Mor Pankh: वास्तु दोष ही नही ग्रह दशा भी ठीक करता है मोर पंख, जानें मोर पंख से जुड़े ज्योतिष उपाय

Mor Pankh
WhatsApp

ज्योतिष में मोर पंख काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। साथ ही इसे नवग्रह का प्रतीक भी कहा जाता है। इसी के साथ इस पंख की सहायता से कुंडली के दोषों के साथ-साथ घर का वास्तु दोष भी दूर किया जा सकता है। ऐसा माना जाता है कि मोर का पंख अपने आसपास रखने से नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव कम पड़ता है। और जातक के आसपास सकारात्मक शक्तियां उत्पन्न होती हैं। इसीलिए ज्योतिष शास्त्र में मोर का पंख शुभ माना जाता है।

हिंदू धर्म में मोर का पंख बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि भगवान श्री कृष्ण को यह पंख बहुत प्रिय था। यही कारण है कि श्री कृष्ण सदैव अपने सिर पर मोर पंख को धारण करते थे। इसके अलावा कई और देवी देवता जैसे भगवान गणेश जी, कार्तिकेय, माता सरस्वती, इंद्र देव आदि भी मोर पंख को बहुत पसंद करते हैं। आपको बता दें कि मोर का पंख ना केवल धार्मिक बल्कि ज्योतिष मे भी महत्व रखता है। माना जाता है कि जिस घर में मोर पंख होता है उस घर का सारा अमंगल खत्म हो जाता है। चलिए जानते हैं कि पंख से जुड़े ज्योतिष उपाय- 

यह भी पढ़ेंःविवाह शुभ मुहूर्त 2023: जानें साल 2023 में विवाह के लिए शुभ मुहुर्त और तिथि

ज्योतिष शास्त्र में मोर पंख का महत्व

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार घर में मोर पंख रखना शुभ माना जाता है क्योंकि मोर पंख रखने से घर से सारी नकारात्मक शक्तियां खत्म हो जाती हैं और सकारात्मकता का आगमन होता है। इसी के साथ में जिस भी घर में पंख होता है उस घर में कभी भी अमंगल नहीं होता। इसीलिए ज्योतिष में पंख काफी महत्वपूर्ण और शुभ माना जाता है। साथ हीपंख से वास्तु दोष को भी दूर किया जा सकता है। इतना ही नहीं पंख से ग्रह दशा भी सुधारी जाती है इसीलिए यह पंख काफी महत्वपूर्ण होता है।

यह भी पढ़े- vastu tips 2022: जानें क्या कहता है दुकान का वास्तु शास्त्र और व्यापार में वृध्दि के अचूक ज्योतिष उपाय

मोर पंख को घर में रखने के लाभ

मोर पंख काफी सुंदर और शुभ माना जाता है इसीलिए इसे घर में रखना जातक के लिए काफी लाभदायक होता है और इसे घर में रखना काफी शुभ माना जाता है। चलिए जानते हैं पंख के क्या लाभ होते हैंः

  • आपको बता दें कि अपने घर में मोर पंख रखने से घर का वास्तु दोष दूर होता है।
  • साथ ही इस पंख के कारण नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है और सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव होता है।
  • इसके अलावा यह पंख भगवान श्री कृष्ण और माता लक्ष्मी को काफी प्रिय है। ऐसा माना जाता है कि मंदिर में मोर पंख रखकर प्रतिदिन पूजा करने से धन की देवी प्रसन्न होती और घर में धन का आगमन होता है।
  • अपने वैवाहिक जीवन में मधुरता लाने के लिए जातक को अपने बेडरूम में बांसुरी के साथ मोर का पंख रखना चाहिए। इस उपाय को करने पर आपको फलदायी बदलाव देखने को मिल सकते है।
  • अगर आपके घर में पैसा नहीं टिकता है, तो आपको मोर पंख अपने घर में रखना चाहिए।
  • आपको बता दें कि घर की दक्षिण दिशा में तिजौरी को रखकर उसमें एक मोर पंख रख दे, वास्तु के इस नियम के अनुसार घर में धन की कभी भी कमी नहीं होगी।
  • बुरी नजर से बचने के लिए इस पंख को चांदी के एक ताबीज में रखकर उसे अपने बच्चे को या जिस व्यक्ति को नजर लगती है उसे पहना दे। इसे उपाय से नजर दोष दूर होता है।

ग्रह दशा के लिए मोर पंख

शनि ग्रह

अगर आप शनि ग्रह के दुष्प्रभावों से गुजर रहे हैं, तो आपको मोर पंख का सहारा लेना चाहिए। आपको शनिवार के दिन तीन मोर पंख लेकर उसके नीचे काले रंग का धागा बांधें और एक थाली में पंखों को एक साथ 3 सुपारियां रखें और उसमें गंगा जल चढ़ाते हुए 21 बार इस मंत्र ॐ शनैश्वराय नमः जाग्रय स्थापय स्वाहा:. का जाप करें। उसके बाद आपको तीन मिट्टी के दीपक तेल सहित शनि देवता के सामने जलाने  चाहिए। और  गुलाब जामुन का प्रसाद बनाकर चढ़ाना चाहिए इससे शनि संबंधित सभी दोष दूर हो जाते हैं।

चंद्र ग्रह

चंद्र ग्रह के लिए आपको सोमवार को 8 मोर पंख लेकर इसके नीचे सफेद रंग का धागा बांधना चाहिए। इसके बाद एक थाली में इन पंखों के साथ आठ सुपारी रखनी चाहिए और उस पर गंगा जल चढ़ाते हुए 21 बार इस मंत्र का ॐ सोमाय नमः जाग्रय स्थापय स्वाहा:.  जाप करना चाहिए। साथ ही पान के पांच पत्ते चंद्रमा को अर्पित करें और बर्फी का प्रसाद चढ़ाएं इससे आपको काफी लाभ होगा।

मंगल ग्रह

मंगल दोष को दूर करने के लिए आपको मंगलवार के दिन सात मोर पंख लेकर उसके नीचे लाल धागा बांधना चाहिए। उसके बाद एक थाली में पंखों के साथ सात सुपारियां रखें। उन पर गंगाजल डालें और 21 बार ॐ भू पुत्राय नमः जाग्रय स्थापय स्वाहा:.  मंत्र का जाप करना चाहिए। बाद में पीपल के 2 पत्तों पर चावल रखकर मंगल ग्रह को अर्पित करें और बूंदी का प्रसाद चढ़ाना चाहिए इससे जातक का मंगल दोष दूर होता है।

बुध ग्रह

बुधवार के दिन आपको 6 मोर पंख लेकर उसके नीचे हरा धागा बांधना चाहिए और एक थाली में पंखों के साथ 6 सुपारी रखे उस पर गंगा जल चढ़ाते हुए ॐ बुधाय नमः जाग्रय स्थापय स्वाहा:.  मंत्र का जाप करना चाहिए। उसके बाद जामुन बुध ग्रह को अर्पित करने चाहिए और केले के पत्ते पर रखकर मीठी रोटी का प्रसाद चढ़ाएं।

गुरु ग्रह

गुरुवार को 5 मोर पंख लेकर उसके नीचे पीले रंग का धागा बांधना चाहिए और एक थाली में पंखों के साथ पांच सुपारी रखनी चाहिए। गंगा जल चढ़ाते हुए 21 बार  ॐ बृहस्पते नमः जाग्रय स्थापय स्वाहा:. मंत्र का जाप करना चाहिए और 11 केले बृहस्पति देवता को अर्पित करने चाहिए। साथ ही बेसन का प्रसाद बनाकर गुरु ग्रह को चढ़ाना चाहिए।

शुक्र ग्रह

साथ ही शुक्रवार को चार पंख लेकर उसके नीचे गुलाबी रंग का धागा बांधकर एक थाली में पंखों के साथ चार सुपारी ऱख कर गंगाजल डलते हुए 21 बार ॐ शुक्राय नमः जाग्रय स्थापय स्वाहा:. मंत्र का जाप करना चाहिए। उसके बाद आपको 3 मीठे पान शुक्र देवता को अर्पित करने चाहिए और गुड़ चने का प्रसाद बनाकर उन्हें चढ़ाना चाहिए।

सूर्य ग्रह

रविवार के दिन आपको 9 पंख लेकर उनके नीचे मेहरून रंग का धागा बांधकर एक थाली में इन पंखों के साथ 9 सुपारियां रखनी चाहिए। उसके बाद गंगाजल छिड़कते हुए 21 बार ॐ सूर्याय नमः जाग्रय स्थापय स्वाहा:. मंत्र का जाप करना चाहिए और दो नारियल सूर्य भगवान को अर्पित करने चाहिए।

राहु ग्रह

शनिवार के दिन आप को सूर्य उदय से पहले दो मोर पंख लेकर उसके नीचे भूरे रंग का धागा बांधकर एक थाली में इन पंखों के साथ दो सुपारी रखकर और उन पर गंगाजल छिड़कते हुए 21 बार ॐ राहवे नमः जाग्रय स्थापय स्वाहा:.  मंत्र का जाप करना चाहिए और चौमुखा दीपक जलाकर राहु को अर्पित करना चाहिए। उसके बाद किसी भी तरह का मीठा प्रसाद बना कर राहू ग्रह को चढ़ाना चाहिए।

केतु ग्रह

केतु ग्रह के दुष्प्रभावों से बचने के लिए आपको शनिवार को सूर्य अस्त होने के बाद एक पंख लेकर उसके नीचे सलेटी रंग का धागा बांधकर एक थाली में पंख के साथ एक सुपारी रखकर गंगा जल चढ़ाते हुए 21 बार ॐ केतवे नमः जाग्रय स्थापय स्वाहा:.  मंत्र का जाप करना चाहिए और पानी के दो कलश भर कर राहु को अर्पित करने चाहिए उसके बाद आपको उन्हें फलों का प्रसाद चढ़ाना चाहिए।

यह भी पढ़े-गणपति आराधना से चमकेगी भक्तों की किस्मत, होगा विशेष लाभ

अधिक जानकारी के लिए आप Astrotalk के अनुभवी ज्योतिषियों से बात करें।

अधिक के लिए, हमसे Instagram पर जुड़ें। अपना साप्ताहिक राशिफल पढ़ें।

 948 

WhatsApp

Posted On - May 13, 2022 | Posted By - Jyoti | Read By -

 948 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

Our Astrologers

1500+ Best Astrologers from India for Online Consultation