Vastu Tips: इस तरह घर में रखें गणेश जी की मूर्ति होगा बेहद लाभ

गणपति आराधना
WhatsApp

आपको बता दें कि सनातन धर्म में भगवान गणेश की पूजा को सर्वप्रथम माना जाता है। वही भगवान गणेश को अलग – अलग नामों से जाना जाता है। गणेश जी को लंबोदर, गजानन, विघ्नहर्ता, बाप्पा, गणपति, सिद्धिविनायक आदि नामों से पुकारा जाता है। साथ ही महाराष्ट्र राज्य में भगवान गणेश की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। साथ ही सभी घरों में गणेश जी की मूर्ति स्थापित कर उनकी श्रद्धा भाव से पूजा-अर्चना की जाती है।ऐसा माना जाता है जो भी जातक गणेश जी की रोजाना पूजा करता है उसके जीवन में आ रही सारी परेशनी दूर हो जाती है। हिंदू धर्म में किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले भगवान गणेश जी की पूजा की जाती है। ऐसा माना जाता है कि गणेश जी की पूजा से वह कार्य शुभ होता है और साथ ही उस काम में कोई परेशानी भी नही आती है।

यह भी पढ़े – घर के वास्तु दोष को दूर करने के लिए इस दिशा में पिरामिड रखना होता है बेहद शुभ

शास्त्रों के अनुसार भगवान गणेश जी की पूजा करने से जातक के जीवन की सभी परेशानियां दूर हो जाती है। और ऐसा माना जाता है कि जो भी जातक पूरे श्रद्धा भाव से गणेश जी की पूजा करते है भगवान उसकी सारी मनोकामना पूर्ण करते है। साथ ही अगर आप भी बाप्पा की कृपा पाना चाहते हैं, तो अपने घर में गणेश जी की ऐसी प्रतिमा जरुर रखनी चाहिए। आपको बता दें कि वास्तु शास्त्र में भगवान की प्रतिमा का भी काफी महत्व होता है। और अगर वास्तु के अनुसार घर में भगवान की प्रतिमा ना लगाई जाएं, तो वास्तु दोष होने का डर रहता है। साथ ही जिस घर में गणेश जी की मूर्ति होती है, उस घर में सुख, समृद्धि और सौभाग्य का आगमन होता है। चलिए जानते हैं कि किस प्रकार की गणेश जी की प्रतिमा को घर में रखने से लाभ होता है –

यह भी पढ़े – जन्मकुंडली के ये घातक योग बर्बाद कर देते है जीवन, करें ये उपाय

गणेश जी की मूर्ति चांदी की होनी चाहिए

  • ज्योतिषों के अनुसार घर में गणेश जी की मूर्ति चांदी की होनी चाहिए। 
  • चांदी की प्रतिमा काफी शुभ मानी जाती है।
  • साथ ही इससे घर में सुख और समृद्धि बनी रहती है। 
  • इतना ही नही कारोबार और रोजगार में भी काफी उन्नति होती है। 
  • चांदी से निर्मित गणेश की जी मूर्ति की पूजा करने से जातक को जीवन में जल्द प्रसिद्धि मिलती है। 
  • वही अगर आप कारोबारी है, तो आफको दुकान में चांदी की मूर्ति स्थापित करनी चाहिए। इससे आपका कारोबार काफी अच्छा होगा।
  • चांदी की प्रतिमा दुकान में रखने से काफी लाभ होता है। साथ ही धन में भी बढोतरी होती है।

यह भी पढ़े –Jyotish yog – यहां जानें ज्योतिष योग से जुडी सारी जानकारी

गणेश जी की मूर्ति लकडी की होनी चाहिए

  • आपको बता दें कि घर में लकड़ी की प्रतिमा स्थापित करना बेहद शुभ होता है।
  • साथ ही आप किसी ज्योतिष से सलाह लेकर घर में गणेश जी की लकड़ी से निर्मित प्रतिमा स्थापित कर सकते हैं। 
  • वही लकडी की प्रतिमा से जातक को सुख और सौभाग्य की प्राप्ति होती है। 
  • इसी के साथ आपकी आयु भी काफी लंबी होती है। 
  • आपको बता दें कि जातक अपने घर में तांबे की मूर्ति भी स्थापित कर सकते हैं। इससे घर में बहुत खुशहाली आती है।
  • इससे जातक को काफी लाभ होता है। साथ ही घर में खुशियां बनी रहती है।
  • साथ ही नकारात्मकता भी घर से दूर रहती है और घर में शांति बनी रहती है।

यह भी पढ़े – Vastu Tips 2022: घर के मंदिर में इन चीजों को रखने से बनी रहती है माता लक्ष्मी की कृपा

चिकनी मिट्टी की मूर्ति

  • आपको बता दें कि चिरकाल से भगवान के स्वरूप की पूजा मिट्टी की मूर्ति बनाकर ही की गई है। इसे बहुत शुभकारी माना जाता है। 
  • वहीं घर में चिकनी मिट्टी से निर्मित भगवान गणेश की जी मूर्ति स्थापना कर उनकी पूजा करने से जातक के जीवन से सभी प्रकार के दुखों का नाश होता है। 
  • जो भी जातक भक्ति-भाव से बाप्पा की प्रतिमा घर में स्थापित करके पूजा करता है, उसे गणेश जी मन चाहा वरदान देते हैं।
  • इस तरह की प्रतिमा घर के लिए काफी शुभ मानी जाती है। और इस तरह की प्रतिमा घर में रखने से सारे रुके काम पूरे होते है।
  • गणेश जी की पूजा जो भी जातक करता है भगवान उसपर अपनी कृपा जरुर करते है।
  • इस तरह की प्रतिमा घर में रखने से घर में प्रेम भी काफी बढता है। यह प्रतिमा घर के लिए काफी अच्छी होती है।
  • वही इस तरह की प्रतिमा को घर में रखने से सारी परेशानी भी दूर हो जाती है।

यह भी पढ़े  –Holi 2022: जानें 2022 में कब है होली? शुभ मुहुर्त और पूजन विधि की सारी जानकारी

घर में गणेश जी की प्रतिमा रखते समय इन बातों का रखें ध्यान

  • घर में गणेश जी की दो से अधिक प्रतिमाएं रख सकते हैं। लेकिन उन्हें एक ही स्थान पर न रखे।
  • गणेश जी की ऐसी प्रतिमा न लगाए, जिसमें उनकी सूंड दांयी तरफ हो, क्योंकि दांयी तरफ की सूंड वाले गणपति जी की पूजा करने के विशेष नियम होते हैं।
  • साथ ही गणेश जी की प्रतिमा द्वार पर लगाने से घर में सकारात्मकता आती हैं।
  • वहीं प्रतिमा को इस तरह लगाना चाहिए कि गणेश जी की पीठ दिखाई न दे।
  • सात ही मुख्य द्वार पर गणेश जी की प्रतिमा का मुख हमेशा बाहर की ओर होना चाहिए। 
  • आपके घर में दो प्रतिमा हैं, तो एक का मुख बाहर और एक का मुख भीतर की ओर होना चाहिए।
  • अगर घर के पूजा स्थान में गणपति जी की प्रतिमा रखी है, तो वह ज्यादा बड़ी नहीं होनी चाहिए। 
  • आपको बता दें कि घर में हमेशा छोटी मूर्ति ही रखनी चाहिए।
  • वहीं घर के लिविंग रूम में कभी भी गणेश जी की प्रतिमा नहीं लगानी चाहिए।
  • इसी के साथ कभी सीढ़ियों के नीचे वाले स्थान पर गणपति जी को नहीं रखना चाहिए।
  • आपको गणेश जी का पूजन लक्ष्मी जी ही करना चाहिए।
  • इस बात का विशेष ध्यान रखें कि लक्ष्मी जी की प्रतिमा हमेशा गणेश जी की दाहिनी ओर होनी चाहिए।
  • अगर आपके घर में गणेश जी की मूर्ति  है, तो रोजाना धूप-दीप अवश्य करना चाहिए।
  • आपको सभी देवी-देवताओं की पूजा रोज करनी चाहिए। यह काफी शुभ होता है।
  • पूजाघर में नियमित रूप से धूप-दीप अवश्य जलाना चाहिए।
  • वास्तु के अनुसार इससे घर का वातावरण सकारात्मक बना रहता है। और घर में खुशियां बनी रहती है।

यह भी पढ़े Maha Shivratri 2022: जानें कब है महाशिवरात्रि? तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजन विधि की सारी जानकारी

अधिक जानकारी के लिए आप AstroTalk के अनुभवी ज्योतिषियों से बात करें।

अधिक के लिए, हमसे Instagram पर जुड़ें। अपना साप्ताहिक राशिफल पढ़ें।

 1,151 

WhatsApp

Posted On - February 17, 2022 | Posted By - Jyoti | Read By -

 1,151 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि