंग बुद्धा की मूर्तियों को बाथरूम, किचन, डाइनिंग टेबल या बेडरूम में भी रखने से बचें। इसे घर के प्रमुख दरवाज़े के सम्मुख पूर्व दिशा की ओर रखने का प्रयास करें। आप इसे विद्यार्थी के कमरे में भी रख सकते हैं या दफ्तर के रिसेप्शन एरिया में भी रखा जा सकता है। मूर्ति को कभी भी ज़मीन पर ना रखते हुए, आंखों के स्तर तक रखने का प्रयास करें।

यह भी पढ़ें- विवाह के बाद भी ऐसे लोगों के होते हैं अवैध संबध

 329 total views


Tags: , ,

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *