जानें वृषभ राशि में बुध गोचर 2023 प्रत्येक राशि को कैसे प्रभावित करेगा?

Mercury transit in Taurus 2023 effects in astrology(बुध गोचर 2023)

बुध गोचर संचार, निर्णय लेने और मानसिक स्पष्टता के लिए जाना जाता हैं। यह नई शुरुआत और जातक के विचारों को आगे बढ़ाने में भी सहायता कर सकता है। वृषभ राशि में बुध गोचर 2023 के दौरान जातक को मुखर संचार और विचारों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। यह गोचर व्यक्ति के निर्णय लेने में चुनौतियां और आवेगी व्यवहार की प्रवृत्ति उत्पन्न कर सकता हैं। यह गोचर विशेष रूप से मेष, मिथुन, कन्या, तुला और कुम्भ राशियों को प्रभावित कर सकता है। वहीं वृषभ राशि में बुध की चाल से प्रत्येक राशि क्या प्रभाव डाल सकती है, जानने के लिए इस लेख को पूरा पढ़ें।

वृषभ राशि में बुध गोचर 2023: तिथि और समय

आपको बता दें कि वृषभ राशि बुध गोचर 07 जून 2023 को शाम 07ः58 पर होगा और यह इसी राशि में 24 जून 2023 को दोपहर 12ः48 तक रहेगा। इसके बाद यह ग्रह मिथुन राशि में गोचर करेगा।

यह भी पढ़ें- चंद्र ग्रहण 2023: साल के पहले चंद्र ग्रहण का सभी राशियों पर प्रभाव

वृषभ राशि में बुध गोचर के सामान्य प्रभाव

बुध संचार, बुद्धि और वाणिज्य का ग्रह है, जबकि वृषभ राशि चक्र की दूसरी राशि है, जो शुरुआत, व्यक्तित्व और मुखरता का प्रतीक मानी जाती है। जब बुध वृषभ राशि में गोचर करता है, जो वर्ष में लगभग एक बार होता है, तो कई सामान्य प्रभाव लोगों को प्रभावित कर सकते हैं।

बता दें कि वृषभ राशि में बुध का एक प्रमुख प्रभाव यह है कि संचार अधिक प्रत्यक्ष, निर्भीक और मुखर हो सकता है। लोग अपनी राय, विचार और इच्छाएं व्यक्त करने में अधिक आत्मविश्वास महसूस कर सकते हैं और दूसरों को चुनौती देने या जोखिम लेने में संकोच नहीं करते। इससे कारण जातक अधिक जीवंत, बातचीत और विचार-मंथन कर सकता हैं। इस गोचर के कारण व्यक्ति अधिक तार्किक, गलतफहमियों और आवेगी निर्णयों के बीच खुद को फंसा हुआ महसूस कर सकता हैं।

इसी प्रकार, राशि में बुध का एक और प्रभाव यह है कि जातक की मानसिक ऊर्जा और ध्यान बढ़ सकता है। लोग नई परियोजनाओं को शुरू करने, नए कौशल सीखने या अधिक जोश के साथ अपने लक्ष्यों को पूरा करने के लिए अधिक प्रेरित महसूस कर सकते हैं। हालांकि, वे अधिक अधीर, आवेगी और बेचैन भी हो सकते हैं। इसके अलावा, वे जो शुरू करते हैं उसे पूरा करने या प्रतिबद्धताओं का पालन करने के लिए संघर्ष का अनुभव कर सकते हैं।

बुध गोचर वाणिज्य और वित्त को भी प्रभावित कर सकता है, क्योंकि लोग जोखिम लेने, नए उद्यमों में निवेश करने या आवेगपूर्ण खरीदारी करने के लिए अधिक इच्छुक हो सकते हैं। इससे लाभ और हानि दोनों हो सकते हैं, यह परिस्थितियों और सावधानी बरतने के स्तर पर निर्भर करता है। इसके अलावा, वृषभ राशि में बुध नवप्रवर्तन और रचनात्मकता को प्रोत्साहित कर सकता है, विशेष रूप से प्रौद्योगिकी, मीडिया और मनोरंजन जैसे क्षेत्रों में।

कुल मिलाकर, वृषभ राशि में बुध के गोचर का प्रभाव अलग-अलग ज्योतिषीय चार्ट और शामिल विशिष्ट ग्रहों के पहलुओं के आधार पर अलग-अलग हो सकता है। हालांकि, कुछ सामान्य विषयों में बढ़ी हुई मुखरता, मानसिक ऊर्जा, जोखिम लेना और आवेग, अधीरता और संघर्ष से संबंधित संभावित चुनौतियां शामिल हैं। इन प्रभावों के प्रति सचेत रहना और रणनीतिक सोच, धैर्य और सहयोग के साथ उन्हें संतुलित करना महत्वपूर्ण है।

वृषभ राशि में बुध गोचर 2023: सभी राशियों के लिए भविष्यवाणी

बुध गोचर का प्रत्येक राशि पर अलग-अलग प्रभाव पड़ सकता है, जो उनके ज्योतिषीय चार्ट और विशिष्ट ग्रहों के पहलुओं पर निर्भर करता है। इस गोचर का सभी राशियों पर क्या प्रभाव पड़ सकता है, आइए विस्तार से जानते हैं:

मेष राशि

वृषभ राशि में बुध गोचर 2023 के कारण आप अपने संचार और निर्णय लेने में अधिक मुखर, आत्मविश्वासी और निर्णायक महसूस कर सकते हैं। यह आपको अपने लक्ष्यों की ओर बढ़ने में मदद कर सकता है। लेकिन आवेग और संघर्षों से सावधान रहें। आप नए कौशल सीखने या बौद्धिक रुचियों को आगे बढ़ाने के लिए और अधिक प्रेरित महसूस कर सकते हैं।

उपाय

मेष राशि के पुरुष और महिलाएं अपनी छोटी उंगलियों में चांदी की अंगूठी पहन सकते हैं। इसके अलावा, आप रोज सुबह सूर्य को जल अर्पित कर सकते हैं। साथ ही आप बुधवार के दिन किसी मंदिर में हरी मसूर या पालक का दान कर सकते हैं।

वृषभ राशि

आपकी राशि में बुध के गोचर के दौरान, आप अधिक मानसिक ऊर्जा का अनुभव कर सकते हैं और अपने काम और दैनिक दिनचर्या में ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। हालांकि, आप अधिक तनावग्रस्त या चिंतित भी महसूस कर सकते हैं। यदि आप अपने कार्यों को पूरा करने में असमर्थ हैं, तो स्व-देखभाल को प्राथमिकता देना और तनाव को प्रबंधित करने के तरीके खोजना महत्वपूर्ण है।

उपाय

वृषभ राशि वालों को अपनी जेब या पर्स में चांदी का एक टुकड़ा रखना चाहिए। साथ ही आप हर दिन भगवान शिव को जल चढ़ा सकते हैं। गाय को हरा चारा या पालक खिलाने से भी आपको लाभ होगा।

मिथुन राशि

बुध आपका सत्तारूढ़ ग्रह है, इसलिए इस गोचर का आप पर विशेष प्रभाव पड़ सकता है। आप अधिक रचनात्मक, अभिव्यंजक और सामाजिक महसूस कर सकते हैं। लेकिन आप ध्यान भटकने और परेशानियों का भी सामना कर सकते हैं। अपने रिश्तों को पोषित करने और अपनी रचनात्मक क्षमता का दोहन करने पर ध्यान दें।

उपाय

मिथुन राशि के जातकों को प्रतिदिन भगवान विष्णु को जल चढ़ाना चाहिए। साथ ही आप चांदी का चौकोर टुकड़ा भी अपने पास रख सकते हैं। इसी के साथ गोचर काल में प्रतिदिन गायत्री मंत्र का जाप करें।

कर्क राशि

 

वृषभ राशि में बुध गोचर 2023 आपके जीवन में अधिक स्पष्टता ला सकता है और आप अपने घर और पारिवारिक जीवन पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। आप अपनी आवश्यकताओं और भावनाओं को संप्रेषित करने के लिए अधिक इच्छुक महसूस कर सकते हैं। लेकिन संघर्षों और आलोचनाओं के प्रति अधिक संवेदनशील भी हो सके हैं। अपनी व्यक्तिगत और व्यावसायिक जिम्मेदारियों के बीच संतुलन खोजने पर ध्यान दें।

उपाय

कर्क राशि के जातकों को प्रतिदिन भगवान शिव को जल चढ़ाना चाहिए। साथ ही छोटी उंगली में चांदी की अंगूठी धारण करने से आपको लाभ होगा। इस राशि के जातकों को बुधवार के दिन किसी मंदिर में दूध या चावल की खीर का दान करना चाहिए।

सिंह राशि

बुध गोचर के दौरान, आप अपनी बौद्धिक गतिविधियों में अधिक जिज्ञासु, संचारी और रचनात्मक महसूस कर सकते हैं। आप अपने विचारों को व्यक्त करने में अधिक मुखर और आत्मविश्वास का भी अनुभव कर सकते हैं। लेकिन अहंकार या दूसरों के दृष्टिकोण को खारिज करने के प्रति सावधान रहें।

उपाय

रोज सुबह सूर्य को जल अर्पित करें। सिंह राशि के पुरुष और महिलाएं अपने पास चांदी का चौकोर टुकड़ा भी रख सकते हैं। इसके साथ ही बुधवार के दिन किसी मंदिर में शहद या गुड़ का दान करना आपके लिए लाभकारी रहेगा।

कन्या राशि

बुध गोचर 2023 आपके वित्त और भौतिक संपत्ति में अधिक मानसिक स्पष्टता और व्यावहारिकता ला सकता है। आप बजट बनाने, बचत करने या निवेश करने के लिए अधिक प्रेरित महसूस कर सकते हैं। लेकिन आप अधिक खर्च करने के लिए प्रवण हो सकते हैं। अपने अल्पकालिक और दीर्घकालिक वित्तीय लक्ष्यों के बीच संतुलन खोजने पर ध्यान दें।

उपाय

कन्या राशि के जातक अपनी कनिष्ठा अंगुली में चांदी का छल्ला धारण करें। सुनिश्चित करें कि आप हर दिन भगवान विष्णु को जल अर्पित करें। आप बुधवार के दिन पीली सरसों या चने की दाल किसी मंदिर में दान भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: जानें शाम की पूजा में क्यों नहीं बजाई जाती है घंटी और पूजा से जुड़े अन्य नियम

तुला राशि

जैसे ही बुध वृषभ राशि में गोचर करता है, आप सहयोग करने, बातचीत करने और दूसरों के साथ संवाद करने के लिए अधिक इच्छुक महसूस कर सकते हैं। आप दूसरों के दृष्टिकोण और ज़रूरतों के प्रति अधिक अभ्यस्त महसूस कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें कि आप अपनी नज़रों से ओझल न हों। समझौता और मुखरता के बीच संतुलन खोजने पर ध्यान दें।

उपाय

आपको प्रतिदिन भगवान शिव को जल अर्पित करना चाहिए। तुला राशि के जातक चांदी का चौकोर टुकड़ा धारण कर सकते हैं। साथ ही बुधवार के दिन किसी मंदिर में सफेद मिठाई या नारियल का दान करें।

वृश्चिक राशि

वृषभ राशि में बुध गोचर 2023 के दौरान, आप अपने दैनिक दिनचर्या और संचार में अधिक बौद्धिक और जिज्ञासु महसूस कर सकते हैं। आप संघर्ष के प्रति अधिक प्रवृत्त भी महसूस कर सकते हैं, इसलिए बहुत अधिक आक्रामक या रक्षात्मक होने से सावधान रहें। अपनी तीव्रता और जुनून को व्यक्त करने के स्वस्थ तरीके खोजने पर ध्यान दें।

उपाय

वृश्चिक राशि वालों को प्रतिदिन भगवान विष्णु को जल चढ़ाना चाहिए। आप अपनी छोटी उंगली में चांदी की अंगूठी भी पहन सकते हैं। साथ ही बुधवार के दिन किसी मंदिर में काले तिल या सरसों का तेल दान करें।

धनु राशि

बुध गोचर 2023 आपकी परियोजनाओं और लक्ष्यों में अधिक मानसिक ध्यान और स्पष्टता ला सकता है। आप नए विषयों को सीखने, पढ़ाने या तलाशने के लिए अधिक प्रेरित महसूस कर सकते हैं। लेकिन ध्यान भटकाने या टालमटोल करने के लिए भी अधिक प्रवण हो सकते हैं। अपने आदर्शवाद और व्यावहारिकता के बीच संतुलन खोजने पर ध्यान दें।

उपाय

धनु राशि के जातकों को रोज सुबह सूर्य को जल अर्पित करना चाहिए। चांदी का चौकोर टुकड़ा अपने पास रखें। साथ ही बुधवार के दिन किसी मंदिर में पीली मिठाई या चने की दाल का दान करें।

मकर राशि

इस गोचर के कारण आपके करियर और प्रतिष्ठा क्षेत्र में परिवर्तन हो सकता है, आप अपने पेशेवर कार्यों में अधिक आत्मविश्वास, मुखर और रणनीतिक का अनुभव कर सकते हैं। आप तनाव या चिंता से भी अधिक ग्रस्त महसूस कर सकते हैं, इसलिए आत्म-देखभाल और कार्य-जीवन संतुलन को प्राथमिकता दें। अपनी महत्वाकांक्षाओं और मूल्यों के बीच संतुलन खोजने पर ध्यान दें।

उपाय

प्रतिदिन भगवान विष्णु को जल अर्पित करें। इसके अलावा, मकर राशि के पुरुष और महिलाएं, आप अपनी छोटी उंगली में चांदी की अंगूठी पहन सकते हैं। साथ ही बुधवार के दिन किसी मंदिर में काली मसूर या तिल का दान करें।

कुंभ राशि

इस गोचर के दौरान, आप अपने सामाजिक संबंधों और सामुदायिक भागीदारी में अधिक बौद्धिक रूप से उत्तेजित, जिज्ञासु और संचारी महसूस कर सकते हैं। आप संघर्ष या असहमति के प्रति अधिक संवेदनशील का अनुभव कर सकते हैं, इसलिए सामान्य आधार और रचनात्मक समाधान खोजने पर ध्यान दें।

उपाय

प्रतिदिन भगवान शिव को जल अर्पित करें। साथ ही चांदी का एक चौकोर टुकड़ा अपने पास रखें। कुंभ राशि के लोग बुधवार के दिन किसी मंदिर में हरी मसूर या पालक का दान भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- ज्योतिष अनुसार जानें कैसे आपके पैरों की रेखाएं बता सकती हैं आपका भाग्य

मीन राशि

यह गोचर आपके लिए अधिक मानसिक स्पष्टता ला सकता है और आपकी व्यक्तिगत मान्यताओं, आध्यात्मिकता और अंतर्ज्ञान पर ध्यान केंद्रित कर सकता है। आप अपने उच्च स्व के साथ जुड़ने के लिए और अधिक प्रेरित महसूस कर सकते हैं। लेकिन भ्रम या पलायनवाद के प्रति भी अधिक संवेदनशील हो सकते हैं। अपने सपनों और वास्तविकता के बीच संतुलन खोजने पर ध्यान दें और केवल अंतर्ज्ञान या भावना पर आधारित प्रमुख निर्णय लेने से बचें।

उपाय

मीन राशि के पुरुषों और महिलाओं को प्रतिदिन भगवान विष्णु को जल अर्पित करना चाहिए। साथ ही चांदी का छल्ला अपनी छोटी उंगली में धारण करें। इसके साथ बुधवार के दिन सफेद मिठाई या नारियल किसी मंदिर में दान करें।

अधिक के लिए, हमसे Instagram पर जुड़ें। अपना साप्ताहिक राशिफल पढ़ें।

 1,851 

Posted On - March 29, 2023 | Posted By - Jyoti | Read By -

 1,851 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

अधिक व्यक्तिगत विस्तृत भविष्यवाणियों के लिए कॉल या चैट पर ज्योतिषी से जुड़ें।

Our Astrologers

21,000+ Best Astrologers from India for Online Consultation