अग्नि तत्व राशि- राशिचक्र में अग्नि तत्व की राशियां, उनके गुण और मुख्य विशेषताएं

अग्नि तत्व की राशियां
WhatsApp

ज्योतिष शास्त्र में बारह राशियां होती हैं और हर राशि का अपना अलग गुण धर्म होता है। हालांकि तत्व के अनुसार राशियों में कुछ समानताएं भी देखी जा सकती हैं। राशियों को अग्नि, पृथ्वी, वायु और जल तत्व में वर्गीकृत किया गया है। तीन राशियां एक तत्व से संबंधित होती हैं। ऐसे में आज हम आपको अग्नि तत्व से जुड़ी तीन राशियों के बारे में बताने जा रहे हैं।

अग्नि तत्व से जुड़ी राशियां 

मेष, सिंह और धनु वह तीन राशियां हैं जिनको अग्नि तत्व से संबंधित माना जाता है। इन तीनों राशियों के स्वामी ग्रह भले ही अलग-अलग हों लेकिन एक ही तत्व से संबंधित होने के कारण इनमें कुछ समानताएं देखी जाती हैं।

अग्नि तत्व की राशियों की समानताएं

जिस तरह सूर्य में हमेशा अग्नि प्रज्वलित रहती है उसी तरह अग्नि तत्व की राशियों में भी आग की तरह ज्वाला देखी जा सकती है। मेष, सिंह और धनु राशि के लोग हमेशा क्रियाशील रहते हैं और इनको शांत बैठे रहना पसंद नहीं आता। इन तीन राशियों के जातक दृढ़ इच्छा शक्ति वाले होते हैं और जो ठान लेते हैं उसे करके ही दम लेते हैं। हालांकि कई बार ये लोग जल्दबाजी में फैसला लेकर मुसीबतों में भी पड़ जाते हैं लेकिन बावजूद इसके भी यह निराश नहीं होते। 

मेष राशि

अग्नि तत्व की पहली राशि मेष है और काल पुरुष की कुंडली में भी इसका स्थान पहला ही है। इस राशि का स्वामी ग्रह मंगल है। मेष सूर्य की उच्च राशि भी है। अग्नि तत्व का प्रभाव मेष राशि के लोगों को ऊर्जा और साहस देता है। इस राशि के लोगों का चंचल स्वभाव कई बार इनको बुरी स्थिति में डाल देता है लेकिन यदि यह लोग अपनी चंचलता पर काबू पा लें तो जीवन में कामयाबी अवश्य पाते हैं।

सिंह राशि 

अग्नि तत्व की दूसरी राशि सिंह है। इस राशि का स्वामी ग्रह सूर्य है इसलिए स्वाभाविक है कि इनके व्यक्तित्व में भी तेज देखा जाता है। सूर्य ग्रहों का राजा है और अग्नि का स्रोत है इसलिए इस राशि के लोग भी राजा की तरह जिंदगी जीना पसंद करते हैं। इनमें नेतृत्व करने की क्षमता होती है इसलिए राजनीति के क्षेत्र में ऐसे लोग अच्छा प्रदर्शन करते हैं। इनकी सबसे बड़ी कमजोरी इनका अत्यधिक आत्मविश्वास है जिसके कारण कई बार इनके काम बिगड़ते हैं। 

धनु राशि

अग्नि तत्व की तीसरी राशि धनु है। इस राशि का स्वामी ग्रह बृहस्पति देव हैं जिनको सभी ग्रहों का गुरु कहा जाता है। इन लोगों में ज्ञान और साहस की अधिकता देखी जाती है। इसलिए धनु राशि के लोग अध्यापन, सेना आदि क्षेत्रों में अच्छा नाम कमाते हैं। इस राशि के लोग शोध आदि कार्यों को भी अच्छी तरह से अंजाम दे पाते हैं। वाणी पर नियंत्रण न रख पाना इनकी कमजोरी है, यदि धनु राशि के लोग वाणी पर नियंत्रण कर दें तो इन्हें जीवन में सफलता अवश्य मिलती है। 

अग्नि तत्व की राशि वालों को जीवन में संतुलन बनाने के लिए और जीवन को सफल बनाने के सूर्य देव की उपासना अवश्य करनी चाहिए। इसके साथ ही ज्योतिषीय सलाह लेना भी आपके लिए कारगर साबित हो सकता है।

साथ ही आप पढ़ सकते हैं शनि की दृष्टि का आपके जीवन पर प्रभाव

 3,051 

WhatsApp

Posted On - May 7, 2020 | Posted By - Naveen Khantwal | Read By -

 3,051 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

Our Astrologers

1500+ Best Astrologers from India for Online Consultation