30 जून 2020 को गुरु करेंगे धनु में प्रवेश, जानिए क्या होगा आपकी राशि पर असर

30 जून 2020 को गुरु करेंगे धनु में प्रवेश, जानिए क्या होगा आपकी राशि पर असर
WhatsApp

ज्योतिष शास्त्र में बृहस्पति को गुरु का दर्जा प्राप्त है और इसके प्रभाव से व्यक्ति को यश, ख्याति, संतान, आरोग्य की प्राप्ति होती है। गुरु ग्रह 30 जून 2020 को अपनी राशि धनु में प्रवेश करने जा रहा है। धनु राशि में बृहस्पति की स्थिति का सभी राशियों पर प्रभाव पड़ेगा। बृहस्पति ग्रह 20 नवंबर तक इसी स्थिति में रहेगा। आईए अब विस्तार से जानें कि बृहस्पति की इस स्थिति का सभी 12 राशियों के जातकों पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

मेष

गुरु की स्थिति का आपके जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। कारोबारी और नौकरी पेशा लोगों को कार्यक्षेत्र में उन्नति मिल सकती है। बेवजह की चिंताएं दूर होंगी और धार्मिक क्रियाकलापों में रुचि जगेगी। अपने शारीरिक स्वास्थ्य के प्रति भी जागरुक होंगे और सेहत को दुरुस्त करने के लिए कदम बढ़ाएंगे।

वृषभ

देव गुरु बृहस्पति आपके आठवें भाव में होंगे जिसके कारण आपके अंदर गूढ़ रहस्यों को जानने की इच्छा जगेगी। आप ज्योतिष, आध्यात्म या विज्ञान के गूढ़ रहस्यों को जानने की कोशिश कर सकते हैं।

इस राशि के विद्यार्थियों के लिए यह समय अच्छा रह सकता है। हालांकि आपको अपने सेहत का इस दौरान ख्याल रखना चाहिए।

मिथुन

गुरु के धनु राशि में स्थित होने से आपका सप्तम भाव सक्रिय होगा। यह भाव विवाह और साझेदारी का होता है। इस भाव में गुरु के होने से आपके वैवाहिक जीवन में अच्छे बदलाव आ सकते हैं।

परिवार में कोई नया सदस्य दस्तक दे सकता है। अपने जीवनसाथी के साथ साझेदारी में कोई व्यापार शुरु कर सकते हैं। उच्च शिक्षा अर्जित कर रहे छात्रों के लिए भी यह समय अच्छा रहेगा।

कर्क

इस राशि वालों के लिए बृहस्पति का धनु राशि में स्थित होना बहुत शुभ नहीं कहा जा सकता। आपको अपनी सेहत का बहुत ख्याल रखने की जरूरत है। आपके विरोधी भी सक्रिय हो सकते हैं और आपके खिलाफ षडयंत्र रच सकते हैं। इसलिए आपको बहुत सतर्कता से इस दौरान रहना चाहिए।

सिंह

सूर्य के स्वामित्व वाली सिंह राशि के जातकों के पंचम भाव में देव गुरू उपस्थित रहेंगे जिसके कारण इनकी बौद्धिक क्षमता में वृद्धि होगी। छात्र-छात्राओं के लिए समय अच्छा रहेगा। प्रेम से जुड़े मामलों में अपने अहम को दूर रखेंगे तो खुशियां आएंगी।

कन्या

माता के स्वास्थ्य को लाभ होगा क्योंकि देव गुरु आपके चतुर्थ भाव में विराजमान होंगे। पारिवारिक जीवन में खुशियां लौटेंगी। स्वास्थ्य को दुरुस्त करने के लिए लगातार प्रयास करने की जरुरत है। इस दौरान इस राशि के कुछ जातक मनोरंजन के साधनों पर धन खर्च कर सकते हैं।

तुला

यदि आपके छोटे भाई-बहन हैं तो उनके साथ इस दौरान आपके रिश्ते सुधरेंगे। इसके साथ ही उनके सहयोग से आपको और उनको भी कोई मुनाफा हो सकता है। कार्यक्षेत्र में अपनी कार्यक्षमता से उच्च अधिकारियों को प्रभावित कर पाने में आप सफल रहेंगे।

वृश्चिक

आपके आर्थिक हालात इस दौरान सुधरेंगे, द्वितीय भाव में विराजमान बृहस्पति आपको लाभ देगा। किसी को उधार दिया था तो वह वापस मिल सकता है। आपके व्यवहार में भी अच्छे बदलाव होंगे और वाणी में मिठास आएगी।

धनु

आपकी मानसिक स्थिति सुधरेगी क्योंकि गुरु आपकी ही राशि में विराजमान होंगे। नई जानकारियां और ज्ञान इक्कठा करेंगे। आपके लिए धन लाभ के योग भी इस दौरान बन सकते हैं। आपके विचारों से लोग प्रभावित होंगे और समाज में आपकी प्रतिष्ठा बढ़ेगी।

मकर

आपके लिए गुरु की स्थिति बहुत अच्छी नहीं कही जा सकती, द्वादश भाव में गुरु के विराजमान होने से आपके खर्चे बढ़ सकते हैं। इस दौरान आपको जमा किये धन का दुरुपयोग करने से बचना चाहिए। विदेशों से इस राशि के लोगों को लाभ होने की संभावना है।

कुंभ

गुरु का धनु राशि में स्थित होना आपको कई तरह के लाभ दिला सकता है। यदि आप लंबे समय से किसी कार्य को कर रहे थे और अभी तक उसमें सफलता नहीं मिली थी तो अब मिल सकती है। धन लाभ के भी योग हैं। यदि आपके बड़े भाई-बहन हैं तो उनके साथ अच्छा समय इस दौरान आप बिता सकते हैं।

मीन

बृहस्पति आपकी राशि के स्वामी हैं जोकि इस दौरान आपके दशम भाव में रहेंगे। गुरु की यह स्थिति आपको कारोबार और नौकरी में उन्नति दिलाएगी। इसके साथ ही पिता के साथ आपके संबंधों में भी निखार आ सकता है। कुछ लोग इस दौरान अपना कारोबार भी शुरु कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- कभी धोखा नहीं देती इन दो राशियों की लड़कियां, प्रेमी का देती हैं हमेशा साथ

 1,097 

WhatsApp

Posted On - June 29, 2020 | Posted By - Naveen Khantwal | Read By -

 1,097 

क्या आप एक दूसरे के लिए अनुकूल हैं ?

अनुकूलता जांचने के लिए अपनी और अपने साथी की राशि चुनें

आपकी राशि
साथी की राशि

Our Astrologers

1500+ Best Astrologers from India for Online Consultation