इन राशियों के लोग होते हैं जोरू के गुलाम, कहीं आप भी तो नहीं इनमें शामिल, जानें

इन राशियों के लोग होते हैं जोरू के गुलाम, कहीं आप भी तो नहीं इनमें शामिल, जानें

जोरू के गुलाम

विवाह एक ऐसा बंधन है जिसको समाज में बहुत जरूरी माना जाता है। हालांकि शादी के बाद पति पत्नी के बीच कई बार ऐसी स्थिति आती है कि वह एक दूसरे पर हावी होना चाहते हैं। बहुत कम ही ऐसे जुड़े होते हैं जिनके बीच नोकझोंक ना हो। नोकझोंक का मुख्य कारण आपसी मनमुटाव तो होता ही है साथ में कई बार एक दूसरे की बात को उस तरह से न समझ पाना जिस तरह से वह कहना चाहता है यह भी एक मुख्य वजह है। हर लड़का चाहता है कि उसकी पत्नी उसके हिसाब से चलें और हर पत्नी चाहती है कि उसका पति उसकी हर बात माने। ऐसे में कुछ लड़के ऐसे होते हैं जो शादी के बाद जोरू के गुलाम बन जाते हैं।  

लेकिन यह बहुत कम मामलों में ही संभव हो पाता है। ऐसे में हम आज आपको बताने जा रहे हैं कि वह कौन से राशियां होती हैं जो जोरु की गुलाम यानी कि अपनी पत्नी के कहने पर चलने वाले होते हैं। हर पत्नी यही चाहती है कि उनका पति उनकी बातों को माने और वह जैसा चाहती हैं उस तरह से चले। अगर आप भी ऐसा ही सोचते हैं तो आपके लिए किन राशियों के जातक सबसे अच्छे होंगे उनके बारे में हम आज आपको बताने जा रहे हैं।

जोरू के गुलाम होते हैं इन राशियों के जातक

सिंह राशि

यह अग्नि तत्व की राशि है जिसका स्वामी ग्रह सूर्य है। हालांकि इस राशि के लोग आसानी से किसी की बात मानते नहीं हैं लेकिन जब इनकी शादी हो जाती है तो यह अपनी पत्नी को पूरा समय देते हैं और उनके साथ समय बिताते हैं। यदि इनकी पत्नी को इनकी कोई बात पसंद नहीं है तो उसे भी यह बहुत जल्दी छोड़ देदे हैं। अपनी बीवी का प्यार-दुलार करना इनको बहुत भाता है। शादी के बाद यह बाकी रिश्तों पर इतना ध्यान नहीं देते जितना शादी से पहले देते हैं। तो कह सकते हैं कि इस राशि के जातक शादी के बाद जोरू के गुलाम बन जाते हैं।  

मकर राशि

शनि के स्वामित्व वाली इस राशि के लोग यूं तो बहुत जिद्दी और अपने मन की करने वाले होते हैं लेकिन एक बार शादी होते ही इनके सुर बदल जाते हैं। यह अपनी बीवी को अपने हर अच्छाई-बुराई को शेयर कर देते हैं। अपनी पत्नी के प्रति यह पूरी तरह से समर्पित होते हैं। इसलिए इनके दांपत्य जीवन में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव भी नहीं आते हैं। यह लोग अपने से ज्यादा अपने रिश्ते को अहमियत देते हैं। हालांकि शादी के बाद भी यह अपने बाकी रिश्तों पर भी पूरा ध्यान देते हैं और हर किसी के साथ मिलजुलकर रहना पसंद करते हैं। 

कुंभ राशि

इस राशि के जातकों के लिए विवाह एक पवित्र बंधन होता है। इसलिए शादी के बाद यह रिश्ते में संगतता बनाए रखने के लिए अपनी पत्नी के साथ समय बिताते हैं और रिश्ते को मजबूती देने के लिए अपनी पत्नी की बात मान भी लेते हैं। इस राशि के लोगों को बस अपने जीवनसाथी से यह उम्मीद होती है कि वह जिस तरह से अपने आसपास के लोगों से अच्छा व्यवहार करते हैं वैसा ही अच्छा व्यवहार उनका साथी भी करे।  यदि कभी पत्नी इनसे खफा हो जाए तो यह गिले-शिकवे दूर करने के लिए तुरंत पहल करते हैं।

मीन राशि

यह जलतत्व की राशि है इसलिए इस राशि के लोगों में सहलनशीलता देखी जाती है और यह लोग किसी से ज्यादा बातें करना भी पसंद नहीं करते। हालांकि जब इनकी शादी हो जाती है तो यह अपनी पत्नी को अपने दिल का हर हाल सुनाते हैं और चाहते हैं कि जीवनसाथी उनको समझे। इसके साथ ही विवाहित जीवन को आनंदित करने के लिए यह लोग अपनी पत्नी की ख्वाहिशों को भी पूरा करते हैं। हालांकि यदि इनका जीवनसाथी इनके परिवार वालोंं के साथ अच्छा व्यवहार नहीं करता तो यह लोग बहुत बुरा मान जाते हैं। बावजूद इसके भी यह अपनी पत्नी को पूरा सम्मान देते हैं। कुल मिलाकर यह जोरु के गुलाम इसलिये भी होते हैं कि जीवन में किसी तरह की परेशानियां न आएं। 

यह भी पढ़ें- सुशांत केस में रिया का काला जादू कनेक्शन, ‘रिया की मां तांत्रिक लेकर आती और ..’

 177 total views


Tags:

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *