राशि अनुसार जानें जून में होने वाला चंद्र ग्रहण आप पर कैसा असर डालेगा

राशि अनुसार जानें जून में होने वाला चंद्र ग्रहण आप पर कैसा असर डालेगा

चंद्र ग्रहण

जून में घटित होने वाला पूर्ण चंद्र ग्रहण गर्मी में और इजाफा कर सकता है। शुक्रवार, 5 जून, 2020 (12:12 PM ) को 15 ° 34′ में धनु राशि में पूर्ण चंद्र / चंद्र ग्रहण शुरु होगा। 

यह ग्रहण पुरानी ऊर्जा और भावनाओं को दूर करने और नई प्रेरणा के लिए रास्ता खोलेगा! विस्तारक ग्रह बृहस्पति द्वारा शासित, धनु राशि में यह ग्रहण लोगों में स्वतंत्रता की भावना को बल देगा और इन भावनाओं को पूरा करने की क्षमता भी देगा। लेकिन वर्तमान में बृहस्पति मकर राशि में वक्री है और प्लूटो के साथ स्थित है, जो यह दर्शाता है कि हमारी क्षमता से बाहर की ऊर्जाएं हमारे कार्यों को नियंत्रित करने की कोशिश करेंगी।

लेकिन धनु राशि के विशेष गुण आशावाद के जरिये हम सीमाओं में रहते हुए भी अपनी स्वतंत्रा को हासिल कर सकते हैंं। बृहस्पति देव का आशीर्वाद हमको सही मार्ग तलाशने में मदद करेगा इसलिए हमें बेहतर की तलाश जारी रखनी चाहिए। 

धनु राशि में चंद्र ग्रहण का अर्थ क्या है?

यह ग्रहण सीखने और विकास के लिए रोमांचक अवसर लेकर आएगा। लेकिन इस दौरान ज्ञान प्राप्त करने के लिए, हमें अपने दिमाग को खुला रखना होगा। मिथुन राशि में सूर्य हमें भान कराता है कि: हम कितना भी सोचें की हम ज्ञानी हैं लेकिन तब भी सीखने को कुछ न कुछ होता ही है। मिथुन राशि में शुक्र वक्री के साथ, हमारी कई पुरानी मान्यताएं, रुचियां, और मूल्य अब हमसे दूर हो सकते हैं। 

इस ग्रहण का “मज़ेदार” हिस्सा अधिक चुनौतीपूर्ण है, क्योंकि मीन राशि में चंद्रमा और सूर्य दोनों ही मंगल के साथ एक संपर्क में आएंगे। यह संयोग वैचारिक मतभेद और विवादों को हवा दे सकता है। मंगल का नेपच्यून के साथ युति में होना हमें यह महसूस करवा सकता है कि हम जो सोचते हैं वास्तविकता उससे बिल्कुल हटकर है। 

तनाव को कम करने के लिए सबसे अच्छा तरीका है कन्या राशि की विश्लेषणात्मक क्षमता का इस्तेमाल करना क्योंकि ग्रहों की युति के खेल में यह एक राशि है जिसपर कोई असर नहीं होगा। हम स्थिति को समझकर उसे सामान्य करने की अनायस कोशिश करने की बजाय अभ्यास करते हुए और स्व-धर्म का पालन करते हुए उसे ठीक कर सकते हैं।

इस समय  समाज में दमित और हाशिए पर चढ़ा दी गई आवाजें उठ सकती हैं और अपने हक की मांग कर सकती हैं। हम इन आवाजों को सुनकर डर सकते हैं लेकिन इन आवाजों को दबाने की बजाय सुनना चाहिए और समस्या का समाधान करना चाहिए। इन लोगों की आवाजों को सुनना और उनके अनुग्रह पर गौर करना हमारे अंदर भी अच्छाई को भर सकता है।

आईए अब जानते हैं कि राशिचक्र की सभी राशियों पर इस ग्रहण का क्या असर होगा और इस ग्रहण के दौरान क्या सावधानियां सबको बरतनी होंगी। 

पूर्ण चंद्र ग्रहण से कैसे प्रभावित होगी आपकी राशि जानें

मेष

जीवन एक यात्रा है मंजिल नहीं। इसलिए यदि आप बहुत अधिक समय तक (या तो शारीरिक या मानसिक रूप से) एक ही स्थान पर रहे, तो यह ग्रहण आपको भटका सकता है और इसस आपको गंभीर परिणाम मिल सकते हैं। फिर भी, अभी भीतर की खोज शायद बाहरी दुनिया की खोज से ज्यादा रोमांचक मेष राशि वालों के  लिए हो सकती  है।

वृषभ

जिंदगी की बड़ी से बड़ी समस्या को जो लोग इस वक्त सुलझा सकते हैं वो वृषभ राशि के जातक हैं। आप यह कहने से नहीं डरते कि हर कोई क्या सोच रहा है, इसके लिए आप दोस्ती को भी दाव पर लगा सकते हैं। हालांकि आपको यही सलाह दी जाती है कि किसी भी तरह के ड्रामे से बचें खासकर सोशल मीडिया पर होने वाली बातचीत के दौरान। 

मिथुन

मिथुन राशि वालों के लिए यह फिर से प्यार में गिरने का समय है, हाल ही में, आप उन अहसासों की तलाश कर रहे थे जिन्होंने आपको अपने होने का अहसास कराया। लेकिन आप अपने बारे में क्या सोचते हैं और दूसरों के आपके बारे में क्या विचार हैं यह दोनों बहुत अलग चीजें हैं। यदि वे आपके असली रुप को नहीं समझ सकते तो यह उनकी अपनी समस्या है।

कर्क

आपके काम ही आपके लिए पूजा है, लेकिन इसके साथ ही कर्क राशि के लोग हमेशा कुछ नया करने के लिए तरसते हैं। इस ग्रहण के दौरान आपको महसूस होगा कि आपकी आत्मा में कुछ हलचल हो रही है। ज़िंदगी को अर्थ देने के लिए अकेले जिम्मेदारियाँ पर्याप्त नहीं हैं, इसलिए सुनिश्चित करें कि आप एक समृद्ध आंतरिक रिश्ता भी बना रहे हैं।

सिंह

खुद की सच्चाईयों को समझें! इस ग्रहण के समय, आपके जीवन में व्यक्तित्व में निखार लाने से अहम और कुछ नहीं होना चाहिए। आपको अपनी विशिष्ट शैली को कभी-कभी विकसित करने वाले मानदंडों और रुझानों के अनुकूल बनाना होगा। यह आपके मूल्यों के साथ समझौता करने के बारे में नहीं है, बस उन्हें मूर्त रूप देने के नए तरीके खोजने को लेकर है।

कन्या

अपनी बुनियाद की तरफ लौटें। यह ग्रहण आपको उन यादों, परंपराओं और पारिवारिक संबंधों से जोड़ देगा जो आपकी आत्मा को पोषण देते हैं। हालाँकि आप इस बात को समझने से कतराएंगे क्योंकि आप अपनी समझदारी से भटके हुए हैं – इसलिए अब खुद को संभालने की कोशिश करें और खुद में अच्छे बदलाव लाएं।

तुला

“अपने दिमाग को मुक्त करें और विचारों को बहने दें।” तुला राशि के जातकों के लिए यह ग्रहण अच्छा रह सकता है! आप मानसिक परेेशानियों से दूर हो सकते हैं, इसके साथ ही पिछली मान्यताओं पर पुनर्विचार कर सकते हैं, और अपने विचारों में सकारात्मक बदलाव लाकर दुनिया में अपना नाम बना सकते हैं।

वृश्चिक

आपके लिए यह चंद्र ग्रहण बहुत अच्छा नहीं कहा जा सकता है। कुछ चीजें असहज हो सकती हैं और कोई बाहरी तत्व आपको इस असहजता में डालने पर मजबूर कर सकता है। ऐसा इसलिए हो सकता है कि कई बार आप कुछ ऐसी चीजों को अपने जीवन में जगह दे देते हैं जो आपक लिए सही नहीं है। इस ग्रहण के दौरान आपको अपनी ग्रहणशीलता पर पुनर्विचार करने की आवश्यकता है। 

धनु

आप एक छात्र की तरह हैं इसलिए रिश्तों से आप बहुत कुछ सीखते हैं। लेकिन इस ग्रहण में, आप बीतेे रिश्तों से वर्तमान के रिश्तों का सबक सीखेंगे। इन अनुभवों से आपको पता चलेगा कि आप अतीत में क्या थे और वर्तमान में क्या हैं।

मकर

इस ग्रहण के दौरान यदि कोई यथार्थवादी बनकर रहेगा तो वो आप हैं। आप लोगों को झूठी उम्मीद देने से बचें तो अच्छा रहेगा, नहीं तो गलत दिशा में जा सकते हैं। यह ग्रहण आपके आंतरिक आशावादी रुप को बाहर लाएगा, वो भी तब जब आपको इसकी सबसे ज्यादा आवश्यकता होगी।

कुंभ

कुंभ राशि के लोगों को अपने विचारों को साफ करने की जरुरत है! दीर्घकालिक योजना, लक्ष्य या रचनात्मक परियोजना की स्थिति की जाँच करने का समय है। वर्तमान में उपलब्ध संसाधनों के साथ आपके विचार कमजोर हो सकते हैं। लेकिन हार न मानें और बुराई में अच्छाई देखने की कोशिश करें।

मीन

आपकी परवरिश आपको एक विशेष मार्ग पर ले जाती है। लेकिन अब जीवन के महत्वपूर्ण सवालों का जवाब देने का समय है! यह ग्रहण आपके जीवन के उद्देश्य के बारे में नई अंतर्दृष्टि का का अवलोकन कराएगा, जो चीजें आपको अच्छाई पर आगे बढ़ने से रोकती हैं उन्हें दूर करने की कोशिश करें।

यह भी पढ़ें- इन 7 कारणों से माता लक्ष्मी घर दूर चली जाती हैं

 250 total views


Tags: ,

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *