Makar sankranti 2022: इस मकर संक्रांति बन रहा है, अद्भुत संयोग

Posted On - January 10, 2022 | Posted By - Jyoti | Read By -

 1,068 

मकर संक्रांति

Makar sankranti 2022: जनवरी के महीने की शुरुआत हो चुकी है। और साथ ही त्योहारों की भी शुरुआत हो गई है। जनवरी माह में मकर संक्रांति के त्योहार को अलग – अलग जगह बड़ी ही धूम – धाम से मनाया जाता है। 

आपको बता दें कि ज्योतिषी विज्ञान के अनुसार जब सूर्य धनु राशि से निकलकर मकर राशि में प्रवेश करता है, तब मकर संक्रांति का त्यौहार मनाया जाता है। इस साल यह त्योहार 14 जनवरी, शुक्रवार को पूरे देशभर में बड़ी धूम – धाम से मनाया जाएगा। साथ ही इस साल कई अद्भुत संयोग भी बन रहे हैं, जो राशियों के लिए बेहद खास होने वाले हैं।

यह भी पढ़े- ज्योतिषी ने भविष्यवाणी की थी कि मैं अक्षय से शादी करूंगी: ट्विंकल खन्ना

मकर संक्रांति महत्व

मान्यताओं के अनुसार मकर संक्रान्ति के पावन मौके पर नदी में स्नान करना, दान आदि करने से व्यक्ति के पुण्य का प्रभाव बढ़ जाता है। साथ ही इस दिन मलमास के खत्म होने के बाद शुभ माह की शुरुआत होती है। इतना ही नहीं इस दिन को सुख समृद्धि का दिन भी माना जाता है।

यह भी पढ़े – ज्योतिष शास्त्र के अनुसार डिप्रेशन के उपाय

मकर संक्रान्ति पर अद्भुत संयोग

ज्योतिषी के अनुसार इस बार मकर संक्रान्ति रोहिणी नक्षत्र में शुरू हो रही है। वहीं रोहिणी नक्षत्र 14 जनवरी को यानी शुक्रवार को शाम 08 बजकर 18 मिनट तक होगी। माना जाता है कि इस नक्षत्र में दान, स्नान, मंत्र जाप आदि करने से शुभ फल की प्राप्ति होती हैं। इतना ही नहीं इस दिन रोहिणी नक्षत्र के साथ – साथ ब्रह्रायोग और आनंदादि योग भी बन रहे है। यह योग काफी शुभ माने जाते है।

यह भी पढ़ें – ये राशि के लोग होते है बेहद शक्तिशाली, डटकर करते है हर मुश्किल का सामना

किस राशि पर होगा शुभ प्रभाव

वृषभ राशि

  • इस राशि के लिए मकर संक्रांति का दिन काफी शुभ रहेगा। 
  • वृषभ राशि वाले सूर्य के परिवर्तन के दौरान जो भी कार्य करेंगे, उसमें उन्हें सफलता अवश्य मिलेगी।
  • इस राशि के लोगों की रुचि धार्मिक कार्यों में बढ़ सकती हैं।
  • वृषभ राशि के जातकों को रोजाना सूर्य नमस्कार करना चाहिए। इससे आप पर सूर्य की कृपा सदैव बनी रहेगी।
  • सूर्य की कृपा से आप समाज में मान प्रतिष्ठा हासिल कर पाएंगे।
  • इस त्यौहार पर आपको काफी खुशियां प्राप्त होने वाली है।
  • वहीं इस गोचर से आप अपने जीवन में काफी आगे बढ़ सकते है।

यह भी पढ़ें – Vishnu rekha: भाग्यशाली होते हैं वह लोग, जिनके हाथों में मौजूद होती है विष्णु रेखा

सिंह राशि

  • सूर्य के गोचर से सिंह राशि वालों को बड़ा लाभ होने वाला है।
  • जनवरी को होने वाला सूर्य गोचर सिंह राशि वालों के लिए आर्थिक स्थिति को मजबूत करेगा।
  • साथ ही यह जातक अपने जीवन में मान-सम्मान की प्राप्ति करेंगे।
  • इसी के साथ जिस कार्य में यह लोग काफी लंबे समय से जुड़े हुए हैं, उस कार्य में उन्हें सफलता मिल जाएगी।
  • साथ ही आपका कोई फंसा हुआ धन आपको वापस मिल जाएगा।
  • आपको अपनी कोशिश करते रहना चाहिए। आपको उसका फल जरुर मिलेगा।
  • यह त्यौहार आपके लिए खुशियां लेकर आएगा।

वृश्चिक राशि

  • 14 जनवरी को होने वाले सूर्य गोचर वृश्चिक राशि वालों के लिए काफी लाभदायक होगा।
  • वृश्चिक राशि के लोगों को उनके कार्यक्षेत्र पर काफी प्रशंसा प्राप्त होगी।
  • साथ ही यह जातक अपने जीवन में काफी आगे जाएंगे।
  • वहीं करियर में आगे बढ़ने के नए रास्ते भी आपके सामने आ सकते हैं।
  • साथ ही आर्थिक क्षेत्र में आपको लाभ होगा।
  • इसी के साथ आपके द्वारा किए गए सभी कार्यों में आपको सफलता प्राप्त होगी। 
  • यह गोचर आपके लिए ढेर सारी खुशियां लेकर आएगा।

यह भी पढ़ें – शनिदेव को इन उपायों से करें प्रसन्न, सभी दुःख होंगे दूर

मकर राशि

  • मकर राशि को शनि राशि भी कहा जाता है और 14 जनवरी को होने वाले सूर्य के प्रवेश से मकर को काफी लाभ होने वाला है।
  • वहीं इस राशि के जातकों का समाज में मान सम्मान अधिक हो सकता है।
  • आपको बता दें कि इस राशि के जातकों को नौकरी मे पदोन्नति मिल सकती है।
  • इसी के साथ मकर राशि के जातकों की कार्य क्षेत्र पर उनके कार्य की काफी सराहना की जाएगी।
  • वहीं आपको किसी तरह का बड़ा पद मिल सकता है।
  • साथ ही इन जातकों का आर्थिक क्षेत्र बहुत मजबूत रहने वाला है।
  • यह मकर संक्रांति आपके लिए ढेर सारी खुशियां लेकर आएगी।
  • मकर राशि वालों के लिए यह गोचर आर्थिक क्षेत्र के लिए काफी अच्छा रहने वाला है।

यह भी पढ़ें – भूमि पूजन मुहूर्त 2022: नए साल में घर का निर्माण शुरू करने का सबसे अच्छा दिन

मकर संक्रांति पर क्या करें

  • इस दिन नदियों में स्नान, तीर्थ, दान, देव कार्य और मंगल कार्य आदि किए जाते हैं।
  • वहीं इस दिन इन कार्यों को करने से विशेष लाभ होता है।
  • आपको बता दें कि भीष्म पितामह ने अपने प्राण त्यागने के लिए इस दिन तक की प्रतीक्षा की थी।
  • सूर्य उदय होने के बाद खिचड़ी बनाकर और गुड़ के लड्डू बनाकर सूर्य देव को चढ़ाने चाहिए।
  • आप खिचड़ी और गुड़ के लड्डू का दान आदि भी कर सकते है।
  • इस दिन अपने नहाने के पानी में तिल डालकर स्नान करना चाहिए।
  • साथ ही आपको ओम नमो भगवते सूर्याय नमः या ओम सूर्याय नमः मंत्र का जाप जरूर करना चाहिए।
  • इस पावन मौके पर सूर्य देव की पूजा करना काफी लाभदायक होता है।
  • आपको इस पावन मौके पर सूर्य देव को जल जरूर चढ़ाना चाहिए।
  • सूर्य देव की पूजा करने से व्यक्ति पर सूर्य देव की कृपा बनी रहती हैं।
  • साथ ही सूर्य देव व्यक्ति के जीवन में आने वाली सभी छोटी बड़ी परेशानियों से उसको बचाते है।

अधिक जानकारी के लिए आप AstroTalk के अनुभवी ज्योतिषियों से बात करें।

अधिक के लिए, हमसे Instagram पर जुड़ें। अपना साप्ताहिक राशिफल पढ़ें।

 1,069 

Our Astrologers

1500+ Best Astrologers from India for Online Consultation