सूर्य ग्रहण 2023: साल 2023 के पहले सूर्य ग्रहण का सभी राशियों पर प्रभाव

Solar Eclipse 2023 effects (सूर्य ग्रहण 2023 के प्रभाव)

ग्रहण महत्वपूर्ण घटनाओं मे से एक हैं, जो व्यक्ति के जीवन और आसपास की दुनिया को प्रभावित कर सकता हैं। ग्रहण तब होते हैं जब सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी संरेखित होते हैं और सूर्य का प्रकाश चंद्रमा द्वारा अवरुद्ध हो जाता है। दूसरे शब्दों में कहे, तो जब चंद्रमा पर पृथ्वी की छाया पड़ती है, तो ग्रहण होता हैं। इस लेख में आप आगे पढे़ंगे कि हाइब्रिड सूर्य ग्रहण 2023 प्रत्येक राशि को कैसे प्रभावित करेगा और नकारात्मक परिणामों से बचने के लिए जातक को क्या सावधानियां बरतनी चाहिए।

सूर्य ग्रहण 2023: तिथि, समय और स्थान

सूर्य ग्रहण का प्रकारदिनांकसमयस्थान
हाइब्रिड सूर्य ग्रहण 202320 अप्रैल 2023सुबह 09ः46 से
सुबह 09ः47 तक
दक्षिण/पूर्वी एशिया, प्रशांत महासागर,
ऑस्ट्रेलिया, हिंद महासागर, अंटार्कटिका

यह भी पढ़ें: अक्षय तृतीय 2023 पर 6 योगों का संयोग, खरीदें सोना मिलेगा दोगुना लाभ

ग्रहण का ज्योतिषीय महत्व

ज्योतिष शास्त्र में, सूर्य ग्रहण नई शुरुआत और परिवर्तन की संभावना को दर्शाता है। ग्रहण अक्सर जातक के जीवन में एक नए चक्र या चरण की शुरुआत करते हैं और अप्रत्याशित अवसर या चुनौतियां लेकर आते हैं। लक्ष्यों को प्रकट करने के लिए भी सूर्य ग्रहण एक प्रभावशाली समय होता है।

एक ग्रहण का ज्योतिषीय प्रभाव राशि और भाव के आधार पर अलग-अलग हो सकता हैं, जिसमें यह किसी व्यक्ति की जन्म कुंडली में होता है और यह अन्य ग्रहों से संबंधित पहलुओं पर निर्भर करता है। ग्रहण अक्सर उच्च ऊर्जा और तीव्रता के होते हैं। इसके अलावा, यह व्यक्ति के जीवन में बड़े बदलाव ला सकते है। साथ ही ग्रहण काल के दौरान सावधान रहना चाहिए, क्योंकि यह व्यक्तिगत विकास और परिवर्तन के लिए एक प्रभावशाली समय होता है।

यह भी पढ़ें: भूमि पूजन मुहूर्त 2023: गृह निर्माण शुरू करने की शुभ तिथियां

ग्रहण के दौरान मंदिर क्यों बंद रहते हैं?

हिंदू धर्म समेत कई संस्कृतियों और परंपराओं में ग्रहण से जुड़ी एक शक्तिशाली नकारात्मक ऊर्जा यानि ‘राहु-केतु’ है। यह नकारात्मक ऊर्जा लोगों के स्वास्थ्य और कल्याण के साथ-साथ आध्यात्मिक प्रथाओं और अनुष्ठानों पर भी हानिकारक प्रभाव डाल सकती है। हिंदू धर्म में, मंदिर देवताओं की पूजा करने और धार्मिक अनुष्ठान करने के लिए समर्पित पवित्र स्थान होता हैं। ग्रहण के दौरान उससे जुड़ी नकारात्मक ऊर्जा मंदिर और उसके आसपास के वातावरण को दूषित कर सकती है। इसके अलावा, यह देवताओं और अनुष्ठानों की प्रभावकारिता को भी प्रभावित कर सकती है।

ऐसे प्रभावों से बचने के लिए मंदिरों को अक्सर ग्रहण के दौरान बंद कर दिया जाता है और कई लोग खुद को नकारात्मक ऊर्जा से बचाने के लिए कुछ अनुष्ठानों और प्रथाओं का पालन करते हैं। कुछ लोग ग्रहण काल के दौरान घर के अंदर रहते हैं और खाने या पीने से बचते हैं, जबकि अन्य स्वयं और अपने परिवार की रक्षा के लिए विशिष्ट प्रार्थना या अनुष्ठान करते हैं।

नकारात्मक ऊर्जा और ग्रहण का सम्बन्ध

ग्रहण से जुड़ी नकारात्मक ऊर्जा के अलावा, ग्रहण के दौरान मंदिरों को बंद करने के व्यावहारिक कारण भी हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, प्राचीन काल में कोई कृत्रिम प्रकाश व्यवस्था नहीं थी और सूर्य ग्रहण के दौरान होने वाले अंधेरे में अनुष्ठान और समारोह करना मुश्किल होता था। इसी तरह, ग्रहण के दौरान मंदिर की साफ-सफाई और शुद्धता बनाए रखना मुश्किल हो सकता है, क्योंकि ग्रहण से जुड़ी नकारात्मक ऊर्जा अंतरिक्ष को दूषित कर सकती है।

कुल मिलाकर, ग्रहण के दौरान मंदिरों को बंद करना ग्रहण से जुड़ी नकारात्मक ऊर्जा में विश्वास पर आधारित एक पारंपरिक प्रथा है। जबकि कुछ लोग इस प्रथा को अंधविश्वास के रूप में देख सकते हैं, कई लोगों के लिए यह उनकी धार्मिक और सांस्कृतिक परंपराओं का एक हिस्सा है। इसके अलावा, यह खुद को और उनकी आध्यात्मिक प्रथाओं को नुकसान से बचाने के तरीके के रूप में कार्य करता है।

यह भी पढ़ें: चैत्र नवरात्रि 2023 का दूसरा दिन, इन विशेष अनुष्ठानों से करें मां ब्रह्मचारिणी की पूजा और पाएं उनका आशीर्वाद

2023 में सूर्य ग्रहण के दौरान इन नियमों का करें पालन

सूर्य ग्रहण के दौरान किन नियमों का पालन करना चाहिए, इसके बारे में विभिन्न सांस्कृतिक और धार्मिक मान्यताएं हैं। लेकिन यहां कुछ सामान्य दिशा-निर्देश दिए गए हैं:

  • ग्रहण के दौरान सीधे सूर्य की ओर देखने से बचें, क्योंकि इससे आपकी आंखों की रोशनी को नुकसान पहुंच सकता है। यदि आप ग्रहण देखना चाहते हैं, तो अपनी आंखों की सुरक्षा के लिए उचित सौर फिल्टर या ग्रहण देखने वाले चश्मे का उपयोग करें।
  • इसी प्रकार, ग्रहण काल में कुछ भी खाने-पीने से परहेज करें। कई संस्कृतियों में ग्रहण से जुड़ी नकारात्मक ऊर्जा भोजन और पानी को दूषित कर सकती है और इस दौरान इनका सेवन हानिकारक हो सकता है।
  • ग्रहण काल के दौरान बाहरी गतिविधियों से बचें, क्योंकि ग्रहण से जुड़ी नकारात्मक ऊर्जा बाहर अधिक प्रबल होती है। इसलिए घर के अंदर रहें और जितना हो सके ग्रहण के संपर्क में आने से बचें।
  • इस दौरान मंदिर और धार्मिक स्थल बंद रह सकते हैं। किसी मंदिर में जाते समय यह देख लें कि ग्रहण के दौरान वह खुला है या बंद।
  • ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान जरूर करें, क्योंकि इससे शरीर से नकारात्मक ऊर्जा की सफाई होती है।
  • कुछ लोग ग्रहण काल के दौरान खुद को और अपने परिवार को नकारात्मक ऊर्जा से बचाने के लिए विशिष्ट अनुष्ठान या प्रार्थना करते हैं। इनमें मंत्र पढ़ना, दीपक जलाना या देवताओं की प्रार्थना करना शामिल होता है।

यह भी पढ़ें:  जानें कब है बैसाखी 2023? त्यौहार का इतिहास और ज्योतिषीय महत्व

गर्भवती महिलाओं के लिए सावधानियां

2023 के सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को कुछ ज्योतिषीय सावधानियां बरतनी चाहिए। यहां कुछ सामान्य दिशानिर्देश दिए गए हैं:

  • सूर्य ग्रहण को सीधे देखने से बचें, क्योंकि इससे आंखों को नुकसान हो सकता है। यदि आप ग्रहण देखना चाहते हैं, तो अपनी आंखों की सुरक्षा के लिए उचित सौर फिल्टर या ग्रहण देखने वाले चश्मे का उपयोग करें।
  • ग्रहण काल के दौरान घर के अंदर रहें, क्योंकि ग्रहण से जुड़ी नकारात्मक ऊर्जा विकासशील भ्रूण को नुकसान पहुंचा सकती है।
  • गर्भवती महिलाओं को सलाह दी जाती है कि वे ग्रहण काल के दौरान चाकू और कैंची जैसी तेज वस्तुओं से बचें, क्योंकि ऐसी वस्तुओं का उपयोग करने से बच्चे में जन्म दोषों का खतरा बढ़ सकता है।
  • जो भी महिला गर्भवती है उन्हें इस समय के दौरान हथौड़ी या सिलाई मशीन जैसे किसी भी उपकरण का उपयोग करने से बचना चाहिए।
  • ग्रहण काल के दौरान कुछ भी खाने-पीने से बचें, क्योंकि ग्रहण से जुड़ी नकारात्मक ऊर्जा भोजन और पानी को दूषित कर सकती है और इस दौरान इनका सेवन करने से बच्चे को नुकसान हो सकता है।
  • जब ग्रहण समाप्त हो जाएं, तो स्नान जरूर करें, क्योंकि ऐसा करने से शरीर से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है।

यह भी पढ़ें: चैत्र नवरात्रि 2023 का पहला दिन, ऐसे करें मां शैलपुत्री की पूजा, मिलेगा आशीर्वाद

सूर्य ग्रहण 2023 का सभी राशियों पर प्रभाव

मेष राशि

इस राशि वालों को सूर्य ग्रहण 2023 के दौरान अपने स्वास्थ्य की रक्षा के लिए अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए, क्योंकि वे चिंतित, निराश, आंखों या निचले जबड़े की समस्या का अनुभव कर सकते हैं। इस दौरान आप आर्थिक रूप से अप्रत्याशित खर्च कर सकते हैं। साथ ही परामर्श कार्य और संचार से जुड़े कारोबार आगे बढ़ सकते हैं।

यदि मेष राशि के जातक घर छोड़ने, काम या व्यवसाय के लिए यात्रा करने की योजना बना रहे हैं, तो वह इसमें सफल रहेंगे। लेकिन आपको धन के मामले में सावधानी बरतनी चाहिए। आपको व्यवसाय से संबंधित छोटी यात्राएं करनी पड़ सकती हैं और आपकी यह यात्रा सफल रहेंगी। साथ ही आप इस दौरान ऋण लेने और किसी के काम को छोड़ने का जोखिम उठा सकते हैं। वहीं आप कार्यस्थल से संबंधित कोई नई पहल कर सकते हैं। लेकिन आपकी यह योजना धीरे-धीरे आगे बढ़ेंगी।

वृषभ राशि 

इस राशि के जातक को अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि यह शारीरिक और भावनात्मक दोनों रूप से बिगड़ सकता है। आपके आत्मविश्वास में कमी आ सकती है। साथ ही तनाव के चलते जल्दबाजी में कोई फैसला लेने से बचना चाहिए। हालांकि, सूर्य ग्रहण के दौरान स्वास्थ्य संबंधी कुछ दिक्कतें आपको परेशान कर सकती हैं। लेकिन आर्थिक नुकसान और स्वास्थ्य में गिरावट को रोकने के लिए आपको सावधानी बरतने की आवश्यकता है।

वृषभ राशि की महिला और पुरुष को भले ही पैसों की कमी न हो। लेकिन आपको अपने ख़र्चों का हिसाब-किताब रखने की कोशिश करनी चाहिए। भावनात्मक और शारीरिक बाधाओं के बावजूद पारिवारिक सद्भाव बना रह सकता है। आपके बच्चों के लिए यह बहुत अच्छा समय है। हालांकि, यदि वे शिक्षाविदों में हैं, तो आप उनके शैक्षणिक प्रदर्शन के बारे में चिंतित हो सकते हैं। संतान को अपने कार्यक्षेत्र में सफलता मिल सकती है।

मिथुन राशि

इस राशि का सामान्य स्वास्थ्य उत्कृष्ट हो सकता है। लेकिन तनाव संबंधी विकार और आंखों, पेट, पीठ के निचले हिस्से आदि के साथ चिकित्सा समस्याएं हो सकती हैं। अपने माता-पिता के स्वास्थ्य के प्रति सावधानी बरतें। परिवार के सदस्यों को स्वास्थ्य संबंधी परेशानी हो सकती है। मुमकिन है कि घर में किसी समस्या को लेकर आप निराश हों।

आप अपने परिवार और अपने वित्त के बारे में चिंता कर सकते हैं। दंपतियों के लिए संतान की तलाश सफल हो सकती है। संतान संबंधी मामलों में भी धैर्य रखें। मिथुन राशि के लोग शारीरिक और मानसिक दोनों तरह की समस्याओं का अनुभव कर सकते हैं और उन्हें विशेष रूप से धन हानि से निपटने की आवश्यकता है। 

यह भी पढ़ें: ऐसे रखें चैत्र पूर्णिमा 2023 का व्रत, होगी पुण्य की प्राप्ति

कर्क राशि

इस राशि वालों के लिए धन और उन्नति संभव है। प्रॉपर्टी से जुड़ी कोई पुरानी समस्या हल होगी। यदि आपके पास कोई पुरानी संपत्ति है, जिसे आप बेच नहीं पा रहे हैं, तो आप उसे बेच सकते हैं और नई संपत्ति खरीद सकते हैं। आपको अपने पूर्वजों की संपत्ति विरासत में मिल सकती है। आपके मित्रों के समूह के भीतर विवाद या असहमति हो सकती है।

कुछ छोटी पारिवारिक चिंताओं के कारण, आप पूरे सूर्य ग्रहण के दौरान चिंतित और तनावग्रस्त रह सकते हैं। अपने बड़े भाई-बहनों से बहस करने या असहमत होने से बचें, क्योंकि ऐसा करना उनके साथ आपके रिश्ते को खराब कर सकता है। साथ ही अपने गुस्से पर काबू रखें। आप अपने परिवार के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हो सकते हैं। जो बच्चे विद्यार्थी हैं, उन्हें अधिक प्रयास करने की आवश्यकता है।

सिंह राशि

सूर्य ग्रह 2023 के दौरान सिंह राशि के स्वास्थ्य संबंधी मामले अच्छे नहीं हैं। वे अपने पेट, पीठ के निचले हिस्से, आंखों या हड्डियों में परेशानी का अनुभव कर सकते हैं। इस अवधि के दौरान, वे मुख्य रूप से पारिवारिक समस्याओं के कारण अत्यधिक तनावग्रस्त और क्रोधित हो सकते हैं। आपको अपने पड़ोसियों के साथ व्यवहार में सावधानी बरतनी चाहिए, क्योंकि अगर आपको अतीत में तनाव था, तो आगे परेशानी हो सकती है।

आप अपने माता-पिता के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हो सकते हैं, विशेषकर अपने पिता के स्वास्थ्य को लेकर। दोस्तों और बड़े भाई-बहनों के साथ सकारात्मक बातचीत हो सकती है। सिंह राशि के पुरुष और महिलाएं अभी अच्छी स्थिति में हैं। आपके भतीजा या भतीजी की भी उन्नति हो सकती है। इस दौरान वैवाहिक परिपक्वता के व्यक्तियों को अपना जीवनसाथी मिल सकता है।

कन्या राशि 

इस राशि के जातकों में तनाव, चिंता और बेचैनी आम होती है। कुल मिलाकर, किसी भी तरह से सूर्य ग्रहण इन जातकों को लाभ नहीं पहुंचाएगा है। हालांकि, अगर परिवार से जुड़ी कोई चिंता है, तो आप इस दौरान हल कर लेंगे। पैसे के मामले में आपको अपनी लागतों को समझदारी से प्रबंधित करने की आवश्यकता हो सकती है।

नौकरी बाजार, व्यवसाय और दीर्घकालिक निवेश सभी अच्छी स्थिति में हैं। कुछ नए प्रयासों या धार्मिक गतिविधियों में आपको कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। जीवनसाथी की सेहत आपको चिंतित कर सकती है। पार्टनरशिप में कुछ छोटे-मोटे विवाद हो सकते हैं। सूर्य ग्रहण 2023 के कारण जीवन साथी की तलाश में आपको धैर्य रखने की आवश्यकता हो सकती है।

यह भी पढ़ें: हनुमान जयंती 2023: जानें बजरंगबली की पूजा विधि से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें और शुभ मुहूर्त

तुला राशि

इस राशि के जातकों को संपत्ति संबंधी मामलों में भ्रम हो सकता है। शेयर बाजार में निवेश करना आपको बड़ा वित्तीय लाभ दे सकता है। स्थानीय लोगों के लिए एक से दो साल का निवेश लाभदायक हो सकता है। साथ ही जो दंपत्ति संतान चाहते थे, उन्हें संतान की प्राप्ति हो सकती हैं। साथ ही माता-पिता का उनके बच्चों के साथ संबंधों में सुधार हो सकता है। लेकिन गर्भपात और पेट से संबंधित अन्य सर्जरी को लेकर सावधानी बरतनी महत्वपूर्ण है।

आप पाचन संबंधी परेशानी, गैस, एसिड तनाव या आंतों से संबंधित समस्याओं का अनुभव कर सकते हैं। वर्तमान में करियर या कंपनी शुरू करने का यह अच्छा समय नहीं है। आपके कार्यक्षेत्र में आपकी प्रेरणा या उत्साह कम हो सकता है। आपके परिवार की समस्याएं आपको फंसा हुआ महसूस करा सकती हैं। विरासत में मिली संपत्ति से संबंधित कुछ समस्याएं भी हो सकती हैं। वहीं छात्रों के पास यह अच्छा समय है।

वृश्चिक राशि 

किसी भी महत्वपूर्ण दस्तावेज़ पर हस्ताक्षर करने से पहले या व्यवसाय से संबंधित मुद्दों से निपटने में सावधानी और सोच-विचार जरूर करें। यदि आप किसी चीज की नई खरीदारी करना चाहते हैं, तो आप कर सकते हैं, क्योंकि संपत्ति में निवेश बहुत लाभदायक हो सकता है। प्रॉपर्टी से जुड़े मुद्दों को लेकर आपके सामने जो समस्याएं आ रही हैं, उनका जवाब आपको मिल सकता है।

साथ ही आपको अपने ख़र्चों पर भी नज़र रखनी पड़ सकती है। यदि आपका व्यवसाय एक साझेदारी है, तो आप खुश महसूस नहीं करेंगे, क्योंकि व्यवसाय में विवाद हो सकते हैं। अपने संगठन से सावधान रहें, क्योंकि आप धोखाधड़ी का शिकार हो सकते हैं। बाजार की विकृति को रोकने के लिए पैसे उधार लेने से भी बचें। अगर आप शेयर बाजार से जुड़े हैं, तो धन लाभ की संभावना कम है। लंबी अवधि के निवेश पर लाभ होगा। लेकिन छोटी अवधि का निवेश आपके लिए चुनौतीपूर्ण साबित हो सकता है।

यह भी पढ़ें: वाहन खरीदने का मुहूर्त 2023ः हिंदू पंचांग के अनुसार जानें वाहन क्रय की शुभ तिथियां

धनु राशि

इस ग्रहण के प्रभाव से आप अपने शत्रु को परास्त कर सकते हैं और सुख-समृद्धि में वृद्धि कर सकते हैं। धनु राशि के स्थानीय लोग इस समय अच्छे स्वास्थ्य में होंगे। हालांकि, आप जहां रहते हैं, उसके आधार पर छोटी-मोटी कठिनाइयां हो सकती हैं। 2023 के पहले सूर्य ग्रहण के दौरान राहु और सूर्य आपके लिए नई स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकते हैं।

आपको माता-पिता, विशेषकर माता के स्वास्थ्य को लेकर तनाव हो सकता है। यदि आपके छोटे भाई-बहन अविवाहित हैं, तो वह अपने भावी जीवनसाथी से मिल सकते हैं। आप अपने बच्चों को लेकर चिंतित हो सकते हैं। इसके अलावा, यदि आपकी संतान छात्र हैं, तो उन्हें अपने विद्यालय के काम में काफी परेशानी हो सकती है। जीवन साथी की तलाश कर रहे जातकों को सफलता मिल सकती है। हालांकि, जिनकी पहले से ही शादी हो चुकी है, वे निकटता का आनंद ले सकते हैं।

मकर राशि 

अपनी संतान की शिक्षा को लेकर मकर राशि वालों को इस ग्रहण के कारण चिंता हो सकती है। छोटे भाई-बहनों को इस समय लाभ नहीं होगा, क्योंकि जो लोग सगाई या बच्चे पैदा करने की योजना बना रहे हैं, उन्हें इंतजार करना पड़ सकता है। साथ ही आपको इस बात को भी समझना होगा कि दोस्ती हमेशा सही नहीं होती है। आपको नए व्यावसायिक प्रयासों में विलंब हो सकता है।

हमारे ज्योतिषी आपको सलाह देते हैं कि कोई भी कानूनी समझौता करने से पहले अच्छी तरह सोच-विचार कर लें। आप एक मजबूत वित्तीय स्थिति में हो सकते हैं। इसके अलावा, आपको पैसों की समस्या से निपटने का कोई रास्ता मिल सकता है।

कुंभ राशि

इस राशि के जातकों का सामान्य स्वास्थ्य अनुकूल हो सकता है। आप जो भी बीमारी का सामना कर रहे हैं, उससे आपको छुटकारा मिल सकता है। आपको अपने ख़र्चों में सावधानी बरतने की आवश्यकता है, क्योंकि यह सौंपी गयी राशि से अधिक हो सकता है। माता को लेकर भी आप चिंतित हो सकते हैं। दोस्तों से आपको फायदा हो सकता है।

यदि आपके बड़े भाई-बहन अविवाहित हैं, तो उनके विवाह के अवसर बढ़ सकते हैं। साथ ही हृदय संबंधित जातक सावधानी बरतें। आप संपत्ति से जुड़े कानूनी विवादों में फंस सकते हैं। आप अपने पुराने घर को बेच सकते है और आपके लिए नया निवेश खतरनाक साबित हो सकता है। संपत्ति के मुद्दों के परिणामस्वरूप आप अधिक तनावग्रस्त और निराश महसूस कर सकते हैं।

मीन राशि

इस ग्रहण के कारण मीन राशि के जातकों के लिए सफलता और वित्तीय लाभ की संभावना को बढ़ सकती हैं और प्रॉपर्टी से जुड़े मामले सुलझ सकते हैं। आपके लिए नया घर लेना संभव हो सकता है। आप अपने निवास के लिए एक संपत्ति,  कार या साज-सज्जा में निवेश कर सकते हैं। नए प्रयासों को लेकर लगातार अराजकता दिखाई दे सकती है।

हस्ताक्षर किए जाने से पहले आपको किसी भी कानूनी कागजी कार्रवाई का सावधानीपूर्वक अध्ययन करना चाहिए। इसके अलावा, अपने स्वास्थ्य के संबंध में भी सावधानी बरतें। माता-पिता के स्वास्थ्य में उतार-चढ़ाव आ सकता है। 2023 में सूर्य ग्रहण के प्रभाव से मीन राशि के जातकों को पेट से संबंधी समस्याएं, चिंता और त्वचा संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। अभी छोटे बच्चों के लिए यह अच्छा समय नहीं है। आपका आपके पड़ोसी के साथ झगड़ा हो सकता हैं।

अधिक के लिए, हमसे Instagram पर जुड़ें। अपना साप्ताहिक राशिफल पढ़ें।

 1,518 

Posted On - March 14, 2023 | Posted By - Jyoti | Read By -

 1,518 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

अधिक व्यक्तिगत विस्तृत भविष्यवाणियों के लिए कॉल या चैट पर ज्योतिषी से जुड़ें।

Our Astrologers

21,000+ Best Astrologers from India for Online Consultation